लक्ष्य ने अंडर 15 और अंडर 17 सिंगल्स में जीते दो गोल्ड

Ludhiana News - स्पोर्ट्स रिपोर्टर। लुधियाना बैडमिंटन एसोसिएशन ऑफ इंडिया की तरफ से स्वीकृत पीएनबी मेटलाइफ नॉर्थ जोन बैडमिंटन...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 08:05 AM IST
Ludhiana News - goal won two gold under under 15 and under 17 singles
स्पोर्ट्स रिपोर्टर। लुधियाना

बैडमिंटन एसोसिएशन ऑफ इंडिया की तरफ से स्वीकृत पीएनबी मेटलाइफ नॉर्थ जोन बैडमिंटन टूर्नामेंट ने 9 से 12 जुलाई 2019 तक चंडीगढ़ में आयोजित किया। इस टूर्नामेंट में लुधियाना के लक्ष्य शर्मा ने अंडर 15 सिंगल्स और अंडर 17 सिंगल्स में दो गोल्ड मेडल जीते। फाइनल में अंडर 15 सिंगल्स में लक्ष्य ने चंडीगढ़ के समरवीर को स्कोर 15-13, 15-5 से हराया। फाइनल में अंडर 17 वर्ग के तहत सिंगल्स में लक्ष्य ने हरियाणा के गगन को 15-3, 14-15, 15-10 से हराकर मुकाबला जीता। पहले क्वार्टर में अंडर 17 सिंगल्स के तहत लक्ष्य ने ध्रुव बंसल चंडीगढ़ स्टेट चैंपियन को 15-5, 6-15, 15-5 से हराया। अंडर 15 प्री क्वार्टर में भी लक्ष्य ने गगन को हराया जो पिछले साल भारतीय टीम के सदस्य थे और वर्तमान स्कोर 2 में भारत 11-3 और 11-7 अंक पर था। इन दोनों के बीच यह पहली मुलाकात है। भारत में लक्ष्य रैंक 10 और गगन रैंक 2 पर है। इस टूर्नामेंट में पूरे नॉर्थ से 1059 प्रविष्टियां थीं। लक्ष्य के पिता मंगत राय शर्मा एनएसअाई क्वालीफाइड और फॉर्मर नेशनल जूनियर कोच ऑफ इंडिया उसको कोचिंग देते हैं और लक्ष्य भी पूरी मेहनत से आगे बढ़ रहा है। लक्ष्य अब तक कई स्टेट, नेशनल और इंटरनेशनल मेडल हासिल कर चुका है। वह सेक्रेड हार्ट कॉन्वेंट स्कूल में पढ़ता है। स्कूल की प्रिंसिपल सिस्टर रेशमी ने लक्ष्य को बधाई दी और इस तरह ही भविष्य में भी शानदार प्रदर्शन करते रहने को प्रेरित किया। राजिंदर कलसी जनरल सेक्रेटरी पंजाब बैडमिंटन एसोसिएशन और मोहिंदर सिंह गरेवाल लुधियाना जिला बैडमिंटन एसोसिएशन के अध्यक्ष और अरुण ढंड पूर्व मास्टर वर्ल्ड चैंपियन और राष्ट्रीय पदक विजेता खिलाड़ी आनंद तिवारी ने भी बधाई दी।

देश के लिए मेडल जीतने के लक्ष्य के साथ जुटे हैं तैयारियाें में

अभिषेक, ख्वाब, परमीत सिंगापुर में 39 गोजुकाई इंटरनेशनल कराटे चैंपियनशिप में दिखाएंगे दम

अभिषेक गीर

अभिषेक गीर लुधियाना जिला कराटे चैंपियनशिप 2018 में ब्रॉन्ज मेडल, काठमांडू ओपन इंटरनेशनल कराटे चैंपियनशिप में ब्रॉन्ज मेडल, जुलाई 2019 में कुआलालंपुर मलेशिया में 20वीं मायलो इंटरनेशनल कराटे चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीत चुका है। अभिषेक गिर की स्कूल कराटे कोच गुरप्रीत कौर का कहना है कि अभिषेक एक ब्रिलियंट कराटे स्टूडेंट है, जिसने बहुत ही कम समय में इतनी बड़ी उपलब्धियां हासिल की है। अभिषेक के पिता गुरप्रीत गिर भी उसकी इस कामयाबी पर काफी खुश हैं।

ख्वाब गौतम

ख्वाब गौतम ग्रीन ग्रोव बढ़ी स्कूल दोराहा का स्टूडेंट है। लुधियाना जिला कराटे चैंपियनशिप अप्रैल 2018 में सिल्वर मेडल जीता। 5 वीं उत्तर भारत कराटे चैंपियनशिप में अगस्त में गोल्ड मेडल जीता। लुधियाना जिला कराटे चैपियनशिप अप्रैल 2019 में गोल्ड मेडल जीता। कुआलालंपुर मलेशिया में 20वी मायलो इंटरनेशनल कराटे चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीता। ख्वाब के स्कूल कराटे कोच मनोज कुमार का कहना है कि ख्वाब मे क्षमता है कि वह सिंगापुर में भी मेडल हासिल कर सकता है।

ये खिलाड़ी हैं प्रतिभाशाली, मेडल जीतकर ही लौंटेगे

लुधियाना डिस्ट्रिक्ट कराटे एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी व अशोक कराटे स्कूल ऑफ इंडिया के संचालक शिहान अशोक चौहान ने कहा कि अभिषेक, ख्वाब, परमीत ये तीनों खिलाड़ी प्रतिभाशाली हैं। अभी तक हर चैंपियनशिप में मेडल जीता है और अब भी हमें पूरी उम्मीद है कि सिंगापुर में भी अपने शानदार प्रदर्शन से मेडल जीतकर ही वापिस लौंटेगे।

झाड़ साहिब कॉलेज की हैं स्टूडेंट

चार छात्राओं को मिला ब्लैक बेल्ट का सम्मान

श्री माछीवाड़ा साहिब| एसजीपीसी के अधीन चल रहे गुरु गोबिंद सिंह खालसा काॅलेज फार वुमन झाड़ साहिब की चार छात्राओं ने ताइक्वांडो मार्शल आर्ट का टेस्ट पास किया है। तोकी ताइक्वांडो एकेडमी रोपड़ में लिए गए टेस्ट जिनमें फिटनेस, स्पीड, पूमसे और आत्मरक्षा तकनीक आदि के टेस्ट इंटरनेशनल रेफरी सरबजीत सिंह, महिला विंग की इंचार्ज नेशनल रेफरी रुपिंदर कौर अौर नेशनल रेफरी कोच लवी ढिल्लों द्वारा लिए गए थे। इसके लिए विभिन्न एकेडमियों के 25 खिलाड़ियों ने भाग लिया था। टेस्ट को झाड़ साहिब काॅलेज की चार छात्राएं सुमनप्रीत कौर, लवप्रीत कौर, कोमलप्रीत कौर और दलजीत कौर ने पास किया है। बता दें पूरे हलके समराला में पहली बार छात्राओं को महिला ब्लैक बैल्ट (ताइक्वांडो) होने का सम्मान मिला है। टेस्ट पास करने वाले छात्राअों को सर्टिफिकेट जारी किए गए। प्रिंसिपल डाॅ. रजिंदर कौर ने खेल विभाग के प्रमुख रविता रविता सैणी ने बधाई दी।

परमीत सिंह ग्रेवाल

परमीत सिंह ग्रेवाल पीस पब्लिक स्कूल फिरोजपुर रोड स्कूल का स्टूडेंट है। सीकेसी उत्तर भारत कराटे चैंपियनशिप में सिल्वर, चिकोलीम स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स वास्को डी गामा गोवा में सिल्वर, 5वीं इंटरनेशनल ओपन कराटे चैंपियनशिप केएल मयूर कप में सिल्वर अौर शाबीब अल अहली क्लब दुबई में बुडकोन कप इंटरनेशनल कराटे चैंपियनशिप में भी सिल्वर मेडल जीत चुका है। परमीत के स्कूल कराटे कोच राजीव कुमार का कहना है की परमीत के ऊपर हम सबकी बहुत आशाएं हैं और 39 गोजुकाई सिंगापुर कराटे चैंपियनशिप में परमीत मेडल जीतकर स्कूल का और भारत देश का नाम रोशन करेगा।

लुधियाना। कुआलालंपुर मलेशिया में जुलाई 2019 को आयोजित 20वीं मायलो इंटरनेशनल कराटे चैंपियनशिप में शानदार प्रदर्शन के बाद लुधियाला जिले के खिलाड़ी अब अगस्त 2019 में

सिंगापुर में 39 गोजुकाई इंटरनेशनल कराटे चैंपियनशिप में अपना दम दिखाने की तैयारी में हैं। इस चैंपियनशिप के लिए लुधियाना जिले के अभिषेक, ख्वाब और परमजीत अपने शानदार प्रदर्शन के कारण क्वालीफाई कर चुके हैं।

 

एक इनोवेटर की मदद करना परोपकार से कम नहीं

सेना में अपने कार्यकाल के दौरान, उसने जवानों का ऐसा कौशल देखा जिससे वे सर्वाधिक शत्रुतापूर्ण और दुर्गम इलाकों में भी जमीनी स्तर पर हालात को संभालते हैं। वे किसी भी परिस्थिति में खुद को ढाल लेते हैं, जिसमें लड़ाई और बिना-लड़ाई वाली स्थितियां होती हैं। कुदरती आपदा के दौरान फंसे लोगों को बचाकर निकालने के लिए अस्थायी रूप से पुल बनाने से लेकर उन तक खाना पहुंचाने के लिए वे अपना काम समय की मांग के हिसाब से बिना शिकायत बड़े ही इनोवेटिव तरीके से करते हैं। मेरी नजर में वे सदियों से सर्वश्रेष्ठ ग्रास-रूट लेवल के इनोवेटर्स बने हुए हैं। इसी विचार ने उसे सोचने पर मजबूर किया ऐसे और भी इनोवेटर्स गांव-कस्बों में होंगे जिनके बारे में हम वाकई कुछ भी नहीं जानते हैं।

इसी दौरान एक बार देश के नेशनल इनोवेशन फाउंडेशन में एक सत्र के दौरान, वह यह देखकर हैरान था कि उसके मूल राज्य अविभाजित आंध्र प्रदेश से कोई इनोवेटर उनकी लिस्ट में नहीं था। यही कारण बना कि 2005 में अपने रिटायरमेंट के ठीक एक महीने के बाद, ब्रिगेडियर पी गणेशम ने ‘पल्ली सृजन (ग्रामीण इनोवेशन)’ केंद्र की स्थापना कर दी। इसके बाद से ही इस केंद्र का इरादा गांवों में कुछ नया करने वाले लोगों और संबंधित हितधारकों के बीच एक सम्पर्क बनाना है। चूंकि उनकी पेंशन आजीविका के लिए पर्याप्त थी, इसलिए इस केंद्र में स्वैच्छिक काम करने पर जोर दिया गया। इस केंद्र ने सबसे पहले कृषि और गैर-कृषि क्षेत्रों के लिए ऐसे उपयोगी साधनों पर ध्यान दिया जिनसे रोजमर्रा की समस्याओं का समाधान निकल सकता है। उनका ध्यान खासतौर पर अर्थव्यवस्था की सबसे निचली पायदान पर मौजूद गरीब लोगों के जीवन को आसान बनाने पर है।

हर तीन महीने में ‘पल्ली सृजन’ केंद्र एक ‘शोध यात्रा’ का आयोजन करता है जो तेलंगाना और आंध्र के विभिन्न गांवों तक पहुंचती है। वे सबसे पहले लोगों को कुछ इनोवेशन के ऑडियो-विजुअल प्रेजेंटेशन दिखाते हैं और फिर उनसे पूछते हैं कि क्या उनके पास भी ऐसा कुछ साझा करने के लिए है। हालांकि शुरुआती रुझान उम्मीद के हिसाब से कम ही होते हैं- यात्रा में पहुंचे युवा अपने आइडिया के बारे में बताने से झिझकते हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि उनकी हंसी उड़ाई जाएगी, जबकि दूसरी ओर वरिष्ठ लोग गांव वालों को इसलिए कोसते हैं कि वे निठल्ले पड़े रहते हैं और कुछ नया नहीं करते। इसी कशमकश के बीच जब वे अपने कार्यक्रम का समापन कर रहे होते हैं तो, एक न एक व्यक्ति थोड़ा झिझकते हुए उन तक पहुंचता है और फिर धीरे से अपना आइडिया के बारे में बताता है। उन तक पहुंची पहली इनोवेशन में कपड़ों पर प्रेस करनी वाली इस्त्री में कोयले की बजाय, गैस का इस्तेमाल करना था। इसलिए, टीम ऐसा नया काम करने वाले व्यक्ति से मिलती है और उनके प्रोटोटाइप के बारे में गहराई से समझती है। उनके साथ जुड़ने वाले इनोवेटर्स वास्तव में ऐसे लोग हैं जिनकी भौतिकी और गणित की कोई पृष्ठभूमि नहीं है, लेकिन वे रोजमर्रा की परेशान करने वाली किसी समस्या का कारगर समाधान निकाल लेते हैं।

सिकंदराबाद के वायुपुरी में उनके दफ्तर बाहरी हिस्से में ग्रामीण इनोवेटर्स के बनाए कुछ उपयोगी नमूने प्रदर्शित किए गए हैं। इनमें सबसे ज्यादा ध्यान खींचती है एक मोबाइल चार्जिंग यूनिट। आपने ऐसी यूनिट एयरपोर्ट पर और कई दफ्तरों में देखी होगी, लेकिन अंतर ये है कि यहां रखी यूनिट सोलर पैनल से चलती है। आप यहां आएं और किसी कार्यकर्ता से मिलने के लिए इंतजार करने के दौरान अपना फोन इस यूनिट में चार्ज कर सकते हैं और साथ ही देसी वाटर फिल्टर और कूलर से एक ग्लास ठंडे पानी आनंद ले सकते हैं। आपका मन चाहे तो यहां एक नारियल के पेड़ पर चढ़ने वाली मैटेलिक यूनिट की बड़े आराम से सवारी कर सकते हैं या पूराने स्कूटर इंजन से चलने वाली घास काटने की मशीन को देख सकते हैं।

वर्तमान में ‘पल्ली सृजन’ के पास विकास की विभिन्न अवस्थाओं में करीब 200 इनोवेशन्स हैं, 26 प्रोडक्ट बिक्री के लिए तैयार हैं। इनके पास 24 पेटेंट हैं और 13 इनोवेटर्स को राष्ट्रपति सम्मान तथा दो को पद्मश्री पुरस्कार मिल चुका है। हर दो महीने में ये संस्था एक तेलुगू पत्रिका का प्रकाशन करती है जिसमें कम से कम चार इनोवेटर्स और उनके काम की कहानी होती है। अब तक इसके 67 संस्करणों का प्रकाशन हो चुका है। पिछले 14 वर्षो में उन्होंने इनोवेटर्स के लिए करीब 4 करोड़ रुपए की वित्तीय सहायता जुटाने में सफलता पाई है। आज वे कई लोगों को पेटेंट कराने में, राष्ट्रीय स्तर के इनोवेशन अवार्ड के लिए आवेदन करने और प्रदशर्नियों में भाग लेने में भी मदद कर रहे हैं। और, इन सभी के कारण उनकी बनाई गई किसी भी नई चीज को बाजार मिलने की संभावना बढ़ जाती है।

फंडा ये है कि किसी इनोवेशन या नवाचार करने वाले एक व्यक्ति के आइडियो को साकार करने में मदद करने से ऐसे सैकड़ों लोगों की मदद हो सकती है जो उसी नाव में सवार है या वैसी ही परिस्थिति का सामना कर रहे हैं। और, यह किसी परोपकार से कम नहीं।

मैनेजमेंट फंडा एन. रघुरामन की आवाज में मोबाइल पर सुनने के लिए 9190000071 पर मिस्ड कॉल करें

एन. रघुरामन

मैनेजमेंट गुरु

raghu@dbcorp.in

Ludhiana News - goal won two gold under under 15 and under 17 singles
Ludhiana News - goal won two gold under under 15 and under 17 singles
Ludhiana News - goal won two gold under under 15 and under 17 singles
Ludhiana News - goal won two gold under under 15 and under 17 singles
Ludhiana News - goal won two gold under under 15 and under 17 singles
Ludhiana News - goal won two gold under under 15 and under 17 singles
X
Ludhiana News - goal won two gold under under 15 and under 17 singles
Ludhiana News - goal won two gold under under 15 and under 17 singles
Ludhiana News - goal won two gold under under 15 and under 17 singles
Ludhiana News - goal won two gold under under 15 and under 17 singles
Ludhiana News - goal won two gold under under 15 and under 17 singles
Ludhiana News - goal won two gold under under 15 and under 17 singles
Ludhiana News - goal won two gold under under 15 and under 17 singles
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना