अस्पताल की तरह लोग मजबूरन आते हैं कोर्ट में पीड़ितों को इंसाफ दिलाना जजों-वकीलों का फर्ज

Ludhiana News - अस्पताल और अदालत, दोनों जगह लोग अपनी मर्जी से नहीं आते हैं। अदालतों में जो मजबूर व सताए लोग आते हैं, उनको इंसाफ...

Sep 22, 2019, 08:16 AM IST
अस्पताल और अदालत, दोनों जगह लोग अपनी मर्जी से नहीं आते हैं। अदालतों में जो मजबूर व सताए लोग आते हैं, उनको इंसाफ दिलाना जजों और वकीलों की नैतिक जिम्मेदारी है। सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस हेमंत गुप्ता ने यहां शनिवार को जिला कोर्ट के एडीशनल ब्लॉक के उद्घाटन के बाद गुरु नानकदेव भवन में रखे समागम में यह बात कही। सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस सूर्यकांत के साथ उन्होंने नए ब्लॉक का उद्घाटन किया। इस दौरान पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट के एक्टिंग चीफ जस्टिस राजीव शर्मा, जस्टिस आरके जैन, जस्टिस राजन गुप्ता, जस्टिस ललित बतरा, जस्टिस एचएस मदान के अलावा जिला सेशन जज गुरबीर सिंह व लीगल सर्विसेज आथोरिटी पंजाब की मेंबर रुपिंदरजीत कौर चाहल की खास मौजूदगी रही।

वहीं, समागम में जजों, वकीलों व लॉ-स्टूडेंट्स को संबोधित करते जस्टिस गुप्ता ने मां बोली पंजाबी में जज्बात जाहिर करते बेबाकी से बोले कि उन्होंने बतौर वकील अपना करियर शुरू किया और सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस जैसे प्रतिष्ठित पद तक पहुंचे। उन्होंने नैतिकता की सीख देते कहा कि पंजाब गुरुओं की धरती है। खासकर सिख धर्म में दोसांध का प्रावधान है, यानी अपनी कीरत कमाई का 10 फीसदी दान और अच्छे कामों में लगाएं। इसी तरह वकील भी कम से कम 10 फीसदी वकीलों के केस मुफ्त लड़ें।

समागम में मंच संचालन से लेकर सभी इंतजाम ज्युडीशियल अफसरों ने ही संभाले

काबिलेजिक्र है कि इस समागम में पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस कृष्ण मुरारी नहीं आ सके। वह शुक्रवार को पदोन्नत होकर सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस बने हैं, उनके स्थान पर एक्टिंग चीफ जस्टिस राजीव शर्मा मौजूद रहे। उन्होंने ऐतिहासिक शहर लुधियाना के बारे में विस्तार से अहम जानकारी दी। इस मौके पर मंच संचालक की जिम्मेदारी जिला एडीशनल सेशन जज रश्मी शर्मा ने निभाई। अंग्रेजी के साथ उर्दू लहजे में संचालन कर खूब वाहवाही लूटी। समागम की तमाम जिम्मेदारियां ज्युडीशियल अफसरों ने ही संभालीं। इनमें सीजेएम पीएस कालेका, जिला लीगल सर्विसेज आथोरिटी के सेक्रेटरी कम सीजेएम विक्रांत कुमार, एडीशनल सेशन जज जेएस मरोक, टीएस बिंद्रा और बलविंदर कुमार की विशेष उपस्थिति रही। साथ ही जिला बार एसोसिएशन की आेर से सीनियर वकीलों एमसी सहगल, हरिंदर नारंग, एनके छिब्बर, गुरिंदर पाल सूद, नरिंदर आदिया, आरएस मंड, पीएस घुम्मन, एसके शर्मा, बलदेव अरोड़ा, गगनदीप कौर बराड़ ने प्रतिनिधित्व किया।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना