पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हॉस्पिटल में सफाई, मरीजों की सहुलियतों पर खास फोकस : डॉ. रवि

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

डॉ. अविनाश जिंदल की ट्रांसफर होने के बाद सीएचसी धनौला से आए एसएमओ डॉ. रवि दत्त ने सिविल हॉस्पिटल लुधियाना में सीनियर मेडिकल अफसर के तौर पर जॉइन कर लिया है। शुक्रवार को जॉइन करने के बाद स्टाफ के साथ रुबरु हुए। वहीं, शनिवार को भी स्टाफ, पैरामेडिकल स्टाफ के साथ मीटिंग की। डॉ.रवि की ज्वाइनिंग के बाद दैनिक भास्कर द्वारा उनके साथ बातचीत कर सिविल हॉस्पिटल में मौजूद मुद्दों को उठाने के साथ ही उनके भविष्य के प्लान के बारे में भी जानकारी हासिल की गई। एसएमओ डॉ. रवि दत्त ने कहा कि सफाई, सुरक्षा, स्टाफ को प्रेरित करना और विभाग द्वारा जारी हुक्मों का ज्यों का त्यों पालन करना उनका मुख्य मकसद रहेगा।

सिविल हॉस्पिटल के नवनियुक्त एसएमओ डॉ. रवि दत्त सेे भास्कर ने की बातचीत

{हॉस्पिटल में स्टाफ की भारी कमी है, जिसका खामियाजा आम लोगों को भुगतना पड़ रहा है, उसके लिए क्या करेंगे?

-विभिन्न विभागों का रिव्यू करूंगा। जरूरत के मुताबिक स्टाफ मुहैय्या करवाने की कोशिश की जाएगी। जिस जगह पर ज्यादा पब्लिक डिलिंग नहीं होगी वहां पर अगर ज्यादा स्टाफ हुआ तो कम स्टाफ की जगह पर उन्हें शिफ्ट किया जाएगा। हॉस्पिटल में लोग इलाज के लिए ज्यादा आते हैं इसलिए भीड़ भी ज्यादा रहती है। उसके लिए हम जल्द ही एक्शन प्लान तैयार करेंगे।

{हॉस्पिटल में सफाई के प्रबंध पुख्ता नहीं हैं, इनफेक्शन फैलने का भी खतरा रहता है उसके लिए आप क्या करेंगे?

-हॉस्पिटल में लोग ठीक होने के लिए आते हैं। लेकिन अगर गंदगी फैली होगी तो ठीक होने के बजाए लोग इनफेक्शन लेकर घर लौटेंगे उससे कोई फायदा नहीं होगा। सफाई न रखने पर सख्त एक्शन लिया जाएगा। मैंने अपने स्टाफ को खास हिदायत दी है कि सफाई को अहम रखना है। जिसमें सफाई मुलाजिम बफर स्टॉक खत्म होने से पहले ही डिमांड हमें दी जाए। ताकि सप्लाई भी जल्द हो और सफाई का काम प्रभावित न हो। सुरक्षा एक अहम मुद्दा है।

{आम लोगों को अगर फिर भी समस्या का सामना करना पड़ा तो उसके लिए क्या करेंगे?

-आम लोगों को समस्या का सामना न करना पड़े इसका खास ध्यान रखूंगा। आम लोगों के लिए हम इस कुर्सी पर हैं। समाज सेवा की ओर मेरा शुरुआत से ही ध्यान है। 52 वर्ष की उम्र है। कुछ साल की और ड्यूटी है। एेसे में लोगों को पूरी मदद हो इसी की कोशिश रहेगी। महिलाओं, बुजुर्गों, बच्चों को किसी भी तरह की परेशानी है तो वो सीधा मुझसे संपर्क कर सकते हैं।

{हाल ही में हॉस्पिटल से बच्ची चोरी हो चुकी है। सुरक्षा के इंतजाम सही नहीं हैं?

-यूनिफॉर्म कंपलसरी है। सभी स्टाफ को यूनिफॉर्म और आईडी कार्ड दिए जाएंगे। जिन्हें पहनना जरूरी होगा। उसके लिए हम जल्द ही एक्शन लेंगे।

{स्टाफ का साथ आप किस तरह से लेंगे?

-स्टाफ को आम लोगों से अच्छा व्यवहार करने के लिए कहा जाएगा। वहीं, जो लोग अच्छा काम करेंगे उन्हें इसी तरह काम करने के लिए प्रेरित किया जाएगा। ताकि ज्यादा लोग अच्छा काम करें।

{हॉस्पिटल में डॉक्टर्स की कमी को दूर करने के लिए आपकी क्या प्लानिंग है?

-स्टाफ की कमी के लिए पहले भी काफी बार विभाग को लिखा जा चुका है। मैं ज़रुरत के अनुसार उस कमी को भी पूरा करने के लिए रिक्मेंडेशन भेजूंगा।

{एमसीएच में लिफ्ट है पर चालू नहीं?

-एमसीएच में लिफ्ट चलाने के लिए हम सिविल सर्जन से चर्चा कर चुके हैं। उस मुद्दे को भी जल्द ही हल किया जाएगा।

{हॉस्पिटल के सुधार के लिए क्या प्लानिंग है?

-एनजीओ के साथ मीटिंग कर भी वो हॉस्पिटल में ज्यादा से ज्यादा समाज सेवा के काम करवाने की कोशिश की जाएगी। हम चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा एनजीओ हमारे साथ जुड़ें और हम मिल कर हॉस्पिटल के सुधार के लिए नए प्रोजेक्ट शुरू कर सकें।
खबरें और भी हैं...