• Home
  • Punjab
  • Ludhiana
  • Two convicts in the International Network of drug smugglers are imprisoned for 20-20 years
--Advertisement--

ड्रग्स तस्करों के इंटरनेशनल नेटवर्क में शामिल दो दोषियों को 20-20 साल की कैद

ड्रग्स तस्करी के इंटरनेशनल नेटवर्क में शामिल दो दोषियों को अदालत ने बीस-बीस साल कैद की सजा सुनाई है।

Danik Bhaskar | Dec 21, 2017, 06:53 AM IST

लुधियाना. ड्रग्स तस्करी के इंटरनेशनल नेटवर्क में शामिल दो दोषियों को अदालत ने बीस-बीस साल कैद की सजा सुनाई है। इतनी कड़ी सजा का यह अहम फैसला जिला एडिशनल सेशन जज दिलबाग सिंह जौहल की अदालत ने सुनाया। दोषियों पर दो-दो लाख रुपये जुर्माना भी किया गया, जिसे अदा करने की सूरत में दो साल अतिरिक्त सजा काटनी होगी।

- बता दें कि फतेहगढ़ साहिब जिले के गांव भैणी खुर्द का रहने वाला एक दोषी राजिंदर उर्फ मिंकू 35 साल का है। जबकि दूसरा दोषी लुधियाना के ही बरमालीपुर गांव का बलवीर सिंह 45 साल का है। इस केस में थाना फोकल पॉइंट में 22 जुलाई, 2009 को पर्चा दर्ज किया गया था। जिसके मुताबिक काउंटर इंटेलीजेंस के सब इंस्पेक्टर हरजिंदर सिंह को मुखबिर से अहम सूचना मिली थी।

- जालंधर के शाहकोट का निवासी राजा कनाडा के वैंकूवर में रहता है। जो पंजाब से ड्रग्स की तस्करी कंबोडिया के रास्ते कनाडा में करता है। वह उस वक्त कंबोडिया में मौजूद था। यहां राजिंदर सिंह मिंकू और बलवीर सिंह ड्रग्स तस्करी के पिन-किंग राजा की मदद करते थे। दोनों उस दिन शाहकोट के नवजोत सिंह उर्फ जोधा से बड़ी तादाद में ड्रग्स लेकर रहे थे, ताकि कंबोडिया भिजवा सकें।

- मुखबिरी के मुताबिक पर चार आरोपियों मिंकू, बलवीर के अलावा जोधा सुभराज सिंह उर्फ राजा को नामजद कर एनडीपीएस एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया। फोकल पॉइंट में जीटी रोड पर नाकाबंदी कर पुलिस ने एक कार को रोका। उसमें सवार दोनों लोगों ने अपने नाम मिंकू बलवीर बताए। तलाशी में मिंकू से करीब 1.5 किग्रा सिंथेटिक ड्रग और 32 बोर का रिवॉल्वर बरामद किया। वहीं बलवीर के कब्जे से 3 किलो 220 ग्राम अन्य नशीला पदार्थ बरामद किया।


राजा बरी, पर नशा तस्कर भोला संग दूसरे मामले में जेल में
- दोनों की गिरफ्तारी के बाद बाकी दो अन्य आरोपी जोधा राजा के गिरफ्तारी वारंट जारी हुए। पकड़े जाने पर उनको भगोड़ा घोषित कर इस केस में चालान पेश किया गया। गौर हो कि भगोड़े आरोपियों के वकील ने उनकी जमानतें हाईकोर्ट सुप्रीम कोर्ट से करा ली थीं।

- आरोपियों को ट्रायल कोर्ट में पेश कराया, जहां अदालत ने इन दोनों आरोपियों को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया। जबकि राजिंदर बलवीर को दोषी मानते हुए कड़ी सजा सुनाई। यह भी अहम पहलू है कि आरोपी राजा इस केस में तो बरी है, लेकिन ड्रग स्मगलिंग के चर्चित आरोपी भोला के साथ दूसरे मामले में जेल में है और ट्रायल फेस कर रहा है। जबकि उसकी फैमिली कनाडा में है। दोषी बलवीर कैंसर से पीड़ित है, अदालत ने अपराध की गंभीरता को देखते हुए उसकी रहम की अपील ठुकरा सजा बरकरार रखी।