--Advertisement--

स्टूडेंट्स को बोलकर कराई जा रही थी नकल, वीडियो हुआ वायरल तो सामने आया सच

अॉब्जेक्टिव टाइप था पेपर, उत्तर बोलकर बताए

Dainik Bhaskar

Feb 08, 2018, 06:39 AM IST
एग्जाम हाल एग्जाम हाल

गढ़शंकर. आईटीआई बगवाई में परीक्षार्थी धड़ल्ले से नकल कर रहे हैं और उनकी मदद कोई और नहीं इनविजिलेटर (पर्यवेक्षक) कर रहे हैं। हालांकि स्कूल के सुपरिंटेंडेंट ने नकल की घटना को सिरे से खारिज कर दिया, लेकिन भास्कर के पास परीक्षा हाल का वीडियो है, जिसमें एक शख्स ऑब्जेक्टिव प्रश्न को बोल-बोल कर सॉल्व करवा रहा है।


- डिप्टी सुपरिंटेंडेंट और एक इनविजिलेटर जिनकी ड्यूटी परीक्षा केंद्र में थी बाहर घूम रहे थे। उल्लेखनीय है कि सरकारी आईटीआई बगवाई व आसपास के सभी प्राइवेट आईटीआई में 1200 सौ छात्र परिक्षा दे रहे हैं।

- सरकारी आईटीआई बगवाई के सेकेंड फ्लोर पर चल रहे परिक्षा केंद्र के भीतर जाने से पहले गेट खोलना पड़ता है।

- गेट को खोलने को पांच से सात मिनट लगा दिए जाते हैं। तब तक आईटीआई की परीक्षा केंद्र के परिसर में नीचे खड़े डिप्टी सुपरिटेंडेंट हरीपाल सेकेंड फ्लोर पर परीक्षा केंद्र के बाहर खड़े एक व्यक्ति को इशारा कर देता है और परिक्षा केंद्र के पास खड़ा व्यक्ति भीतर चला जाता है।


नियमानुसार सुपरिटेंडेंट की ड्यूटी परीक्षा केंद्र के अंदर होती है वह बाहर क्या कर रहे हैं यह बड़ा सवाल पैदा करता है। इसके अलवा सेकेंड फ्लोर पर यहां किसी का आना जाना मना है तो ऊपर कौन खड़ा रहता है यह भी जांच का विषय है।

थोड़ा बहुत पूछ लें, इतना तो चलता है : हरि पाल

परीक्षार्थी आपस में थोड़ा-बहुत पूछ लें, इतना तो चलता है, यहां किसी तरह की नकल नहीं हो रही। मैं परीक्षा केंद्र से बाहर डिप्टी डायरेक्टर सरोया का फोन अटैंड करने के लिए गया था। ऊपर खड़ा व्यक्ति भी परीक्षा केंद्र में इनविजिलेटर ही था। डिप्टी सुपरिंटेंडेंट, हरि पाल

कोई नकल नहीं करवाई जा रही : सुपरिंटेंडेंट विजय

मुझे इस बारे में पता नहीं कि डिप्टी सुपिरिंटेंडेट और इनविजिलेटर बाहर खड़े थे। लेकिन, मैं तो परीक्षा केंद्र के अंदर ही मौजूद था। किसी भी छात्र को कोई नकल सेंटर में नहीं करवाई जा रही है। परीक्षा के दौरान पूरी चौकसी बरती जा रही है।- विजय कुमार, सुपरिंटेंडेंट

मजबूरी में नीचे बैठाने पड़े छात्र : प्रिंसिपल

परीक्षार्थियों को नीचे बैठाना हमारी मजबूरी है। हमारे पास 1200 विद्यार्थियों को बैठने के लिए फर्नीचर नहीं है। अगर हम कुछ परीक्षार्थियो को बैठने के लिए फर्नीचर दे देते तो वहां पर कमरे कम हो जाने थे। लिहाजा सभी परिक्षार्थियों को नीचे बैठकर ही परीक्षा देना पड़ता। - जसवीर कौर, प्रिंसिपल

हाल में दरी पर बैठकर परीक्षा देते परीक्षार्थी। हाल में दरी पर बैठकर परीक्षा देते परीक्षार्थी।
एग्जाम हाल में छात्रों को बोल-बोल कर उत्तर बाता एक शख्स। एग्जाम हाल में छात्रों को बोल-बोल कर उत्तर बाता एक शख्स।
डिप्टी सुपरिंटेंडेंट नीचे गेट पर नजरे गड़ाए हुए। डिप्टी सुपरिंटेंडेंट नीचे गेट पर नजरे गड़ाए हुए।
X
एग्जाम हालएग्जाम हाल
हाल में दरी पर बैठकर परीक्षा देते परीक्षार्थी।हाल में दरी पर बैठकर परीक्षा देते परीक्षार्थी।
एग्जाम हाल में छात्रों को बोल-बोल कर उत्तर बाता एक शख्स।एग्जाम हाल में छात्रों को बोल-बोल कर उत्तर बाता एक शख्स।
डिप्टी सुपरिंटेंडेंट नीचे गेट पर नजरे गड़ाए हुए।डिप्टी सुपरिंटेंडेंट नीचे गेट पर नजरे गड़ाए हुए।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..