--Advertisement--

चूहों से निपटने के लिए ट्रेनिंग लेने वाले रेल इंप्लाइज की मांगी लिस्ट

पीएयू के साइंटिस्टों से दोबारा दिलाई जाएगी ट्रेनिंग।

Danik Bhaskar | Dec 21, 2017, 06:55 AM IST

लुधियाना. रेलवे स्टेशन पर चूहों से निपटने के लिए कॉमर्शियल डिपार्टमेंट के जिन इंप्लाइज ने ट्रेनिंग ली थी, उनकी लिस्ट स्टेशन डायरेक्टर अभिनव सिंगला ने मंगवा ली है। इनसे काम बंद करने का कारण पूछा गया है। इसके अलावा स्टेशन पर चूहों के खात्मे के लिए अलग से बजट रख मैकेनिकल डिपार्टमेंट के इंप्लाइज को दोबारा पीएयू साइंटिस्टों की तरफ से ट्रेनिंग दिलवा कर मुहिम चलाने की योजना है। इस संबंध में मैकेनिकल डिपार्टमेंट से रिक्वायरमेंट्स की डिटेल भी मांगी गई है।

- बता दें कि जून 2016 में तत्कालीन डीआरएम अनुज प्रकाश ने चूहों से निपटने के लिए पीएयू से मदद मांगी थी। इस पर साइंटिस्टों ने वर्कशॉप और स्टेशन पर प्रैक्टिकल कर सिर्फ 30 रुपए के खर्च पर एक हजार चूहों से निपटने की ट्रेनिंग दी थी। कॉमर्शियल डिपार्टमेंट के इंप्लाइज ने ट्रेनिंग लेकर काम भी शुरू किया, मगर नौ महीने पहले डीआरएम के तबादले के बाद यह काम ठप होकर रहा। नतीजतन स्टेशन पर चूहों की भरमार हो गई। कॉमर्शियल डिपार्टमेंट ने इसकी जिम्मेदारी मैकेनिकल डिपार्टमेंट पर डाल दी थी। महकमे ने भी ट्रेनिंग होने का तर्क रख अलग से प्राइवेट तौर पर जानकारों से काम करवाने का बजट तैयार करने की प्लानिंग की थी। अगर यह बजट पास हो जाता है तो रेलवे को चूहों से निपटने के लिए 30 की बजाए लाखों रुपए खर्चने पड़ेंगे।