Hindi News »Punjab »Ludhiana» गडकरी की कही टीम 3 माह बाद भी नहीं आई दोबारा केंद्रीय मंत्री से मिलेंगे एमपी बिट्टू, तलवार

गडकरी की कही टीम 3 माह बाद भी नहीं आई दोबारा केंद्रीय मंत्री से मिलेंगे एमपी बिट्टू, तलवार

केंद्रीय हाईवेज मंत्री नितिन गडकरी ने एनएचएआई की जिस टेक्निकल टीम को शहर के प्रोजेक्टों की इंस्पेक्शन करने 15 दिन...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 03:35 AM IST

केंद्रीय हाईवेज मंत्री नितिन गडकरी ने एनएचएआई की जिस टेक्निकल टीम को शहर के प्रोजेक्टों की इंस्पेक्शन करने 15 दिन में आना था, वो लगभग तीन महीने बाद भी नहीं आई। यह देखते हुए अब सांसद रवनीत सिंह बिट्टू और एमएलए संजय तलवार फिर केंद्रीय मंत्री को मिलने दिल्ली जाएंगे। इसके लिए गडकरी से टाइम लिया जा रहा है। अगले दस दिन के भीतर यह मीटिंग होने की संभावना है। यह प्रोजेक्ट ताजपुर कट पर फ्लाईओवर बनाने, बस्ती चौक के नीचे चौड़ाई बढ़ाने आैर चंडीगढ़ रोड पर एलिवेटेड रोड बनाने की है। इस बारे में वो पहले भी गडकरी से मिले थे। जिसमें उन्हें पॉजीटिव रिस्पांस मिला, लेकिन आगे काम कुछ नहीं हुआ। नतीजा, इस वजह से बस्ती चौक पर जहां हर वक्त जाम लगा रहता है। वहीं, ताजपुर कट पर भी दिक्कत हो रही है। वहीं, चंडीगढ़ रोड पर लैंड फिल रोड बनी तो वहां भी हर वक्त जाम रहेगा। एमएलए संजय तलवार ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि सांसद बिट्टू टाइम ले रहे हैं। जल्द केंद्रीय मंत्री से मिलकर इन्हें फाइनल कराया जाएगा।

प्रोजेक्टों में क्या दिक्कत और क्या था गडकरी का भरोसा

बस्ती चौक की चौड़ाई

जालंधर-पानीपत हाइवे पर बस्ती जोधेवाल चौक के नीचे सिर्फ 30 मीटर जगह छोड़ी जा रही है। इससे वहां जाम लगेगा। ट्रैफिक एक्सपर्ट्स के खुलासे के बाद सांसद बिट्टू, एमएलए संजय तलवार डीसी प्रदीप अग्रवाल के साथ गडकरी से मिले। उन्हें बताया कि पहले इसकी जॉइंट इंस्पेक्शन हो चुकी है। गडकरी ने भरोसा दिलाया था कि जॉइंट इंस्पेक्शन की रिपोर्ट व रिकमंडेशन देखेंगे।

डीसी ने मांगे थे मीटिंग मिनट्सकेंद्रीय मंत्री गडकरी से मीटिंग के बाद आगे क्या एक्शन हुआ? यह जानने के लिए डीसी प्रदीप अग्रवाल ने अपनी रिव्यू मीटिंग में एनएचएआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टरों को मीटिंग मिनट्स मंगवाए थे। मगर, एनएचएआई के अफसरों की तरफ से अभी तक यह मुहैया नहीं कराए गए। जिससे गडकरी के दिए भरोसे का खरा न उतरने का संदेह बना हुआ है।

ताजपुर रोड फ्लाईओवर

ताजपुर कट के ऊपर फ्लाईओवर की जरूरत है। ताकि, दोनों तरफ के लोग वहां से आसानी आ-जा सकें। इस पर 70 करोड़ रुपए का खर्चा आना है। गडकरी ने भरोसा दिया था कि इस बारे में भी एनएचएआई के मेंबर (पीपीपी) नीरज वर्मा के साथ डीसी व पुलिस ने जो जॉइंट इंस्पेक्शन की थी, उसकी रिपोर्ट देखेंगे। मगर, इसमें भी कोई कार्रवाई नहीं हुई।

चंडीगढ़ रोड पर एलिवेटेड रोड :लुधियाना-खरड़ 4/6 लेन में एनएचएआई वर्धमान चौक से फोर्टिस तक लैंड फिल यानि नीचे मिट्टी से भरी रोड बना रही है। तब गडकरी को बताया कि ऐसे रोड बनेगी तो दोनों तरफ की रोड सिर्फ 10-10 फुट की बचेगी। इससे जाम लगेगा। लोग परेशान होंगे और सड़क किनारे दुकानों का कारोबार भी चौपट हो जाएगा। गडकरी ने कहा था कि इसके लिए उनकी टीम जमीन की उपलब्धता देखेगी। कहां से एलिवेटेड चढ़ाना है? और कहां उतारना है? इसमें लगभग 400 करोड़ का अतिरिक्त खर्चा आएगा, लेकिन वो कर देंगे। मगर, इससे पहले टेक्निकल टीम इसकी जांच करेगी। अभी इसमें भी कुछ नहीं हुआ।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ludhiana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×