लुधियाना

--Advertisement--

सूफियां चौक फैक्टरी हादसा - केमिकल से भरा 20 लीटर का ड्रम मिला, सैंपल भरे

केमिकल से भरा 20 लीटर का ड्रम बरामद किया। टीम ने केमिकल के सैंपल लेकर जांच शुरू कर दी है।

Dainik Bhaskar

Nov 25, 2017, 04:26 AM IST
Soufiya Chowk Factory Incident

लुधियाना. सूफियां चौक स्थित अमरसन पॉलीमर्स में सोमवार को आग लगने के बाद ढही पांच मंजिला बिल्डिंग के मलबे को हटाने का काम पांचवें दिन भी जारी रहा। मौके पर मौजूद फॉरेंसिक टीम ने शुक्रवार को मलबे से शाम पांच बजे केमिकल से भरा 20 लीटर का ड्रम बरामद किया। टीम ने केमिकल के सैंपल लेकर जांच शुरू कर दी है।


इस टीम में सब इंस्पेक्टर जतिंदर सिंह एएसआई सतपाल सिंह, राजिंदर कुमार और धर्मवीर शामिल हैं। जांच कर रहे एएसआई सतपाल सिंह ने बताया कि जिस जगह से यह ड्रम निकाला है वहां पर केमिकल के ड्रमों की बड़ी खेप है। उन्होंने कहा कि अभी ये बताना मुश्किल है कि कितने ड्रम और हैं। मलवे में एक लोहे के सरिए से लिपटे किसी व्यक्ति के बाल भी मिले हैं।

25 फीसदी बचा मलबा

शुक्रवार को पांचवें दिन एसडीआरएफ व एनडीआरएफ की टीमें पांच मंजिला बिल्डिंग का मलबा हटाने में जुटी रहीं। बचाव कार्य में जुटीं टीमें अभी तक भावाधस नेता लक्ष्मण द्राविड़ समेत 13 लोगों की लाशें निकाल चुकी हैं। मलबे में दबे फायरमैन मनोहर लाल, सुखदेव सिंह व मनप्रीत का अभी तक कोई सुराग नहीं लग पाया है। उनके परिवार के लोग तब से मौके पर डेरा जमाए बैठे हैं। एनडीआरएफ टीम के कमांडेंट शशि कुमार के अनुसार फैक्टरी का मलवा 25 प्रतिशत बचा है। उनके अनुसार मलबे के नीचे धधक रही आग के कारण इसे हटाने में देरी हो रही है। उनका मानना है कि रविवार तक सारा मलबा हटा लिया जाएगा

गोला को भेजा दो दिन के पुलिस रिमांड पर

अमरसन पॉलीमर्स फैक्टरी के मालिक इंदरजीत सिंह गोला को शुक्रवार थाना डिवीजन नंबर दो पुलिस ने अदालत में पेश किया। गोला के वकीलों ने मजिस्ट्रेट से उसका रिमांड खत्म कर ज्यूडिशियल कस्टडी में भेजने की मांग की, लेकिन दलीलें सुनने के बाद मजिस्ट्रेट ने उसे दो दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। जानकारी के अनुसार अदालत में बताया गया कि गोला से फैक्टरी में रखे केमिकल के बारे में पूछना है कि उसने वह किससे खरीद था, बिल्डिंग बनाते समय किन अफसरों ने उसकी मदद की, इतने सालों तक उसकी बिल्डिंग की चेकिंग और नियमों का उल्लंघन करने पर कार्रवाई क्यों नहीं हुई। इसके अलावा और भी कई बातों का खुलासा पूछताछ के बाद ही होगा।

सरकारी वकील को नोटिस

सूफियां चौक फैक्टरी हादसे में गिरफ्तार आरोपी इंदरजीत सिंह गोला की गिरफ्तारी के मामले में सरकारी वकील को नोटिस जारी किया गया है। वीरवार को जब ड्यूटी मजिस्ट्रेट सर्वेश सिंह की अदालत में आरोपी को पेश किया तो सरकारी वकील पुलिस का पक्ष रखने को मौजूद नहीं रहे। इसे डायरेक्टर प्रॉसीक्यूशन एंड लिटिगेशन विजय सिंगला ने गंभीरता से लिया। उनके निर्देश पर जिला अटॉर्नी रविंदर कुमार अबरोल ने पेश न होने वाले वकील को नोटिस जारी कर दिया।

X
Soufiya Chowk Factory Incident
Click to listen..