• Home
  • Punjab
  • Ludhiana
  • शराब पीने के लिए पैसे देने से मना करने पर किया था मर्डर, दो गिरफ्तार, 1 फरार
--Advertisement--

शराब पीने के लिए पैसे देने से मना करने पर किया था मर्डर, दो गिरफ्तार, 1 फरार

शराब पीने के लिए पैसे देने से मना करने पर नशे में धुत्त तीन लोगों ने रेलवे स्टेशन पर काम करने वाले युवक पर चाकुओं से...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 04:25 AM IST
शराब पीने के लिए पैसे देने से मना करने पर नशे में धुत्त तीन लोगों ने रेलवे स्टेशन पर काम करने वाले युवक पर चाकुओं से हमला कर उसका मर्डर कर दिया था। इस मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। उनकी पहचान श्रवण कुमार उर्फ गोगिया और विक्की उर्फ ऊड़ी है। जबकि तीसरा आरोपी फरार है। आरोपियों ने वारदात को अंजाम उस समय दिया था, जब सोहन ड्यूटी के दौरान रेलवे स्टेशन में सुनसान जगह पर पेशाब करने गया था। हमले के दौरान आरोपियों से उससे एक हजार रुपए और मोबाइल भी छीन लिया था।

इंस्पेक्टर इंदरजीत सिंह ने बताया कि मामले की जांच के दौरान एएसआई सुखदेव सिंह को पता चला कि आरोपी उसका मोबाइल छीन कर ले गए हैं। मोबाइल की लोकेशन से आरोपियों को ट्रेस किया गया। पुलिस ने पहले आरोपी श्रवण कुमार को गिरफ्तार किया, बाद में पूछताछ के बाद आरोपी विक्की को पकड़ा गया। आरोपियों ने बताया कि वह अपने तीसरे साथी के साथ शराब पी रहे थे। शराब खत्म होने पर उनके पास पैसे नहीं थे। पहले वह लूट की वारदात को अंजाम देने के लिए छावनी मोहल्ले की तरफ गए, लेकिन वहां पर कोई नहीं मिला। इस पर वह रेलवे स्टेशन पर वापस आए तो सोहन झाड़ियों के पास खड़ा था। इस पर उससे शराब पीने के लिए पैसे मांगे तो उसने झगड़ना शुरू कर दिया और हाथापाई हो गई। इस पर उन्होंने उस पर चाकू से वार कर नकदी और मोबाइल छीन लिया। जांच में पता कि आरोपी श्रवण और विक्की के खिलाफ पहले भी छह मामले दर्ज हैं। आरोपी श्रवण से पहले पिस्तौल भी बरामद किया गया था। आरोपियों से अन्य वारदातों को लेकर पूछताछ की जा रही है।

पकड़े गए आरोपियों की जानकारी देते अफसर।

विदेश भेजने के नाम ठगी के 35 मामलों में वॉन्टेड काबू

लुधियाना| लोगों को विदेश भेजने के नाम पर ठगने के आरोप में दर्ज 35 मामलों में वॉन्टेड आरोपी को सीआईए-2 की टीम ने गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के खिलाफ जालंधर, फगवाड़ा, जीरा, लुधियाना, होशियारपुर और कपूरथला में धोखाधड़ी के मामले दर्ज हैं। आरोपी वाल्मीकि गेट नीला महल जालंधर का राकेश अरोड़ा है। आरोपी को कोर्ट में पेश कर एक दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है।

इंस्पेक्टर राजेश शर्मा ने बताया कि आरोपी ने अलग-अलग जिलों में इमीग्रेशन ऑफिस खोल रखे थे। लोगों को विदेश भेजने के नाम पर पैसे लेता था। आरोपी के खिलाफ फगवाड़ा में ही अमानत में ख्यानत और धोखाधड़ी के 18 मामले दर्ज हैं। एक जिले में पुलिस को वॉन्टेड होने के बाद आरोपी दूसरे जिले में जाकर ऑफिस खोल लेता था। आरोपी पिछले कुछ समय में फोकल पॉइंट इलाके में अपना कारोबार चला रहा था। आरोपी पहले भी कपूरथला जेल में 17 महीने बंद रहा है और आरोपी बाहर आते ही फिर अपना धंधा शुरू कर दिया। आरोपी से अन्य मामलों को लेकर भी पूछताछ की जा रही है।

जानकारी देती सीआईए-2 पुलिस।