--Advertisement--

लेडी टीचर के सीने में स्टूडेंट ने मारी 4 गोलियां, मां बोलीं- इसलिए डांटती थी बच्चों को

चार गोलियां मारकर हत्या करने का आरोपी स्टूडेंट शिवांश पहले भी रिवॉल्वर लेकर स्कूल में आ चुका है।

Danik Bhaskar | Jan 21, 2018, 03:41 AM IST
मृतका के पति और बेटा। मृतका के पति और बेटा।

लुधियाना. स्वामी विवेकानंद स्कूल में 12वीं के स्टूडेंट ने महिला प्रिंसिपल को गोली मार दी। जख्मी प्रिंसिपल की करीब 2 घंटे बाद इलाज के दौरान मौत हो गई। आरोपी स्टूडेंट को पुलिस ने अरेस्ट कर लिया है। वारदात के बाद जब लोगों ने आरोपी स्टूडेंट को पकड़कर इसकी वजह पूछी तो उसने कहा- प्रिंसिपल मुझे परेशान करती थी। बता दें कि रितु छाबड़ा की उसके स्टूडेंट ने 4 गोली मारकर हत्या कर दी है। रितु शहर के चौड़ी सड़क इलाके में मेडिकल, लैब व जिम ओनर मशहूर डॉ. केएल खैरा की बेटी थीं। वो लोहड़ी पर मायके आई थी। घटना के ठीक पहले उन्होंने मां से भी बात की थी।

इसलिए डांटती थी स्टूडेंट को

खुद पढ़ाई में होशियार रहीं रितु हमेशा छात्रों के अच्छे भविष्य की चिंता करती थीं, इसलिए वह गोली मारने वाले बिगड़ैल स्टूडेंट को डांटती, समझाती थीं। रितु के पति राजेश छाबड़ा का चाउमीन सप्लाई का बिजनेस है। छोटा बेटा रोहिन कुरुक्षेत्र एनआईटी से इंजीरियरिंग कर रहा है जबकि बड़ा रीतेश कोलकाता में जॉब।

घटना के बाद उनके पिता, माता, भाई, भाभी सभी लुधियाना से यमुनानगर चले गए थे। देररात छोटे भाई रविश खैरा लौटकर आए। दूसरे भाई अरविंद खैरा ने बताया कि शनिवार सुबह ही मम्मी ने फोन कर हालचाल पूछा था, लेकिन स्कूल में काम आ जाने से बहन ने कहा कि बाद में बात करती हूं। तभी साढ़े ग्यारह बजे ही हमें दु:खद खबर मिली। 13 जनवरी को वह लुधियाना आई थीं। क्या मालूम था कि वो आखिरी मुलाकात होगी। वहीं, प्रोमिला खैरा ने कहा, ‘मेरी बेटी हमेशा कहती थी, मुझे टीचर बनना है। बीएड करके टीचर लग गई फिर भी पढ़ रही थी। अभी उसने एमएड किया। सोसायटी को ज्यादा से ज्यादा एजुकेट करना चाहती थी।

फेफड़े में फंसी गोली बनी मौत की वजह
सीने में चार गोलियां लगने से घायल हुई प्रिंसिपल रितु छाबड़ा (46) को स्कूल संस्था के ही स्वामी विवेकानंद अस्पताल में ले जाया गया। यहां पर करीब 30 मिनट तक डॉक्टर उन्हें बचाने की कोशिश करते रहे, लेकिन उनकी मौत हो गई। डॉक्टरों के अनुसार छाती में गोलियां लगी थीं। एक गोली उनके फेफड़े में फंस गई थी, वही मौत की वजह बनी। उधर, इस हत्याकांड के बाद मैनेजमेंट ने स्कूल को 22 जनवरी तक बंद करने का फैसला किया है।

गुरु का सम्मान करने के बजाय ऐसी घटना चौंकाने वाली
गवर्नमेंट कॉलेज फॉर गर्ल्स की पूर्व प्रिंसिपल प्रो. मनजीत सोढिया ने कहा किहमारे कॉलेज की स्टूडेंट के साथ हुई घटना से आहत हूं। एक शिष्य द्वारा अपने गुरु का सम्मान करने के बजाय ऐसी वारदात चौंका देने वाली घटना है। वहीं, एवीएम स्कूल के प्रिंसिपल और डॉ. खैरा के पड़ोसी आनंद सिंह ने कहा कि घटना से इलाके में शोक की लहर है।

पति ने बताया ये

राजेश छाबड़ा ने बताया कि शनिवार सुबह आठ बजे वह पत्नी को स्कूल छोड़कर आए थे। हर दिन 11 से 11.30 बजे दोनों के बीच मोबाइल पर बात होती है, लेकिन शनिवार को उनकी पत्नी का फोन नहीं आया और वे भी व्यस्त थे। इसी दौरान स्कूल से फोन आया कि उनकी पत्नी को चोट लगी है। वह स्कूल पहुंचे तो पता चला कि एक छात्र ने उन्हें गोली मार दी है। वहीं, छोटे बेटे राेहिन ने कहा, ‘टीचर के साथ भी कोई ऐसा कर सकता है, मैंने कभी नहीं सोचा था। मुझे कभी टीचर्स की डांट पड़ी तो उल्टा बोलने तक की हिम्मत नहीं की। मैं एनआईटी में पढ़ रहा हूं, लेकिन टीचर के सामने आज भी ऊंची आवाज में नहीं बोलता। मां ने यही संस्कार दिए हैं कि जो गुरु होते हैं, वह कभी बुरा नहीं सोचते। मां हमेशा बच्चों को उनके अच्छे भविष्य के लिए कहती थीं। सुबह 10:30 बजे मां से बातचीत हुई थी। नहीं पता था आखिरी बात है।’

आगे की स्लाइड्स में देखें फोटोज...

पति राजेश छाबड़ा और मृतका रितु छाबड़ा। पति राजेश छाबड़ा और मृतका रितु छाबड़ा।
मृतका रितु छाबड़ा। मृतका रितु छाबड़ा।
आरोपी स्टूडेंट आरोपी स्टूडेंट
रोते हुए रिलेटिव। रोते हुए रिलेटिव।
स्वामी विवेकानंद स्कूल। स्वामी विवेकानंद स्कूल।
मृतका के पति और बेटा। मृतका के पति और बेटा।
यमुनानगर स्थित घर पर शोक जताने पहुंचे हरियाणा विधानसभा के स्पीकर कंवरपाल गुर्जर (लोई ओढ़े) व अन्य भाजपा नेता। यमुनानगर स्थित घर पर शोक जताने पहुंचे हरियाणा विधानसभा के स्पीकर कंवरपाल गुर्जर (लोई ओढ़े) व अन्य भाजपा नेता।
शोक में डूबीं परिवार की महिलाएं। शोक में डूबीं परिवार की महिलाएं।
प्रिंसिपल बेटी की हत्या पर शहर में हर शख्स स्तब्ध है। प्रिंसिपल बेटी की हत्या पर शहर में हर शख्स स्तब्ध है।
मृतका का बेटा। मृतका का बेटा।
लुधियाना में स्थित मायके में पसरा मातम। लुधियाना में स्थित मायके में पसरा मातम।
पुलिस मौके पर जांच करती हुई। पुलिस मौके पर जांच करती हुई।
स्कूल 22 जनवरी तक बंद कर दिया गया है। स्कूल 22 जनवरी तक बंद कर दिया गया है।