--Advertisement--

9 साल का दिलमीत 100 तक सुनाता है पहाड़े, ऐसे आई प्रतिभा सामने

बच्चों को उत्साह सम्मान देकर प्रेरित किया जाए तो ऐसे बच्चे आगे चलकर बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं।

Danik Bhaskar | Jan 08, 2018, 05:59 AM IST

मोगा. निहालसिंह वाला का दिलमीत गर्ग एक निजी स्कूल में तीसरी कक्षा का छात्र है। कस्बा निहाल सिंह वाला के एक मध्यवर्गीय परिवार पप्पू गर्ग और पूजा गर्ग के बेटे दिलमीत गर्ग को हिंदू धर्म के देवी देवताओं जैसे श्री राम, श्री कृष्ण, हनुमान जी, भगवान परशुराम आदि के बारे में काफी ज्ञान हासिल है।

वहीं सिख धर्म के दस गुरुओं के नाम, चार साहिबजादों के नाम, गुरु नानक देव जी से संबंधित साखियों बारे भी ज्ञान है। दिलमीत जुबानी 100 तक पहाड़ा सुनाता है।

दिलमीत की प्रतिभा उस समय सामने आई जब स्कूल की असेंबली के दौरान दिलमीत ने चैलेंज किया कि मुझसे कोई भी टेबल पहाड़ा सुनो। शिक्षा शास्त्री भूपिंदर सिंह ढिल्लों, डॉ. राजविंदर रौंता, हलका विधायक मनजीतसिंह, लेक्चरर जगतार सिंह ने कहा कि कला किसी जातपात, धर्म के बंधन में नहीं बांधी जा सकती। अगर ऐसे बच्चों को उत्साह सम्मान देकर प्रेरित किया जाए तो ऐसे बच्चे आगे चलकर बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं।

खेल में भी हमेश रहता है अव्वल
दिलमीत गर्ग को गणित के सवालों में विशेष महारत हासिल है। अपने रायल कॉन्वेंट स्कूल निहाल सिंहवाला में जीनियस ब्वाय के नाम से जाना जाता दिलमीत गणित के गुणा, जोड़-घटाने के सवाल कैलकुलेटर की तरह फटाफट बता देता है। इतना ही नहीं खेलों में भी हमेश अव्वल रहता है। उसकी प्रतिभा से उसके परिजन और स्कूल स्टाफ भी हतप्रभ है।