--Advertisement--

एक और शिअद नेता फंसा, शहरी प्रधान पर दुष्कर्म का केस

सुल्तानपुर लोधी से संबंधित एक अकाली नेता पर नाबालिगा से दुष्कर्म का मामला दर्ज हुआ है।

Dainik Bhaskar

Nov 26, 2017, 04:30 AM IST
Another Shaid Leader Stuck

सुल्तानपुर लोधी(कपूरथला) . शिअद नेता सुखदेव सिंह कादूपुर पर जमीन की धोखाधड़ी का मामला दर्ज होने के बाद अब एक और शिअद नेता पर मामला दर्ज हुआ है। सुल्तानपुर लोधी से संबंधित एक अकाली नेता पर नाबालिगा से दुष्कर्म का मामला दर्ज हुआ है। अकाली नेता समेत दो व्यक्तियों के खिलाफ नाबालिगा को बहला-फुसला कर भगाने और उससे आपत्तिजनक हरकत करने के आरोप में दो दिन पहले दर्ज हुए 363, 366-ए के मामले में नाबालिगा के मेडिकल करवाने और अदालत में बयान देने के बाद पुलिस ने बढ़ोतरी करते हुए बलात्कार की धारा 376 भी जोड़ दी है।

इसकी पुष्टि सुल्तानपुर लोधी के थाना प्रभारी ने की है। वहीं, अकाली दल के शहरी अध्यक्ष राजीव धीर ने सभी आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए बताया कि मामले से उनका कोई लेना-देना नहीं है। वो तो पीड़ित लड़की को जानते है और ही आरोपी मनी से उसका कोई संबंध है। उन्होंने मामला राजनीति रंजिश से प्रेरित बताया है।पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक नाबालिगा ने अदालत में पेश होकर बयान दिया कि मोहल्ला धीरां निवासी मनी उर्फ लव पुत्र अमरजीत सिंह और एक अकाली नेता शिअद शहरी के प्रधान राजीव धीर की शह पर उससे डेढ़ साल तक दुष्कर्म करता रहा। वो उसे शादी का झांसा देकर बहला फुसला कर अपने साथ ले गया था। गणमान्यों के कहने पर राजीव धीर ने लड़की को वापस घर पहुंचा दिया। लड़की के पिता ने अपनी शिकायत में बताया था कि 18 नवंबर को मनी और राजीव धीर उनके मोहल्ले में आकर उसे धमका कर गए कि उसकी लड़की को उठा कर ले जाएंगे और रात को उसे उठाकर ले गए। पुलिस की कार्रवाई के बाद लड़की की परिजन संतुष्ट नहीं थे। पुलिस ने नाबालिगा का मेडिकल करवाया और कोर्ट में बयान भी दर्ज करवाए। पुलिस को दुष्कर्म की धारा जोड़ दी है।

राजीव धीर पर लगाए आरोप झूठे: उपिंदर
पूर्वमंत्री डा. उपिंदरजीत कौर ने कहा कि शिअद शहरी प्रधान राजीव धीर पर दर्ज किया गया मामला सरासर झूठा है। उच्चाधिकारियों से जांच की मांग की जाएगी जो कांग्रेस सरकार बनने के बाद अकाली नेताओं पर दर्ज हो रहे मामले की निष्पक्ष जांच की जाए।

जांच के लिए भेज दिए हैं सैंपल : एसएमओ
सुल्तानपुरलोधी सिविल अस्पताल के कार्यकारी एसएमओ डा. चरणजीत सिंह ने बताया कि नाबालिगा का शनिवार को गायनी डा. सुखविंदर कौर ने मेडिकल जांच की थी। इसके सैंपल सील कर लेबोरेटरी में जांच के लिए भेज दिए है।

थाना प्रभारी सर्बजीत सिंह ने बताया कि पीड़िता के पिता के बयानों पर दर्ज किए गए मामले 363, 366 और 34 आईपीसी में अदालत के आदेश के बाद धारा 376 और 120-बी की बढ़ोतरी करते हुए मामले में मुख्यारोपी मनी समेत पिता को भी नामजद किया है। इस तरह मामले तीन व्यक्तियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। तीनों आरोपी अभी फरार हैं। वहीं, लड़की का मेडिकल करवा लिया है।

X
Another Shaid Leader Stuck
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..