• Home
  • Punjab
  • Ludhiana
  • मीरा दास का अगला लक्ष्य एशियन गेम्स में गोल्ड जीतना
--Advertisement--

मीरा दास का अगला लक्ष्य एशियन गेम्स में गोल्ड जीतना

स्पोर्ट्स रिपोर्टर। लुधियाना। कैनोइंग में अपना टैलेंट दिखा कई गोल्ड मेडल अपने नाम कर चुकी मीरा दास इन दिनों...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 04:30 AM IST
स्पोर्ट्स रिपोर्टर। लुधियाना।

कैनोइंग में अपना टैलेंट दिखा कई गोल्ड मेडल अपने नाम कर चुकी मीरा दास इन दिनों एशियन गेम्स कैंप केरल में अपने अगले लक्ष्य की तैयारियों के लिए पूरी मेहनत कर रही हैं। वह अब अगस्त में इंडोनेशिया में आयोजित होने वाले एशियन गेम्स की तैयारियां कर रही हैं, ताकि ताकि देश को मेडल दिला सके। कोच दीपक कुमार ने बताया कि मीरा इससे पहले भोपाल में ट्रेनिंग लेने गई थी। दरअसल ट्रेनिंग सेशन में बदलाव होते रहते हैं, ताकि खिलाड़ियों को अच्छी तरह से तैयार किया जा सके। अगस्त तक ट्रेनिंग का सिलसिला ऐसे ही जारी रहेगा। मीरा ने ऑल इंडिया इंटर यूनिवर्सिटी में 9 गोल्ड मेडल जीते हैं। भोपाल में हुए सीनियर नेशनल में तीन गोल्ड मेडल हासिल कर चुकी है। इसके अलावा वर्ल्ड चैंपियनशिप फ्रांस में 13वां रैंक और एशियन चैंपियनशिप चाइना में चौथा रैंक हासिल किया। मीरा ने अपनी स्कूली शिक्षा अंडमान निकोबार से पूरी की। अब वह डीडी जैन कॉलेज में बीए फर्स्ट ईयर की स्टूडेंट हैं और शहर से करीब 30 किलोमीटर दूर गुरुसर सुधार में जीएसजी खालसा काॅलेज की तरफ से सूबे के पहले वाटर स्पोर्ट्स क्लब में भी ट्रेनिंग शुरू की। फिर एशिया गेम्स में सलेक्शन के बाद वह इंडिया कैंप चली गईं। गुरुसर सुधार में यह क्लब कैकिंग कैनाेइंग एसोसिएशन ऑफ इंडिया के एग्जीक्यूटिव मेंबर और चंडीगढ़ स्टेट के जनरल सेक्रेटरी दीपक कुमार शंकर चला रहे हैं। इस क्लब में करीब 60 लड़के-लड़कियां कोचिंग ले रहे हैं। क्लब का मकसद है पंजाब के खिलाड़ियों को इंटरनेशनल और ओलिंपिक्स के लिए तैयार किया जाना है, ताकि देश के नाम मेडल आएं।

मीरा दास

गुरुसर सुधार में 60 लड़के-लड़कियां कोचिंग ले रहे हैं।