--Advertisement--

खाने के पैसे मांगने पर काटा था बच्चे का गला, फेंक दिया था रेलवे ट्रेक पर

आरोपी के खिलाफ बच्चे के पिता शौकत खान के बयान पर मामला दर्ज किया था।

Danik Bhaskar | Jan 03, 2018, 07:25 AM IST

लुधियाना. रोटी के पैसे मांगने पर गुस्साए युवक ने बच्चे का गला रेत दिया था और उसे मरा हुआ समझ कर रेलवे लाइनों पर फेंक दिया था। कार्रवाई करते हुए थाना शिमलापुरी की पुलिस ने युवक को गिरफ्तार कर लिया। युवक बच्चे के पड़ोस में रहने वाला बिहार का रहने वाला बिट्टू कुमार है। आरोपी को कोर्ट में पेश कर दो दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है। आरोपी के खिलाफ बच्चे के पिता शौकत खान के बयान पर मामला दर्ज किया था।


पुलिस को दिए बयान में शौकत ने बताया था कि उक्त आरोपी बिट्टू शिकायतकर्ता के घर पर खाना खाता था। इसके बदले वह शिकायतकर्ता को 2500 रुपए प्रति महीना देता था। आरोपी ने दो महीने के पैसे नहीं दिए थे। बार-बार शिकायतकर्ता उससे पैसे मांग रहा था। तीसरे महीने के पैसे भी न देने पर शिकायतकर्ता ने उससे फिर खाने के पैसे देने के लिए कहा और खाना देने से मना कर दिया। इसी बात से नाराज होकर आरोपी ने शिकातयकर्ता के 6 साल के बच्चे अरबाज को बहाने से बुला लिया और उसे घर से ले गया। उसे जान से मार देने की नीयत से उसका गला रेत दिया और उसे मरा हुआ समझ कर रेलवे लाइनों पर फेंक दिया था।

पुलिस को वारदात के पहले दिन से था आरोपी पर शक

इंस्पेक्टर मोहम्मद जमील ने बताया कि आरोपी पहले दिन से गायब था, जिस पर पुलिस को आरोपी पर शक था। इसी के चलते पुलिस आरोपी को पकड़ने के लिए रेड कर रही थी। आरोपी को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने आरोपी से वारदात के दौरान प्रयोग किया गया चाकू व अन्य सामान बरामद कर लिया। गौरतलब है कि जब आरोपी बच्चे को फेंक कर चला गया तो बच्चा खुद ही लाइनों के निकट झुग्गियों में चला गया और वहां पर लोगों ने उसे इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया और बच्चे के परिवार के लोगों को सूचित किया था।