--Advertisement--

घर से भागी लड़की को पनाह देकर करता रहा रेप, जब बच्चा हुआ तो 40 दिन बाद उसे भी ‌2 लाख रुपए में बेच दिया

युवती को लुधियाना में ऑटो ड्राइवर सरबजीत सिंह (50) ने पनाह देने के बहाने घर ले जाकर जबरन रेप किया।

Danik Bhaskar | Mar 15, 2018, 05:31 AM IST

लुधियाना. परिवार से झगड़ा कर घर से भागी 21 साल की अमृतसर की युवती को लुधियाना में ऑटो ड्राइवर सरबजीत सिंह (50) ने पनाह देने के बहाने घर ले जाकर जबरन रेप किया। इसके बाद घर से निकलने पर जान से मारने की धमकी देकर जबरन घर में रख रेप करता रहा। प्रेग्नेंट होने पर पहले तो बच्चे को जन्म ने देने को धमकाता रहा। फिर वह पीड़िता को साथ लेकर ताजपुर रोड पर किराए पर रहने लगा। कुछ समय से घर से काम पर निकलते समय ऑटो में बैठा लेता था अौर शाम को साथ लेकर आता था। बच्चे को जन्म देने के 40 दिन बाद कर्ज चुकाने के लिए आरोपी ने महिला को बेहोश कर पानीपत की एक महिला को बच्चे को दो लाख में बेच दिया। होश में आने पर युवती ने पुलिस को शिकायत की तो पुलिस ने आरोपी ऑटो ड्राइवर सरबजीत और पानीपत की महिला मधुबाला को गिरफ्तार कर लिया। उनसे 1.3 लाख रुपये भी बरामद कर लिए। थाना कोतवाली की पुलिस ने ताजपुर रोड के इकबाल नगर के सरबजीत सिंह और पानीपत की मधुबाला, एमआईजी कॉलोनी के गुरदेव सिंह और भामियां रोड के सोहन सिंह के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस ने गिरफ्तार दोनों आरोपियों को अदालत में पेश किया। जहां से सरबजीत का दो दिन का पुलिस रिमांड मिला और मधुबाला को जेल भेज दिया गया।

होटल ले जाकर बेहोश किया फिर बच्चा बेचा
चार फरवरी 2018 को पीड़िता को बेटा हुआ। आरोपी 10 मार्च की शाम बच्चे की दवा लेने की बात कह पीड़िता को अपने साथ ले गया। वह उसे पहले एक रेस्टोरेंट में ले गया और फिर एक होटल के रूम में ले गया। जहां उसने पीड़िता को कोल्ड ड्रिंक में नशीली चीज पिलाकर बेहोश कर दिया और बच्चा बाहर ले जाकर आरोपी महिला मधुबाला को देकर वापस होटल आ गया। होश में आने पर पीड़िता को सारी बात पता चली।

प्रेग्नेंट होने पर भी ऑटो में साथ रखता था आरोपी

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि प्रेग्नेंट हुई तो आरोपी सुबह घर से ऑटो लेकर जाता तो साथ ले जाता था। पूरा दिन सवारियां ढोने के बाद साथ ही रात को घर लाता था। डिलीवरी के दिन भी वह उसके साथ ही था। बेटा होने पर आरोपी सिर पर कर्ज होने की बात कहने लगा। फिर उसने बच्चा बेचकर कर्ज उतारने के लिए उसे मनाना शुरू कर दिया। नहीं मानी तो चोरी से बच्चा बेच दिया। इलाके के लोगों ने बताया कि करीब 5-6 दिन पहले इनोवा कार में सवार होकर करीब 4-5 महिला सफेद कपड़ों में सरबजीत के घर आई और कुछ समय घर पर रहने के बाद चली गई थीं।

पुलिस ने ऐसे जाल बिछाकर पकड़ा
मुधबाला बच्चा लेकर वापस पानीपत को निकल चुकी थी। तभी सरबजीत को पुलिस ने पकड़ लिया। पुलिस ने सबरजीत से नंबर लेकर मधुबाला को फोन करके एक और बच्चे का सौदा करने की बात कही तो वह करनाल से वापस लुधियाना आ गई। पुलिस ने उसे तो पकड़ लिया लेकिन उसके साथ वाली महिला भाग गई।

दो आरोपियों की तलाश जारी
महिला अमीर लोगों से संपर्क कर मांग के अनुसार बच्चे बेचती थी। इंस्पेक्टर बलकार सिंह ने बताया कि सरबजीत से पूछताछ की जा रही है। दो आरोपियों को भी ढूंढा जा रहा है। उनकी गिरफ्तारी के बाद बड़े खुलासे हो सकते हैं। मधू ने और कहां-कहां से बच्चे चुराते थे और किसे बेचे पुलिस इसकी जांच कर रही है।

आरोपी महिला पहले भी बेच चुकी है बच्चे
पूछताछ में आरोपी महिला मधु बाला ने बताया कि वह अब तक 7-8 बच्चे बेच चुकी है। उसने पानीपत में अपनी मुंहबोली बहन को यह बेचा है। बहन के पास तीन बच्चियां होने के चलते उन्हें बेटे की जरूरत थी। उसने गुरदेव और सोहन सिंह से संपर्क किया। उन दोनों ने सरबजीत को बच्चा बेचकर पैसा कमाने को राजी किया। घटना की रात एक और महिला साथ में थी।