• Home
  • Punjab
  • Ludhiana
  • पंजाबी भवन में ‘सखाराम बाइंडर’ ने बयां की मानवीय रिश्तों की अनकही कहानी
--Advertisement--

पंजाबी भवन में ‘सखाराम बाइंडर’ ने बयां की मानवीय रिश्तों की अनकही कहानी

लुधियाना। बीहाईव थिएटर ग्रुप की तरफ से मराठी लेखक विजय तेंदुलकर के 1972 में लिखे चर्चित नाटक “सखाराम बाइंडर’ का मंचन...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 03:25 AM IST
लुधियाना। बीहाईव थिएटर ग्रुप की तरफ से मराठी लेखक विजय तेंदुलकर के 1972 में लिखे चर्चित नाटक “सखाराम बाइंडर’ का मंचन शनिवार शाम को बलराज साहनी ओपन थिएटर, पंजाबी भवन में किया गया। नाटक का निर्देशन विभू ने किया था। इस नाटक में स्त्री-पुरुष संबंधों और मानवीय रिश्तों की अनकही कहानियों और इन रिश्तों के पीछे छिपे मर्म को दिखाया गया। हालांकि नाटक इतने साल पहले लिखा गया है, लेकिन आज भी समाज में तमाम वह कुरीतियां देखी जा सकती हैं। समाज में फैली इन कुरीतियों से ही दर्शकों को रूबरू करवाया गया। कहानी के अनुसार कंटेंट काफी बोल्ड था, इसलिए 16 साल से ज्यादा उम्र के दर्शकों को ही एंट्री दी गई। नाटक में पांच पात्र है, जिसमें सखाराम बाइंडर का लीड रोल अमनदीप राजू ने निभाया। लक्ष्मी ने निधि गाेयल, दाऊद ने चंद्र प्रकाश, चंपा ने अंकिता पटेल और निशांत गर्ग ने थानेदार शिंदे के किरदार से समाज के लोगों का असली चेहरा दर्शकों को दिखाया। इस अवसर पर चीफ गेस्ट के रूप में डॉ. अशोक भाटिया, चेयरमैन आईएमसी ने शिरकत की।

पद्मश्री सुरिंदर शर्मा की हास्य रचनाओं पर लोटपोट हुए श्रोता

इश्मीत सिंह म्यूजिक इंस्टीट्यूट में ग्रांड फिनाले में युवाओं ने मचाई धूम

मिस्टर एंड मिस मॉडल ऑफ द ईयर 2018 बने नीरज और हरजोत कौर

लुधियाना। मिस्टर एंड मिस मॉडल ऑफ द ईयर 2018 का ग्रांड फिनाले इश्मीत सिंह म्यूजिक इंस्टीट्यूट में शनिवार शाम को हुआ। शो ऑर्गनाइज वरुण शर्मा ने बताया कि इस शो के लिए शहर के अलावा जालंधर, अमृतसर, यमुनानगर, होशियारपुर जैसे शहरों के 230 युवाओं ने ऑडिशन दिए थे। ग्रांड फिनाले में पहुंचे 30 पार्टिसिपेंट्स ने इंट्रोडक्शन के बाद रैंप वॉक और टैलेंट राउंड में अपना टैलेंट दिखाया। मिस्टर एंड मिस मॉडल ऑफ द ईयर 2018 का टाइटल यमुनानगर से नीरज और जालंधर से हरजोत कौर ने अपने नाम किया। शो में जज की भूमिका रमनप्रीत कौर और गुनिता बिंद्रा ने निभाई।

रुबानी


लुधियाना। नेहरू सिद्धांत केंद्र ट्रस्ट की ओर से सतपाल मित्तल स्कूल, दुगरी में शनिवार शाम को हास्य कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। इस सम्मेलन में हमेशा चुपचाप रहने वाले और स्वयं बहुत कम हंसने वाले प्रसिद्ध हिंदी कवि पद्मश्री सुरिंदर शर्मा ने अपने सामने बैठे श्रोताओं को लोटपोट कर दिया। इस तीन घंटे के हास्य कवि सम्मेलन में सुरिंदर शर्मा के अलावा ख्याति प्राप्त हास्य संपत सरल, आशु करण, अटल, अरुण जैमिनी, डाॅ. सीता सागर और शंभू शिखर आदि कवियों ने एक से बढ़कर एक कविता प्रस्तुत कर देर रात तक श्रोताओं की खूब तालियां बटोरी।

प्रिया

अखिलेश

परमप्रीत

निशा

नीरज

लुिधयाना, रविवार 01 अप्रैल , 2018

| 7