--Advertisement--

टीबी पीड़ित को पेशी के लिए स्ट्रेचर पर कोर्ट लाई पुलिस, 2 घंटे बाहर लेटाने से हालत बिगड़ी

सुनवाई की तारीख 28 नवंबर मुकर्र की गई है। बुल्लोवाल के गांव शेरपुर का रणजीत सिंह 28 -8-2017 से जेल में बंद है।

Danik Bhaskar | Nov 15, 2017, 05:54 AM IST
होशियारपुर. जिला कोर्ट कॉम्पलेक्स में इरादा कत्ल के आरोप में बंद टीबी पीड़ित को मंगलवार को पेशी के लिए स्ट्रेचर पर लाया गया। पुलिस आरोपी को कोर्ट के बाहर गंदगी भरे परिसर में रखकर पेशी का इंतजार करने लगे। दो घंटे बाद आरोपी की हालत बिगड़ गई। लेबर पार्टी के प्रधान जय गोपाल धीमान पेशी में हो रही देरी की शिकायत की तो पता चला कि जज के छुट्टी पर होने से सुनवाई दूसरी कोर्ट को सौंपी जा रही है। धीमान के कहने पर आरोपी को कमरे में लेजाया गया। दोपहर बाद सुनवाई की तारीख 28 नवंबर मुकर्र की गई है। बुल्लोवाल के गांव शेरपुर का रणजीत सिंह 28 -8-2017 से जेल में बंद है।
आरोपी का इलाज चल रहा : पांथे
जेलसुपरिंटेंडेंट विक्रमजीत सिंह पांथे ने कहा-आरोपी रणजीत का जेल के अस्पताल में इलाज चल रहा है। अलग वार्ड में रखा गया है। इससे पहले रणजीत को होशियारपुर सिविल अस्पताल, अमृतसर मेडिकल कॉलेज और पीजीआई भी लेकर गए थे। पेशी पर लेजाने का काम सिविल लाइन पुलिस का है। जेल प्रशासन मरीज का इलाज कराने को प्रतिबद्ध है।
टीबी के मरीज को साफ जगह रखना जरूरी
जयगोपाल धीमान ने कहा कि टीबी से पीड़ित मरीजों को साफ-सुथरी जगह रखना जरूरी होता है, लेकिन जेल प्रशासन की ओर से आरोपी को गंदगी से भरे कोर्ट परिसर में स्ट्रेचर पर लिटा दिया गया, जहां मच्छर और मक्खियों ने उसका और भी बुरा हाल बना दिया है। धीमान ने मांग की कि जिला अदालत में एक साफ वेटिंग रूम बनाया जाए, ताकि पेशी के लिए आने वाले लोगों को कोई परेशानी होने पाए।