--Advertisement--

कंटीली ताराें में फंसी थी बॉडी ; 7 फीट दूर पड़ा था कार का इंजन, एक्सीडेंट में 4 की मौत

दोस्त की बहन की शादी से लौट रहे थे, चार दोस्तों की मौत, दो जख्मी

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:14 AM IST
मृतक (बाएं से दाएं) जगजीवन कुमार, लवप्रीत सिंह, नवकिरण िसंह, रमन कंबोज मृतक (बाएं से दाएं) जगजीवन कुमार, लवप्रीत सिंह, नवकिरण िसंह, रमन कंबोज

पटियाला(अमृतसर). रविवार सुबह करीब साढ़े 5 ​​बजे पटियाला संगरूर रोड एविएशन क्लब के सामने एक तेज रफ्तार कार के आगे अचानक जानवर आने से कार अनियंत्रित होकर सड़क किनारे पेड़ से टकरा गई। हादसे में महिंदरा कॉलेज में पढ़ने वाले चार स्टूडेंट्स की मौत हो गई जबकि दो गंभीर जख्मी हो गए। दोनों को राजिंदरा अस्पताल से पीजीआई रेफर कर दिया गया। वहीं मौके पर पहुंची थाना मॉडल टाउन पुलिस चौकी इंचार्ज गुरदीप सिंह ने बताया कि मरने वाले सभी युवकों की उम्र 25 से 26 साल के बीच है। ये था मामला...

- 2 गाड़ियों में सवार 10 दोस्त अपने दोस्त रवि निवासी बठिंडा की बहन की शादी समारोह में शामिल होने के लिए बरनाला मैरीलैंड पैलेस में गए थे।

- सुबह करीब 3 बजे वे शादी से पटियाला के लिए रवाना हो गए। संगरूर रोड पर पहुंचते ही एक गाड़ी बाईपास रोड से दूसरी तरफ चली गई और स्विफ्ट डिजायर में सवार सभी 6 दोस्त शहर की ओर चल पड़े।

- एविएशन क्लब के पास कार के आगे आवारा पशु के आने के चलते गाड़ी अनियंत्रित होकर पेड़ से जा टकराई।

- हादसा इतना दर्दनाक था कि गाड़ी के पुर्जे-पुर्जे बिखर गए। यही नहीं टक्कर के बाद गाड़ी में सवार दाे युवक गाड़ी से बाहर जा गिरे, इनमें से एक की डेड बॉडी मिलिट्री एरिया के बाहर लगी कंटीली ताराें के पार मिली।

- मरने वालों की पहचान नवकिरण सिंह निवासी गांव दोदेवाल जिला अबोहर, जगजीवन कुमार निवासी बरेटा जिला मानसा, लवप्रीत सिंह निवासी लहरा मोहब्बत बठिंडा, रमन कंबोज निवासी गांव आलमशाह जिला फाजिल्का थे। रमन कंबोज का रविवार को ही अंतिम संस्कार कर दिया गया।

-

एयरबैग से बची दो युवकों की जान

- गाड़ी को चनप्रीत निवासी गांव बकतगढ़ जिला बरनाला चला रहा था। उसके साथ जशनदीप सिंह निवासी फेज 2 मोहाली बैठा हुआ था।

- जब हादसा हुआ तो कार के एयरबैग खुलने से दोनों की जान बच गई। जबकि पीछे की सीट पर बैठे चारों दोस्तों की मौके पर ही मौत हो गई।

जख्मी चनप्रीत सिंह ने बताया, एकदम से गाड़ी के सामने कुछ आया फिर कुछ नहीं पता चला

- राजिंदरा में अस्पताल में दाखिल चनप्रीत सिंह ने बताया कि वह अपनी गाड़ी में संगरूर रोड से पटियाला की अाैर आ रहे थे।

- एविएशन क्लब के पास पहुंचते ही पता नहीं गाड़ी के सामने कुछ आया जिसके बाद कुछ नहीं पता चला। जब उसकी आंख खुली तो वह अस्पताल में था।

क्षत्रिग्रस्त कार को देखते लोग। क्षत्रिग्रस्त कार को देखते लोग।
कार की स्पीड 160 किलोमीटर प्रति घंटा थी। कार की स्पीड 160 किलोमीटर प्रति घंटा थी।
मौके से मिली शराब की बोतल। मौके से मिली शराब की बोतल।
इस पिलर से टकराई गाड़ी। इस पिलर से टकराई गाड़ी।
कार का इंजन 7 फीट दूर पड़ा था। कार का इंजन 7 फीट दूर पड़ा था।
X
मृतक (बाएं से दाएं) जगजीवन कुमार, लवप्रीत सिंह, नवकिरण िसंह, रमन कंबोजमृतक (बाएं से दाएं) जगजीवन कुमार, लवप्रीत सिंह, नवकिरण िसंह, रमन कंबोज
क्षत्रिग्रस्त कार को देखते लोग।क्षत्रिग्रस्त कार को देखते लोग।
कार की स्पीड 160 किलोमीटर प्रति घंटा थी।कार की स्पीड 160 किलोमीटर प्रति घंटा थी।
मौके से मिली शराब की बोतल।मौके से मिली शराब की बोतल।
इस पिलर से टकराई गाड़ी।इस पिलर से टकराई गाड़ी।
कार का इंजन 7 फीट दूर पड़ा था।कार का इंजन 7 फीट दूर पड़ा था।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..