• Home
  • Punjab
  • Ludhiana
  • सोच बदलो और सितारे बदल जाएंगे : निराले बाबा
--Advertisement--

सोच बदलो और सितारे बदल जाएंगे : निराले बाबा

एसएस जैन सभा न्यू किचलू नगर के तत्वावधान में भगवान महावीर का 2617वां जन्म कल्याण दिवस बड़े हर्षोल्लास पूर्वक मनाया...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:20 AM IST
एसएस जैन सभा न्यू किचलू नगर के तत्वावधान में भगवान महावीर का 2617वां जन्म कल्याण दिवस बड़े हर्षोल्लास पूर्वक मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मंगलाचरण से हुआ। इस दौरान कई महापुरुषों ने भक्तों को आशीर्वाद भी दिया।

सिटी रिपोर्टर| लुधियाना

एसएस जैन सभा न्यू किचलू नगर के तत्वावधान भगवान महावीर का 2617वां जन्म कल्याण दिवस बड़े हर्षोल्लास पूर्वक मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मंगलाचरण से हुआ। कार्यक्रम में उत्तर भारतीय प्रवर्तक महाश्रमण श्री सुमन मुनि महाराज, आचार्य प्रवर दिव्यानंद सुरीश्वर म.सा. निराले बाबा, नवकार साधक तारक ऋषि म.,डॉ सुयोग्य ऋषि म.,उप प्रवर्तनी महासाध्वी मीणा म., महासाध्वी मंजुला म. आदि संत विशेष तौर पर इसमें शामिल हुए। नवकार मंत्र है प्यारा गीत पर बालिकाओं ने नृत्य प्रस्तुत किया गया। एसएस जैन सभा बहु मंडल ने भगवान महावीर जन्म बधाई नृत्य प्रस्तुत किया। बेबी जैन ने कन्या भ्रूण हत्या विषयक नृत्य प्रस्तुत किया। कार्यक्रम में मुख्यातिथि जैन भारत र| विमल प्रकाश जैन जालंधर उपाध्यक्ष ऑल इंडिया श्वेतांबर स्थानक वासी जैन कॉन्फ्रेंस ने कहा भगवान महावीर ने उपदेशों में प्रमुख रूप से तीन अहिंसा, अपरिग्रह, अनेकांतवाद सिद्धांत दिए। यदि हमारे जीवन में तीन सिद्धांत शामिल हो जाएं तो जीवन का कल्याण अवश्यंभावी हो जाएगा।

साध्वी श्री यशा ज्योति ने कहा कि कहा महावीर ने अपने जीवन काल में प्राणी मात्र के उद्धार के लिए संदेश दिए। साध्वी प्रज्ञा ने कहा हमारा महावीर जयंती मनाना तभी सफल होगा जब हम महावीर के बताए मार्ग पर चलेंगे। महासाध्वी मीणा ने कहा भगवान महावीर के सिपाही साधु-साध्वी के रूप में आकर समय-समय पर हमारा मार्ग प्रशस्त करते रहते हैं। आचार्य प्रवर श्री दिव्यानंद सूरीश्वर निराले बाबा ने कहा सोच बदलो, सितारे बदल जाएंगे। हम अपनी भावना में परिवर्तन लाए। लकीर के फकीर बनकर ना रहे।द्रव्य, क्षेत्र,काल और भाव के आधार पर अपने जीवन में परिवर्तन लाए। संत समाज मिलकर के जैन एकता का बिगुल बजाने के लिए प्रयासरत हो जाए।

स्वयं को जानंे और अपना जीवन महापुरुषों की तरह ढालने का प्रयास करें: सुमन मुनि

प्रवर्तक श्री सुमन मुनि जी म. ने कहा समय के आधार पर धर्म के संचालन में युवा पीढ़ी को धर्म के साथ जुड़ा जा सकता है। महावीर को मानने या जानने से पूर्व स्वयं को जाने एवं अपना जीवन महापुरुषों की तरह ढालने का प्रयास करें। कार्यक्रम में मंच संचालन राकेश जैन लक्की प्रधान जैन कॉन्फ्रेंस पंजाब ने किया। ध्वजारोहण दानवीर सेठ कस्तूरी लाल कमला जैन जैन अमर परिवार ने किया। दीप प्रज्वलन राजेश जैन काला नवकार, बिट्टू जैन नवकार ने किया। इस दौरान एस.एस जैन सभा किलचू नगर के प्रधान जतिंद्र जैन रश्म,जतिंदर जैन श्रेयांस, राकेश जैन लक्की, नरेश जैन और पदाधिकारियों द्वारा मानव र| रामकुमार जैन प्रमुख मार्गदर्शक ऑल इंडिया जैन श्वेतांबर स्थानक वासी जैन कॉन्फ्रेंस, विनोद आशी जैन, अशोक जैन अर्हम यार्न, अमित नीरज जैन, अरुण जैन गग्गू, विधायक कुलदीप सिंह वैद्य, संजय तलवाड़, मेयर बलकार सिंह, विपन विनायक और मनिंदर कौर का अभिनंदन किया गया। कार्यक्रम में भजन गायक कुमार संजीव ने मधुर भजनों से भगवान महावीर का गुणगान किया। समारोह में पंजाब, हरियाणा, हिमाचल और राजस्थान से श्रावक-श्राविकाएं शामिल हुए।