--Advertisement--

घर से नकदी चुरा भागे नाबालिग ने मिनी ट्रक चुराया, भागते समय दुकानदार को कुचला

हादसे के बाद भागे नाबालिग को अगले दिन थाना डिवीजन नंबर 6 की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

Danik Bhaskar | Jan 30, 2018, 05:21 AM IST

लुधियाना. अपने घर से नकदी चुरा कर भागे नाबालिग ने ट्रांसपोर्ट नगर से सामान से लदी स्वराज माजदा गाड़ी चुरा ली। रास्ते में तेज रफ्तार से जाते हुए नाबालिग ने हार्डवेयर की दुकान करने वाले कारोबारी को कुचल दिया। चीमा चौक और समराला चौक के बीच ट्रांसपोर्ट कट के पास 27 जनवरी को हुए हादसे में कारोबारी की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे के बाद भागे नाबालिग को अगले दिन थाना डिवीजन नंबर 6 की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस ने चुराई गई गाड़ी व सामान भी बरामद कर लिया। मेहरबान के रहने वाले आरोपी के खिलाफ पुलिस ने दो मामले दर्ज किए हैं। मरने वाले दुकानदार की पहचान प्रभात नगर के रहने वाले अरुण मल्होत्रा के रूप में की गई है। अरुण की अगले दिन ही मैरिज एनिवर्सरी थी और परिवार के लोग रात 12.00 बजे सेलिब्रेशन की तैयारी में थे। पुलिस ने अरुण मल्होत्रा के बेटे अतुल मल्होत्रा के बयान पर लापरवाही से ड्राइविंग करने व गैर इरादतन हत्या करने के आरोप में मामला दर्ज किया है। जबकि गाड़ी चुराने के आरोप में फरीदाबाद के रहने वाले रोड कैरियर ट्रांसपोर्ट के मुकेश कुमार के बयान पर चोरी करने के आरोप में मामला दर्ज किया है।

मामले की कार्रवाई कर रहे सब इंस्पेक्टर वरिंदर चोपड़ा ने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार कर ज्यूडिशियल रिमांड पर भेज दिया है। आरोपी मेहरबान इलाके का रहने वाला कुमार है। जांच अफसर ने बताया कि नाबालिग के पिता के अनुसार वह पहले भी घर से 16 हजार रुपए की नकदी चुरा कर भाग हुआ है। ट्रांसपोर्टर मुकेश ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि वे अपनी गाड़ी स्वराज माजदा ट्रांसपोर्ट नगर में प्लाट नंबर 77 के बाहर खड़ी करके गए थे, जिसमें ऑटो पार्ट्स लादे हुए थे। वह किसी काम के चलते गया तो वापस आकर देखा तो वहां पर उसकी गाड़ी नहीं थी। काफी तलाश करने के बाद पता चला कि उसकी गाड़ी चोरी हो गई। उन्होंने पुलिस को सूचित किया। गाड़ी में 3 लाख से अधिक के पार्ट्स लादे हुए थे।


इकलौते बेटे की शादी की कर रहे थे तैयारी
सड़क हादसे का शिकार होने वाले 57 साल के अरुण मल्होत्रा की ताजपुर रोड पर मल्होत्रा हार्डवेयर की दुकान थी। वे अपने बेटे अतुल मल्होत्रा के साथ दुकान पर बैठते थे। उनके बेटे ने बताया कि वह रात को दुकान बंद कर घर जा रहे थे। उनके पिता साइकिल पर उनसे आगे थे। रश होने के कारण वे पीछे रह गए। जैसे ही वे ट्रांसपोर्ट कट के पास पहुंचे तो अंदर से तेज रफ्तार से आ रही मिनी ट्रक (स्वराज माजदा) के ड्राइवर ने उन्हें टक्कर मार कर कुचल दिया। जिस कारण वह गिर गए और टायर के नीचे आने से उनकी मौके पर ही मौत हो गई। ड्राइवर हादसे के बाद मौके से फरार हो गया। पता चलने पर पुलिस ने पीछा कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। अरुण के भतीजे चेतन मल्होत्रा ने बताया कि अतुल उनका इकलौता बेटा है। अरुण कई सामाजिक व धार्मिक संस्थाओं से जुडे़ हुए थे। कारोबार सैट होने के बाद वे अपने बेटे की शादी के लिए तैयारी कर रहे थे। एक दिन बाद ही उन्होंने बेटे के लिए लड़की देखने के लिए जाना था, इसलिए वे जल्दी घर पहुंच कर तैयारी करना चाहते थे। इसके साथ ही अगले दिन उनकी 29वीं मैरिज एनिवर्सरी भी थी और घरवाले रात 12.00 बजे सेलिब्रेशन करने की तैयारी कर रहे थे।

आरोपी के खिलाफ दो मामले किए दर्ज
आरोपी के खिलाफ दो मामले दर्ज किए गए हैं। पहला मामला अरुण के बेटे अतुल के बयान पर लापरवाही से ड्राइविंग करने व गैर इरादतन हत्या करने के आरोप में दर्ज किया गया है। जबकि फरीदाबाद के रहने वाले रोड कैरियर ट्रांसपोर्ट के मुकेश कुमार के बयान पर आरोपी के खिलाफ चोरी का पर्चा दर्ज किया गया है। -वरिंदर चोपड़ा, एसआई, थाना डिवीजन नंबर 6