Hindi News »Punjab »Ludhiana» Shocking Fact Came Out In Amrik Singh Murder Case

अमरीक से पहले उनके साले परमजीत को भी मारना चाहते थे प्रिंस और डब्बू, 15 दिन से इलाके में घूम रहे थे

दो दिन पहले हुए अमरीक सिंह मर्डर केस में एक और चौंकाने वाला तथ्य सामने आया है।

Bhaskar news | Last Modified - Dec 09, 2017, 05:55 AM IST

होशियारपुर. दो दिन पहले हुए अमरीक सिंह मर्डर केस में एक और चौंकाने वाला तथ्य सामने आया है। भास्कर को मिली जानकारी के अनुसार प्रिंस और डब्बू अमरीक के साले परमजीत सिंह को भी मारना चाहते थे। इसके लिए दोनों ने बाकायदा डफ्फर गांव में तीन दिन रेकी की थी। वारदात वाले दिन दोनों तयशुदा स्थान पर सफेद रंग की गाड़ी में परमजीत का पूरा दिन इंतजार करते रहे, लेकिन संयोग से उस दिन खुनखुन गांव में रहने वाला परमजीत वहां आया ही नहीं। केस की जांच कर रही होशियारपुर पुलिस को भी खुफिया विभाग से इस तरह की जानकारी मिली है। फिलहाल प्रिंस और डब्बू कहां है पुलिस को जानकारी नहीं। सूत्रों से पता चला है कि दोनों पंजाब से बाहर निकल चुके हैं। हालांकि पुलिस ने इलाके के उन सभी स्थानों पर छापेमारी की है जहां से इनके बारे में जानकारी मिल सकती है। दूसरी ओर अमरीक सिंह का अंतिम संस्कार कुछ दिनों के लिए टल गया है। विदेश से उनके रिश्तेदारों के एक दो दिन में यहां पहुंचते ही अंतिम संस्कार किया जा सकता है।

पुलिस की बड़ी नाकामी
खुफिया विभाग से पुलिस को मिली जानकारी के अनुसार यह बात भी सामने आई है कि गढ़दीवाला पुलिस अगर सजग रहती तो शायद अमरीक सिंह की जान बच जाती। जानकारी के अनुसार प्रदीप सिंह के परिवार को निशाना बनाए जाने की सूचना गढ़दीवाला पुलिस को मिली थी लेकिन पुलिस की हीलाहवाली के चलते अमरीक सिंह की हत्या को रोका नहीं जा सका। यह बातें भी निकल कर सामने रही हैं कि प्रिंस और डब्बू पिछले 15-20 दिनों से गढ़दीवाला इलाके में ही घूम रहे थे और पुलिस ने उन्हें पकड़ने के लिए कोई पुख्ता रणनीति नहीं बनाई। जिसके चलते अमरीक सिंह को अपनी जान गंवानी पड़ी।

अगस्त में ही खुफिया विभाग ने परिवार पर हमले को लेकर चेताया था

20 अगस्त को अमरीक सिंह पर कातिलाना हमला हुआ। कुछ दिनों के बाद जब प्रदीप सिंह को शाना मर्डर केस में रिहा किया गया था तभी इंटेलीजेंस की रिपोर्ट रही थी कि प्रदीप सिंह के परिवार पर किसी भी समय हमला हो सकता है। हैरानी की बात तो यह रही कि पुलिस ने इसे गंभीरता से नहीं लिया।

कड़ी सुरक्षा के घेरे में है प्रदीप सिंह का परिवार |अमरीकसिंह के कुछ रिश्तेदार विदेश से अभी नहीं आए हैं। इसलिए अंतिम संस्कार अभी नहीं हो रहा है लेकिन दुबई से लौट आए प्रदीप उनके अन्य रिश्तेदारों को पुलिस ने कड़ी सुरक्षा के घेरे में रखा हुआ है। उनके घर आने जाने वाले हर व्यक्ति पर नजर रखी जा रही है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ludhiana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: amrik se pehle unke saale parmjeet ko bhi maarunaa chaahte the prins aur dbbu, 15 din se ilaake mein ghum rahe the
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Ludhiana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×