इलेक्शन खास / वोट देने आइए, आपके बच्चों को खिलाएंगी आंगनबाड़ी वर्कर



Anganwadi workers for children on polling booth
X
Anganwadi workers for children on polling booth

  • आयोग की जिला प्रोग्राम अफसरों को चिट्ठी
  • पोलिंग बूथों पर मिनी क्रैच बनाने के आदेश

Dainik Bhaskar

May 16, 2019, 07:09 AM IST

पटियाला (राणा रणधीर). अगर आप किसी छोटे बच्चे की मां हैं और बच्चा संभालने की फ्रिक में 19 मई को वोट देने जाने को लेकर कंफ्यूज्ड हैं तो चुनाव आयोग ने आपकी सारी चिंताएं खत्म कर दी हैं। जी हां, चुनाव आयोग ने सूबे के सभी जिला चुनाव अधिकारियों कम डिप्टी कमिश्नरों को चिट्ठी लिखकर 19 मई को वोटिंग वाले दिन सभी पोलिंग बूथों पर अांगनबाड़ी वर्करों की ड्यूटी लगाने के अादेश जारी किए हैं।

 

इन अादेशों में साफ किया गया है कि पोलिंग बूथ पर कोई छोटे बच्चे वाली महिला वोट डालने अाती है तो अांगनबाड़ी वर्कर न सिर्फ उस बच्चे को संभालेंगी, बल्कि उस बच्चे का मन बहलाने के लिए पोलिंग बूथ पर मिनी क्रैच में उसे खिलाएंगी भी।

 

जिला चुनाव अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वो यह सुनिश्चत करें कि हर पोलिंग बूथ पर मिनी क्रैच बनाया जाए, जिसमें ये बच्चे अाराम से खेल कूद सकें। सभी अांगनबाड़ी वर्करों को 19 मई को वोटिंग वाले दिन सुबह 7 बजे संबंधित बूथों पर पहुंच जाने के निर्देश भी जारी कर दिए गए हैं। बता दें कि पंजाब में 26 हजार 666 अांगनबाड़ी सेंटरों में 53 हजार अांगनबाड़ी वर्कर अौर हेल्पर काम कर रही हैं। 

 

 

ये दिक्कतें भी हैं- क्रैच तो बना दिए न बच्चों के लिए रिफ्रेशमेंट, न गद्दे अौर न खिलौने

चुनाव अायोग ने हर पोलिंग बूथ पर मिनी क्रैच बनाने के निर्देश तो जारी कर दिए हैं, लेकिन इसमें कुछ दिक्कतें भी हैं। अांगनबाड़ी वर्कर यूनियन की प्रधान अमृतपाल कौर के मुताबिक क्रैच की सबसे पहली जरूरी गेम्ज (खिलौने) होती है ताकि छोटे बच्चों को बहलाया जा सके, लेकिन उनके पास खिलौनों का कोई स्टॉक ही नहीं है। इसके अलावा टेंपरेरी तौर पर बनाए जा रहे क्रैच में पंखा, पानी, बिजली का भी कोई अता पता नहीं है। बच्चों को बिठाने के लिए गद्दे कहां से मिलेंगे, जानकारी नहीं दी गई है। बच्चों के लिए खाने पीने का अांगनबाड़ी का सामान है, लेकिन ये बच्चों को देना है या नहीं, सरकार ने स्पष्ट नहीं किया है। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना