Hindi News »Punjab »Ludhiana» Nine People Were Killed

फैक्टरी हादसा- दबाव में आग लगी बिल्डिंग में न जाएं फायरमैन, नौ लोगों की हुई थी मौत

दबाव में आकर उनके तीन फायर अफसर और छह फायर मैन दोबारा अंदर चले गए थे।

bhaskar news | Last Modified - Dec 14, 2017, 06:04 AM IST

  • फैक्टरी हादसा- दबाव में आग लगी बिल्डिंग में न जाएं फायरमैन, नौ लोगों की हुई थी मौत

    लुधियाना.अगर बिल्डिंग को आग लगे एक घंटे से अधिक हो जाता है तो कोई भी फायरमैन किसी भी दबाव में अंदर नहीं जाएगा। ये सुझाव एडीएफओ भूपिंदर संधू ने नौ फायर ब्रिगेड मुलाजिमों की आत्मिक शांति को रखे सुखमणि साहिब के पाठ के भोग दौरान दिया। संधू ने खुलासा किया कि उनके फायर अफसर और फायरमैन काफी हद तक आग बुझाकर गोला की प्लास्टिक फैक्टरी से बाहर आ गए थे, लेकिन किसी के दबाव में आकर उनके तीन फायर अफसर और छह फायर मैन दोबारा अंदर चले गए थे।

    गौर हो कि सूफियां चौक हादसे को करीब एक महीने पूरा होने को है, लेकिन अब भी मृतकों के परिवारों को सरकारी फंड नहीं मिल पाया है। वहीं, हादसे में लापता हुए तीन मुलाजिमों के परिवारों को जिला प्रशासन और निगम डेथ सर्टिफिकेट जारी नहीं कर पाया है।

    अब भी 25 फायरमैनों के इंतजार में निगम

    अपने नाै मुलाजिम खोने के बाद फायर ब्रिगेड ब्रांच पूरी तरह से अपंग हो चुकी है। इसके मद्देनजर टेक्निकल एडवाइजरी कमेटी की ओर से 25 फायरमैन रखने के प्रस्ताव को मंजूरी देने के बावजूद अभी तक इनकी भर्ती नहीं हो पाई है।

    अब करो आठ घंटे की शिफ्ट

    सुखमणि साहब पाठ के भोग कार्यक्रम दौरान फायर ब्रिगेड मुलाजिमों की ओर से साफ शब्दों में अपनी मांग रखी कि हम 12-12 घंटे की शिफ्ट में ड्यूटी कर थक चुके हैं। आग बुझाने के लिए हम सब अपनी जान तक दांव में लगा देते हैं। उन्होंने निगम कमिश्नर से मांग की कि हमारी ड्यूटी 12 घंटे की शिफ्ट की बजाय आठ घंटे की जाए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ludhiana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×