--Advertisement--

कोर्ट रूम लॉक कर शेरा और रमन की पेशी वकीलों को निर्देश, केस का जिक्र बाहर न करें

एनआईए ने मोहाली की स्पेशल एनआईए कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने दोनों को 5 दिन के रिमांड पर भेज दिया है।

Danik Bhaskar | Nov 23, 2017, 05:17 AM IST

मोहाली. लुधियाना में आरएसएस प्रचारक रविंदर गोसाईं के कत्ल मामले में गिरफ्तार आरोपी हरदीप सिंह शेरा निवासी अमलोह तथा रमनदीप सिंह निवासी लुधियाना को एनआईए ने मोहाली की स्पेशल एनआईए कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने दोनों को 5 दिन के रिमांड पर भेज दिया है।


जब आरोपियों को कोर्ट में लाया गया तो पेश होने तक काेर्ट काॅम्पलेक्स में गाड़ी में ही बैठा कर रखा गया। सुरक्षाकर्मी गाड़ी के आसपास शूटिंग पोजिशन में खड़े रहे। लंच के बाद जब आरोपियों को आवाज लगी तो कोर्ट में पेश किया गया। आरोपियों के अंदर जाने के बाद कोर्ट रूम को लॉक कर दिया गया। बाकी स्टाफ नायब कोर्ट व पीओन को भी बाहर कर दिया। सुनवाई के दौरान कोर्ट रूम में सिर्फ जज, स्टेनो, दो आरोपी, एनआईए अधिकारी तथा डीफेंस और प्रोसिक्यूशन के वकील मौजूद थे। डिफेंस के वकील एचएस पन्नू तथा एनआईए के वकील सुरिंदर सिंह दोनों को ही कोर्ट ने निर्देश दिए गए कि कोर्ट रूम से बाहर जाकर केस की डिस्कशन किसी से ना कि जाए क्योंकि मामला देश की सुरक्षा से जुड़ा था।

आतंकी कनेक्शन की जांच के लिए एनआईए ने कस्टडी में लिए

सूत्रों की माने तो पकड़े गए दोनों आरोपियों शेरा और रमनदीप से पुलिस ने विदेशी करंसी तथा विदेशी हथियार बरामद किए थे। पूछताछ में इनके तार विदेश में बैठे आतंकवादियों से जुड़ते नजर आए। सूत्रों ने यह भी बताया, जांच में यह भी सामने आया कि आरोपियों ने आतंकवादियाें से फिरौती लेकर रविंदर गोसाईं की हत्या की थी। आंतकियों के इसी कनेक्शन की जांच करने के लिए एनआईए ने मामला अपने हाथ में लिया है।

माता चंद कौर कत्लकांड : कैप्टन आज कर सकते हैं खुलासा

सीएम कैप्टन वीरवार दोपहर नामधारी संप्रदाय के दरबार भैणी साहिब आएंगे। कयास है कि वह नामधारी संप्रदाय की माता चंद के कत्ल मामले में कोई अहम खुलासा कर सकते हैं। बता दें, डीजीपी सुरेश अरोड़ा 16 नवंबर को भैणी साहिब आए थे। तब उन्होंने बंद कमरे में नामधारी संप्रदाय के सतगुरु उदय सिंह से एक घंटा बात की थी। चर्चा थी कि उन्होंने माता चंद कौर कत्लकांड को लेकर ही उनको प्रोग्रेस रिपोर्ट बताई थी, हालांकि डीजीपी ने इसे उनकी सुरक्षा के बारे में रिव्यू मीटिंग बताया था। माता चंद कौर का कत्ल पिछले साल 4 अप्रैल को हुआ था। अभी तक आरोपियों का पता नहीं लग पाया है।

इधर लुधियाना में जिम्मी का मेडिकल, बुलेट प्रूफ गाड़ी में लाए
इधर लुधियाना पुलिस ने रिमांड पर चले रहे आरोपी जिम्मी का देर शाम मेडिकल करवाया। कड़ी सुरक्षा में सिविल अस्पताल लाया जिम्मी बुलेट प्रूफ गाड़ी में ही बैठा रहा। डाक्टरों की टीम ने सुरक्षा घेरे में ही मेडिकल किया।