पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Ludhiana
  • ये हैं आेम जय जगदीश हरे के जनक, बनाई थी रानी विक्टोरिया की कुंडली

ये हैं आेम जय जगदीश हरे के जनक, बनाई थी रानी विक्टोरिया की कुंडली

6 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
लुधियाना । आेम जय जगदीश हरे आरती की रचना करने वाले पंडित श्रद्धाराम फिलौरी बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। वह लेखक, इतिहासकार, कई भाषाआें, धर्मों और लोकसंगीत के जानकार, महान ज्योतिष, स्वतंत्रता आंदोलन के प्रेरणास्त्रोत और समाजसुधारक थे। उन्होंने इंग्लैंड की महारानी विक्टोरिया की जन्मकुंडली भी बनाई थी। उनके लिखे पहले हिंदी उपन्यास भाग्यवती को किसी दौर में शादी के वक्त बेटी को दहेज के साथ दिया जाता था, ताकि वह संस्कार सीखे। पंडित जी पर रिसर्च करने वाले गुरु नानकदेव यूनिवर्सिटी अमृतसर के डीन रहे इतिहासकार प्रो. हरमोहिंदर सिंह बेदी ने यह खुलासा किया।

वह बुधवार को यहां उनके 178वें जन्मदिवस पर मॉडल टाउन स्थित पुराने कृष्णा मंदिर में रखे गए समारोह को संबोधित कर रहे थे। पंडित श्रद्धाराम फिल्लौरी मेमोरियल वेल्फेयर सोसायटी पंजाब के चेयरमैन केके बावा की पहल पर 12 साल हो रहे इस सालाना समारोह में कौमी भाईचारे की भी शानदार मिसाल देखने को मिली। समारोह के दौरान मशहूर लोकगायक और एमएलए मो. सद्दीक, प्रोफेसर बेदी और प्राचीन संगलावाला शिवाला मंदिर के महंत नारायणदास पुरी की अगुवाई में सामूहिक तौर पर आरती की गई। इस दौरान इंडस्ट्रियलिस्ट और कृष्णा मंदिर प्रंबधक कमेटी के प्रधान जीएल पाहवा सहित विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाली 13 शख्सियतों को सम्मानित किया गया।
आगे की स्लाइड्स में देखें संबंधित फोटोज
खबरें और भी हैं...