Hindi News »Punjab »Ludhiana» Students Were Being Duped By Voice

स्टूडेंट्स को बोलकर कराई जा रही थी नकल, वीडियो हुआ वायरल तो सामने आया सच

अॉब्जेक्टिव टाइप था पेपर, उत्तर बोलकर बताए

अजायब बोपाराय | Last Modified - Feb 09, 2018, 07:02 AM IST

  • स्टूडेंट्स को बोलकर कराई जा रही थी नकल, वीडियो हुआ वायरल तो सामने आया सच
    +3और स्लाइड देखें
    एग्जाम हाल

    गढ़शंकर.आईटीआई बगवाई में परीक्षार्थी धड़ल्ले से नकल कर रहे हैं और उनकी मदद कोई और नहीं इनविजिलेटर (पर्यवेक्षक) कर रहे हैं। हालांकि स्कूल के सुपरिंटेंडेंट ने नकल की घटना को सिरे से खारिज कर दिया, लेकिन भास्कर के पास परीक्षा हाल का वीडियो है, जिसमें एक शख्स ऑब्जेक्टिव प्रश्न को बोल-बोल कर सॉल्व करवा रहा है।


    - डिप्टी सुपरिंटेंडेंट और एक इनविजिलेटर जिनकी ड्यूटी परीक्षा केंद्र में थी बाहर घूम रहे थे। उल्लेखनीय है कि सरकारी आईटीआई बगवाई व आसपास के सभी प्राइवेट आईटीआई में 1200 सौ छात्र परिक्षा दे रहे हैं।

    - सरकारी आईटीआई बगवाई के सेकेंड फ्लोर पर चल रहे परिक्षा केंद्र के भीतर जाने से पहले गेट खोलना पड़ता है।

    - गेट को खोलने को पांच से सात मिनट लगा दिए जाते हैं। तब तक आईटीआई की परीक्षा केंद्र के परिसर में नीचे खड़े डिप्टी सुपरिटेंडेंट हरीपाल सेकेंड फ्लोर पर परीक्षा केंद्र के बाहर खड़े एक व्यक्ति को इशारा कर देता है और परिक्षा केंद्र के पास खड़ा व्यक्ति भीतर चला जाता है।


    नियमानुसार सुपरिटेंडेंट की ड्यूटी परीक्षा केंद्र के अंदर होती है वह बाहर क्या कर रहे हैं यह बड़ा सवाल पैदा करता है। इसके अलवा सेकेंड फ्लोर पर यहां किसी का आना जाना मना है तो ऊपर कौन खड़ा रहता है यह भी जांच का विषय है।

    थोड़ा बहुत पूछ लें, इतना तो चलता है : हरि पाल

    परीक्षार्थी आपस में थोड़ा-बहुत पूछ लें, इतना तो चलता है, यहां किसी तरह की नकल नहीं हो रही। मैं परीक्षा केंद्र से बाहर डिप्टी डायरेक्टर सरोया का फोन अटैंड करने के लिए गया था। ऊपर खड़ा व्यक्ति भी परीक्षा केंद्र में इनविजिलेटर ही था। डिप्टी सुपरिंटेंडेंट, हरि पाल

    कोई नकल नहीं करवाई जा रही : सुपरिंटेंडेंट विजय

    मुझे इस बारे में पता नहीं कि डिप्टी सुपिरिंटेंडेट और इनविजिलेटर बाहर खड़े थे। लेकिन, मैं तो परीक्षा केंद्र के अंदर ही मौजूद था। किसी भी छात्र को कोई नकल सेंटर में नहीं करवाई जा रही है। परीक्षा के दौरान पूरी चौकसी बरती जा रही है।- विजय कुमार, सुपरिंटेंडेंट

    मजबूरी में नीचे बैठाने पड़े छात्र : प्रिंसिपल

    परीक्षार्थियों को नीचे बैठाना हमारी मजबूरी है। हमारे पास 1200 विद्यार्थियों को बैठने के लिए फर्नीचर नहीं है। अगर हम कुछ परीक्षार्थियो को बैठने के लिए फर्नीचर दे देते तो वहां पर कमरे कम हो जाने थे। लिहाजा सभी परिक्षार्थियों को नीचे बैठकर ही परीक्षा देना पड़ता। - जसवीर कौर, प्रिंसिपल

  • स्टूडेंट्स को बोलकर कराई जा रही थी नकल, वीडियो हुआ वायरल तो सामने आया सच
    +3और स्लाइड देखें
    हाल में दरी पर बैठकर परीक्षा देते परीक्षार्थी।
  • स्टूडेंट्स को बोलकर कराई जा रही थी नकल, वीडियो हुआ वायरल तो सामने आया सच
    +3और स्लाइड देखें
    एग्जाम हाल में छात्रों को बोल-बोल कर उत्तर बाता एक शख्स।
  • स्टूडेंट्स को बोलकर कराई जा रही थी नकल, वीडियो हुआ वायरल तो सामने आया सच
    +3और स्लाइड देखें
    डिप्टी सुपरिंटेंडेंट नीचे गेट पर नजरे गड़ाए हुए।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ludhiana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Students Were Being Duped By Voice
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Ludhiana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×