कार्रवाई / आतंक फैला जीता था पहलवान, पुलिस देख चप्पल छोड़ भागा



पुलिस गिरफ्त में गैंगस्टर अक्षय पहलवान पुलिस गिरफ्त में गैंगस्टर अक्षय पहलवान
X
पुलिस गिरफ्त में गैंगस्टर अक्षय पहलवानपुलिस गिरफ्त में गैंगस्टर अक्षय पहलवान

  • सोनीपत का 4 लाख का इनामी 19 वर्षीय गैंगस्टर 4 साल में कर चुका 15 कत्ल, 20 डकैती
  • पॉइंट 32 बोर के 3 पिस्टल और गोली सिक्का बरामद

Dainik Bhaskar

Jun 11, 2019, 03:04 AM IST

रोपड़/नूरपुरबेदी. पंजाब के गांव ढाहा में हथियार लेने पहुंचे 19 साल के गैंगस्टर और सुपारी किलर अक्षय पहलवान को पुलिस ने मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया। आरोपी से पॉइंट 32 बोर के तीन पिस्टल और गोली सिक्का बरामद हुआ है। 
पहलवान 15 कत्ल, 4 इरादा कत्ल, 3 जबरन वसूली और डकैती के 15 मामलों में पुलिस को वांछित था।

 

हरियाणा सरकार ने इस पर 4 लाख तो राजस्थान सरकार ने 60 हजार का इनाम रखा था। आतंक फैलाकर जीने वाला पहलवान जब पुलिस पीछे पड़ी तो नंगे पांव भागा। सोनीपत के गैंगस्टर के संबंध गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई और संपत नेहरा से थे। कोर्ट ने आरोपी को 3 दिन के रिमांड पर भेज दिया है। अभी बटाला में कुछ दिन पहले पकड़ा गया गैंगस्टर शुभम भी इसका दोस्त था। 

 

एसएसपी रोपड़ स्वप्न शर्मा ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि पहलवान नूरपुरबेदी के गांव ढाहां में पिंदरी के घर हथियार लेने पहुंचा हुआ है। उसे रंजिश के चलते सोनीपत में कत्ल करना था। पुलिस को देख पहलवान दीवार फांद नंगे पैर खेतों में भागा। उसने 6-7 फायर पुलिस पर भी किए। पुलिस ने भी जवाब में 3 फायर किए। पुलिस ने उसे दबोच लिया। एसएसपी के मुताबिक शक है कि जेल में बंद संपत नेहरा की मुलाकात पिंदरी से हुई थी और नेहरा ने पहलवान को पिंदरी से संपर्क करने को कहा था। पिंदरी की शमूलियत की भी जांच की जा रही है। 
 

5 करोड़ से ज्यादा की फिरौती ले चुका :
सोनीपत-यूपी बॉर्डर पर गांवों के लोग, जो पशुओं को यूपी में सप्लाई करते थे, उनसे प्रति पशु 500 रुपए गुंडा टैक्स वसूलता था। अब तक 5 करोड़ से अधिक की फिरौती ले चुका है। पहलवान सबसे पहले राजू बसोंदी नाम के एक गैंगस्टर से जुड़ा। पिछले 2 सालों में जेल में बंद लारेंस बिशनोई गैंग के संपर्क में आया। अब वह गैंगस्टर शुभम के साथ मिला है। 

 

15 साल की उम्र में किया पहला कत्ल :

पहलवान ने पहला कत्ल 15 साल की उम्र में सोनीपत में ही चाचा को थप्पड़ मारने वाले का गला काटकर किया था। 2015 में कुंडली में पिता-पुत्र का मर्डर किया। जनवरी 2018 में राजगढ़ चुरू (राजस्थान) की कोर्ट में जज के सामने 2 लोगों को गोलियां से भून दिया था। जून 2018 में हनुमानगढ़ (राजस्थान) में विरोधी गैंग के जॉर्डन को 17-18 गोलियां मारी थीं। इन केसों में नाबालिग होने के चलते 18 माह बाद जमानत पर छूट गया था। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना