--Advertisement--

पब्लिक टॉयलेट्स साफ या गंदा, बटन दबा दे सकेंगे फीड बैक, ये है तरीका

किसी व्यक्ति ने बटन दबाया तो उसका फीड बैक निगम अफसर के पास पहुंच जाएगा।

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2017, 03:05 AM IST
Feed back can be pressed

लुधियाना. अगर आप किसी पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल करने जाते हैं और वहां पर सफाई नहीं है तो आपको शिकायत करने के लिए किसी के पास जाने की जरूरत नहीं है। सिर्फ पब्लिक टॉयलेट के बाहर लगी मशीन का बटन दबा अपना फीड बैक दे सकते हैं। यह मशीन इंटरनेट के माध्यम से सीधे निगम अफसरों से जुड़ी होगी, जैसे ही किसी व्यक्ति ने बटन दबाया तो उसका फीड बैक निगम अफसर के पास पहुंच जाएगा।

स्वच्छता अभियान के तहत केंद्र सरकार ने पब्लिक टॉयलेट्स में फीड बैक मशीन को लगाना जरूरी कर दिया है। नगर निगम हेल्थ ब्रांच ने फीड बैक मशीन को लगाने के लिए प्रपोजल तैयार कर सरकार के पास भेज दिया है। फिलहाल सही ढंग से चल रहे 35 टॉयलेट्स में मशीनें लगने जा रही हैं। दूसरी तरफ स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत सिटी में 95 टॉयलेट्स को बनाया जाना है। जैसे नए टॉयलेट्स तैयार हो जाएंगे, उनमें भी पब्लिक के लिए फीड बैक सिस्टम लग जाएगा। पब्लिक का फीड बैक प्रोसेस शुरू होने पर स्वच्छता रैंक में निगम को अतिरिक्त नंबर भी मिलेंगे।

मशीन में होंगे तीन तरह के बटन
पब्लिक टॉयलेट्स का फीड बैक देने के लिए फीड बैक मशीन में तीन बटन लगे होंगे। पहला बटन गहरे हरे रंग का होगा। अगर कोई व्यक्ति इस बटन को दबाता है तो उसका मतलब होगा टॉयलेट साफ है। दूसरा बटन होगा हल्का ग्रीन इसे दबाने का मतलब होगा कि औसत साफ है यानी सफाई की और जरूरत है। सबसे आखिरी बटन लाल रंग का होगा। अगर कोई इस बटन को दबाता है तो सीधा मतलब है टॉयलेट की सफाई नहीं है। पब्लिक का यह फीड बैक निगम अफसरों के कंप्यूटर या फिर मोबाइल एप पर सीधे पहुंचेगा। फीड बैक पर निगम अफसरों को तुरंत कार्रवाई करते हुए साफ करवाना होगा। आगे चलकर निगम अफसर फीड बैक को तुरंत कार्रवाई के लिए समय को निर्धारित भी करेंगे, ताकि पब्लिक की शिकायत पर तुरंत कार्रवाई हो सके।

सर्वे में आम पब्लिक निभाएगी अहम रोल
हेल्थब्रांच इंजीनियर हरपाल सिंह औजला के अनुसार 4 जनवरी को केंद्र सरकार का स्वच्छता सर्वेक्षण शुरू होने जा रहा है। इस सर्वेक्षण में आम पब्लिक की भागीदारी सबसे अहम होगी। पब्लिक की भागीदारी बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार ने पब्लिक की प्रतिक्रिया पर 10 फीसदी अंकों का इजाफा कर दिया है। शहर में बने पब्लिक टॉयलेट्स में फीड बैक मशीन का इस्तेमाल होना इसी का एक हिस्सा है। फीड बैक मशीन लगते ही कोई भी व्यक्ति टॉयलेट के प्रति अपनी प्रतिक्रिया तुरंत दे सकता है। प्रतिक्रिया मिलते ही निगम अफसर तुरंत उस पर कार्रवाई करेंगे।

X
Feed back can be pressed
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..