Hindi News »Punjab »Ludhiana» Jagannath Rathyatra In Ludhiana

रॉक बैन्ड ने रथयात्रा में दी परफोर्मेंस, हाईटेक यात्रा में अंग्रेजों समय के रथ का हुआ यूज

रथयात्रा में इस बार 100 के करीब विदेशी भक्तजन भी शामिल हुए। उज्बेकिस्तान, कज़ाकिस्तान, यूक्रेन, अमेरिका के श्रृध्दालु।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 18, 2017, 04:44 AM IST

  • रॉक बैन्ड ने रथयात्रा में दी परफोर्मेंस, हाईटेक यात्रा में अंग्रेजों समय के रथ का हुआ यूज
    +8और स्लाइड देखें
    भगवान जगन्नाथ रथयात्रा

    लुधियाना. बहन देवी सुभद्रा, बड़े भैया बलराम के साथ पुष्प-पल्लव से सुसज्जित रथ पर विराजमान प्रभु जगन्नाथ अपने भक्तों के बीच तकरीबन 10 घंटे तक रहे। शहरवासियों पर कृपा बरसाने निकले माधव के रथ की डोर भक्तों के हाथ में थी। भक्त की मर्जी पर भगवान चल रहे थे। साथ में ढोल-नगाड़े, शंख, मंजीरे और हरी नाम संकीर्तन। दर्शन को लालायित लाखों भक्त, जहां-तहां पूजा पंडाल, लंगर, स्वागत द्वार और जगत पालक पर फूलों की वर्षा और दिव्यभोग का चढ़ावा। इसी के साथ रविवार को 22वीं भगवान जगन्नाथ रथयात्रा संपन्न हो गई।

    श्री दुर्गा माता मंदिर से दोपहर लगभग 2 बजे शुरू होकर रथयात्रा फव्वारा चौक, घुमारमंडी, आरती चौक और फिरोजपुर रोड होती हुई रात 12 बजे के आसपास सराभा नगर पहुंची। यहां पर भगवान की पूजा-अर्चना और आरती की गई। इसके बाद प्रभु विश्राम करने के लिए मंदिर में चले गए।

    नए डिजाइन का रथ, यात्रा डिजिटल

    रथयात्रा में इस बार 100 के करीब विदेशी भक्तजन भी शामिल हुए। उज्बेकिस्तान, कज़ाकिस्तान, यूक्रेन, अमेरिका व यूरोप से आए श्रद्धालुओं ने झूमते-गाते हुए प्रभु दर्शन का आनंद उठाया। पहली बार नामधारी पंथक एकता संस्था के 25 के करीब वॉलंटियर रथयात्रा का हिस्सा बने। इन्होंने पूरे श्रद्धाभाव से साफ-सफाई का जिम्मा संभाला। रथयात्रा में सारंग ठाकुर और ब्रजवधू के रॉक बैंड ने शुरुआत से लेकर आखिर तक हरे रामा हरे रामा हरे कृष्णा हरे कृष्णा, मंत्रों को रॉकिंग बनाकर प्रस्तुत किया। भक्तजन झूमने पर विवश हो गए। पहली बार भगवान के रथ को नए डिजाइन में सजाया गया, रथयात्रा हुई डिजिटल, लाइव प्रसारण।

    छप्पन भोग, भक्तों के लिए 56 तरह का लंगर

    जगन्नाथ जी को छप्पन भोग लगाने के लिए प्रसाद के साथ ही भक्तजनों के लिए 56 तरह का लंगर तैयार कराया था। इस पंडाल में जालंधर, लुधियाना, अमृतसर, दिल्ली, गुड़गांव, अम्बाला, राजस्थान के ीजें शामिल की गई थीं। पंडाल में 50 हजार भक्तजनों के लिए लंगर की व्यवस्था की गई। इस सेवा कार्य में कमल ढांडा के साथ उनके पारिवारिक सदस्य भी पूरे श्रद्धाभाव से साथ रहे। उन्होंने प्रसाद के तौर पर बांटने के लिए डेढ़ क्विंटल बेसन के लड्‌डू भी बनवाए थे।

  • रॉक बैन्ड ने रथयात्रा में दी परफोर्मेंस, हाईटेक यात्रा में अंग्रेजों समय के रथ का हुआ यूज
    +8और स्लाइड देखें
    प्रभु जगन्नाथ अपने भक्तों के बीच तकरीबन 10 घंटे तक रहे।
  • रॉक बैन्ड ने रथयात्रा में दी परफोर्मेंस, हाईटेक यात्रा में अंग्रेजों समय के रथ का हुआ यूज
    +8और स्लाइड देखें
  • रॉक बैन्ड ने रथयात्रा में दी परफोर्मेंस, हाईटेक यात्रा में अंग्रेजों समय के रथ का हुआ यूज
    +8और स्लाइड देखें
    सफाई की सेवा में महिलाएं
  • रॉक बैन्ड ने रथयात्रा में दी परफोर्मेंस, हाईटेक यात्रा में अंग्रेजों समय के रथ का हुआ यूज
    +8और स्लाइड देखें
    महिलाओं ने रास्ते में झाड़ू भी लगाई।
  • रॉक बैन्ड ने रथयात्रा में दी परफोर्मेंस, हाईटेक यात्रा में अंग्रेजों समय के रथ का हुआ यूज
    +8और स्लाइड देखें
    रथ यात्रा में मौजूद बच्ची।
  • रॉक बैन्ड ने रथयात्रा में दी परफोर्मेंस, हाईटेक यात्रा में अंग्रेजों समय के रथ का हुआ यूज
    +8और स्लाइड देखें
    भगवान का रथ।
  • रॉक बैन्ड ने रथयात्रा में दी परफोर्मेंस, हाईटेक यात्रा में अंग्रेजों समय के रथ का हुआ यूज
    +8और स्लाइड देखें
    नामधारी पंथक एकता संस्था के 25 के करीब वालंटियर पहली बार भगवान जगन्नाथ जी की रथयात्रा का हिस्सा बनें।
  • रॉक बैन्ड ने रथयात्रा में दी परफोर्मेंस, हाईटेक यात्रा में अंग्रेजों समय के रथ का हुआ यूज
    +8और स्लाइड देखें
    गजानन ने यात्रा की बढ़ाई शोभा
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ludhiana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×