--Advertisement--

वीडियो कान्फ्रेंसिंग से सीएम कैप्टन ने आॅनलाइन रजिस्ट्री का किया शुभारंभ, ये रहेगा प्रवधान

नेशनल जैनेरिक डाक्यूमेंट्स रजिस्ट्रेशन सिस्टम (एनजीडीआरएस) की शुरूआत की।

Danik Bhaskar | Nov 18, 2017, 04:54 AM IST

मोगा. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने आज लोक हित में बड़ा कदम उठाते वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए क्लाउड विधि पर आधारित नेशनल जैनेरिक डाक्यूमेंट्स रजिस्ट्रेशन सिस्टम (एनजीडीआरएस) की शुरूआत की।

इससे अब मोगा आदमपुर के तहसील दफ्तरों में ऑनलाइन रजिस्ट्री हुआ करेगी। तहसील दफ्तर मोगा में मुख्यमंत्री की वीडियो कांफ्रेंसिंग दौरान जमीन की खरीद, बेच की आॅनलाइन रजिस्ट्री करने की शुरूआत के समय कमिश्नर फिरोजपुर डिवीजन सुमेर सिंह गुर्जर, डिप्टी कमिश्नर मोगा दिलराज सिंह मौजूद थे।

इस मौके डिप्टी कमिश्नर दिलराज सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री ने यह पहल कदमी नागरिकों को बेहतरीन सेवाएं मुहैया करवाने के उद्देश्य से शुरू की है। उन्होंने कहा कि आॅनलाइन प्रणाली होने से जहां रजिस्ट्री अन्य दस्तावेज अपलोड करने के लिए संबंधित डाटे की एंट्री हुआ करेगी। वहीं एनजीडीआरएस प्रोग्राम स्टैंप ड्यूटी, रजिस्ट्रेशन फीस कलेक्टर रेट पर आधारित फीस का हिसाब किताब खुद खुद लिया जाया करेगा।

पंजाब सरकार के इस प्रोजेक्ट के तहत रजिस्ट्रियों का काम ऑनलाइन होने से रजिस्ट्रेशन के काम में पारदर्शिता आएगी। ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन का तरीका बहुत ही आसान होगा और रजिस्ट्री के लिए ऑनलाइन अग्रिम समय लेना होगा।

कार्यक्रम के दौरान यह अधिकारी रहे उपस्थित
इसमौके एडिशनल डिप्टी कमिश्नर जगविंदरजीत सिंह ग्रेवाल, एडीसी विकास राजेश त्रिपाठी, एसडीएम सुखहरप्रीत सिंह सिद्धू, एसडीएम अमरबीर सिंह सिद्धू, एसडीएम निहाल सिंह वाला कम सहायक कमिश्नर हरप्रीत सिंह अटवाल, जिला माल अफसर सविता, तहसीलदार लखविंदर सिंह माल विभाग के अधिकारी कर्मचारी हाजिर थे।

रजिस्ट्री के लिए ऑनलाइन अप्वाइंटमेंट लेनी होगी
इस मौके जमीन खरीदने बेचने वालों की मौजदूगी में ऑनलाइन रजिस्ट्रियां की गई और मौके पर ही खरीददार को नकल दी गई। उल्लेखनीय है कि देश में पंजाब पहला राज्य है जहां पर एनजीडीआरएस प्रोजेक्ट जोकि भारत सरकार का उद्यम है को लागू किया गया है। डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि रजिस्ट्री के लिए पहले ऑनलाइन अप्वाइंटमेंट लेनी जरूरी होगी।