पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Ludhiana
  • Ludhiana News Earlier Children And Youth Were Trapped In A Swamp Of Poison Then Used To Seduce Intoxicants And Money The Four Arrested

पहले बच्चे और युवाओं को नशे की दलदल में फंसाते थे, फिर नशे और पैसों का लालच दे करवाते थे वारदातें, चार गिरफ्तार

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
घर से भागकर और फुटपाथ पर सोने वाले बच्चों और युवाओं को गैंग ने पहले फ्री में नशे की लत लगवाई। लत लगने पर उन्हें नशा खरीदने और पैसों का लालच दे वारदातें करवाने वाले चार युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों से 37 मोबाइल फोन बरामद किए हैं। थाना डिवीजन नंबर दो पुलिस ने जवाहर नगर कैंप के पप्पू, पिंटू यादव, ईशर सिंह व राजपुरा के निरवल पर केस किया है। पुलिस आरोपियों को अदालत में पेश करके दो दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है। एएसआई प्रितपाल सिंह अनुसार उन्हें सूचना मिली थी कि उक्त आरोपी चोरी के मोबाइल बेचने को शेरपुर की तरफ जा रहे हैं। पुलिस ने रेड करके जेएमडी मॉल के पास के पास से उक्त आरोपियों को गिरफ्तार लिया। पुलिस ने बताया कि उक्त आरोपी बच्चे व युवाओं को नशे की दलदल में फंसाकर उनसे वारदातें करवाते थे। आरोपी पहले घर से झगड़ा करके व घर छोड़कर आने वाले बच्चे व युवाओं को रेलवे स्टेशन पर ढूंढते थे। इसके अलावा फुटपाथ पर भी सोने वाले व होटलों में काम करते युवाओं की तलाश करते थे। उन्हें ढूंढने के बाद उनको हमदर्दी जताकर नशा करवाते थे। फिर कुछ दिन तक जबरन फ्री में नशा करवाने के बाद जब उन्हें लत लगती तो नशा देने के पैसे मांगते थे। इसी तरह फिर आरोपी उन्हें अपनी तरफ से पांच या छह सौ रुपए देकर रेलवे स्टेशन पर आने-जाने और सोने वाले लोगों का सामान चोरी करवाते थे। फिर उन्हें इसी धंधे में शामिल करवा वारदातें करते थे।

बदमाश अब तक 50 से अधिक वारदातों को दे चुके हैं अंजाम

आश्रम से पढ़ाई के दौरान भागा स्टूडेंट, ट्रेंड कर बनाया क्रिमिनल
आश्रम से पढ़ाई के दौरान भागा स्टूडेंट, ट्रेंड कर बनाया क्रिमिनल
आरोपी पप्पू (48) गैंग का मुख्य सरगना है। वह युवकों को चोरी करने के तरीके भी सिखाता था। उन्हें ट्रेंड कर वारदातें करवाता था। वह इसी तरह नए युवकों को पकड़कर सिखाता और पकड़े जाने के डर से पुरानों को अलग कर देता था। आरोपी निर्वल राजपुरा के एक आश्रम में पढ़ाई करता था। लेकिन वहां झगड़ा होने वह करीब सात महीने पहले भागकर लुधियाना आ गया। यहां उक्त आरोपी उसे मिले और उन्होंने उसे अपना साथ मिलाकर चोरियां करानी शुरू कर दी। आरोपियों के खिलाफ पहले भी आधा दर्जन से अधिक चोरी के मामले दर्ज हैं। पप्पू पिछले 5-6 साल से वारदातें कर रहा है। जबकि बाकी आरोप कुछ समय से इस धंधे में शामिल हुए थे। आरोपी चोरी किए सामान को फोकल पॉइंट जैसे इंडस्ट्रियल इलाकों में जाकर प्रवासियों को बेच देते थे। वह अब तक 50 से अधिक वारदातें कर चुके हैं। पुलिस उनसे मामलों को ट्रेस करवाने में जुटी हुई है।

आरोपी पप्पू (48) गैंग का मुख्य सरगना है। वह युवकों को चोरी करने के तरीके भी सिखाता था। उन्हें ट्रेंड कर वारदातें करवाता था। वह इसी तरह नए युवकों को पकड़कर सिखाता और पकड़े जाने के डर से पुरानों को अलग कर देता था। आरोपी निर्वल राजपुरा के एक आश्रम में पढ़ाई करता था। लेकिन वहां झगड़ा होने वह करीब सात महीने पहले भागकर लुधियाना आ गया। यहां उक्त आरोपी उसे मिले और उन्होंने उसे अपना साथ मिलाकर चोरियां करानी शुरू कर दी। आरोपियों के खिलाफ पहले भी आधा दर्जन से अधिक चोरी के मामले दर्ज हैं। पप्पू पिछले 5-6 साल से वारदातें कर रहा है। जबकि बाकी आरोप कुछ समय से इस धंधे में शामिल हुए थे। आरोपी चोरी किए सामान को फोकल पॉइंट जैसे इंडस्ट्रियल इलाकों में जाकर प्रवासियों को बेच देते थे। वह अब तक 50 से अधिक वारदातें कर चुके हैं। पुलिस उनसे मामलों को ट्रेस करवाने में जुटी हुई है।

पुलिस ने दो बदमाश किए गिरफ्तार।

खबरें और भी हैं...