Hindi News »Punjab »Ludhiana» 15 Thousand To The Border To Send Mother To Daughter To Saudi

मां-बेटी को सउदी भेजने पर सीमा को मिले थे 15 हजार, वो भी साथी ले गया

पुलिस ने गिरफ्तार की गई संदीप उर्फ सीमा का कोर्ट में सोमवार तक का रिमांड हासिल कर लिया है।

bhaskar news | Last Modified - Nov 06, 2017, 04:52 AM IST

  • मां-बेटी को सउदी भेजने पर सीमा को मिले थे 15 हजार, वो भी साथी ले गया
    नवांशहर.राहों के गांव गढ़ी फतेह खां की मां-बेटी को मलेशिया की बजाए सउदी अरब भेजने के मामले में नामजद तीन आरोपियों में से एक आरोपी को भले ही पुलिस ने पकड़ लिया है लेकिन दोनों प्रमुख आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं।

    पुलिस ने गिरफ्तार की गई संदीप उर्फ सीमा का कोर्ट में सोमवार तक का रिमांड हासिल कर लिया है। गुरबख्श कौर और उनकी बेटी रीना को सउदी अरब भेजने के लिए सीमा को दिल्ली की ट्रेवल एजेंट नेहा से कमीशन के तौर पर 15 हजार रुपए मिले थे। सीमा ने पुलिस रिमांड में बताया कि मां-बेटी को सउदी अरब भेजने के लिए उसे जो कमीशन के 15 हजार रुपए मिलने थे, वह भी उसे नहीं मिल पाए क्योंकि उसके खाते में 15 हजार रुपए ट्रांसफर हुए थे, मगर उसका एटीएम उसके साथी कुलविंदर सिंह के पास था और उसी ने पैसे निकलवा लिए। ऐसे में उसे कुछ भी नहीं मिल पाया। सीमा ने पुलिस पूछताछ में बताया कि वह खुद भी सउदी अरब में रह चुकी है और वहां से वापस लौटने के बाद वह राहों के पास एक फैक्टरी में काम करने लगी। वहीं पर उसने लोगों को विदेश भेजने का काम नकोदर के गांव अंगाकिरी निवासी कुलविंदर सिंह के साथ शुरू किया। दोनों ने दिल्ली की रहने वाली ट्रेवल एजेंट नेहा के माध्यम से ही गुरबख्श कौर और रीना को सउदी अरब भेजा था।

    सीमा से पूछताछ के बाद पुलिस ने दोनों मुख्य आरोपियों नेहा और कुलविंदर सिंह की तलाश में दिल्ली और नकोदर में छापेमारी की लेकिन वे पकड़ में नहीं आए हैं। गुरबख्श कौर के सउदी अरब से वापस लौटने के बाद बेटी के बारे में पता लगाना तब तक संभव नहीं, जब तक दिल्ली की रहने वाली एजेंट नेहा गिरफ्त में नहीं आ जाती। नकोदर की रहने वाली संदीप उर्फ सीमा और कुलविंदर सिंह नेहा के अंडर ही काम करते थे और ऐसे में नेहा ही गुरबख्श कौर की लापता बेटी रीना तक पहुंचने की कड़ी है।
    सउदी अरब में शेखों ने गुलामों जैसा रखा : गुरबख्स कौर
    कुछ दिन पहले गांव गढ़ी फतेह खां निवासी गुरमेल सिंह ने पुलिस को दिए बयान में बताया था कि उनकी पत्नी गुरबख्श कौर और बेटी रीना को तीन ट्रेवल एजेंटों ने धोखे से मलेशिया की बजाए सउदी अरब भेज दिया था। एसएसपी और डीसी ने यह मामला विदेश मंत्रालय के समक्ष उठाया था। वहीं गुरबख्श कौर ने बताया कि वहां पर शेखों ने गुरबख्श कौर को गुलामों के जैसा रखा। गुरबख्श कौर विदेश मंत्रालय और वहां रहने वाले पंजाबी लड़कों की मदद से शनिवार को ही वापस गांव लौटी हैं।
    आरोपियों तक पहुंचने के लिए की जा रही है छापेमारी
    डीएसपी डीएसपी मुख्तयार राय ने बताया कि मामले को लेकर पुलिस प्रशासन काफी गंभीर है और गिरफ्तार की गई आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने दोनों आरोपियों की तलाश कर रही है। उन्होंने कहा कि जल्द ही पुलिस दोनों आरोपियों को पकड़ लेगी।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ludhiana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×