लुधियाना / शराब कंपनियों ने नहीं जमा कराया मुलाजिमों का 1.22 करोड़ पीएफ, 15 दिन का दिया समय



लुधियाना लुधियाना
X
लुधियानालुधियाना

  • जालंधर की वाइन सेल्समैन एंड वर्कर्स यूनियन की शिकायत पर हुआ था खुलासा
  • पीएफ डिपार्टमेंट की ओर से की गई जांच में पाया गया सही

Dainik Bhaskar

Oct 11, 2019, 04:27 AM IST

लुधियाना. लुधियाना में साल 2017-18 के दौरान शराब कारोबारियों की तरफ से करीब 500 मुलाजिमों का पीएफ का करीब 1.22 करोड़ जमा नहीं करवाया गया है। ये खुलासा एक शिकायत के आधार पर पीएफ डिपार्टमेंट द्वारा की गई जांच में हुआ। पीएफ डिपार्टमेंट ने कार्रवाई करते हुए मुलाजिमों के पीएफ का पैसा जमा नहीं करवाने वाली कंपनी गगन वासू और अविनाश ढोडा को पीएफ डिपार्टमेंट की तरफ से समन जारी किए गए, ईपीएफ एंड एमपी एक्ट 1952 के तहत अंडर सेक्शन 7-ए के तहत जारी किए हैं। यहीं बस नहीं, पीएफ डिपार्टमेंट ने इन दोनों कंपनियों के अलावा स्टेट एक्साइज एंड टैक्सेशन डिपार्टमेंट को भी प्रिंसिपल एंप्लायर मानते हुए उसे भी समन जारी किए हैं।

 

इसकी पुष्टि क्षेत्रीय पीएफ आयुक्त-2 बृज मोहन ने की। उन्होंने यह भी बताया कि 15 दिन का समय कंपनियों को और दिया गया है ताकि वह मुलाजिमों का पैसा जमा करवा दें। इसके बाद संबंधित कंपनियों की प्रापर्टी और बैंक अकाउंट अटैच कर लिए जाएंगे। उधर, डिप्टी एक्साइज एंड टैक्सेशन डिपार्टमेंट के पवन गर्ग ने का कहना है कि उनके महकमे का काम सिर्फ रेवेन्यू इक्ट्ठा करना है और 25 साल से कम व्यक्ति को शराब बेचने से रोकना है। मुलाजिम रखने और जगह जैसी सभी प्रकार के कामों की जिम्मेदारी काॅन्ट्रेक्टर की ही होती है।
 

ये है सारा मामला : दरअसल मामला ये है कि जालंधर वाइन सेल्समेन एंड वर्कर्ज यूनियन जालंधर की तरफ से शिकायत दायर की गई थी कि लुधियाना में 2017-18 के दौरान करीब 500 मुलाजिमों का पूरे साल का पीएफ का पैसा जमा नहीं करवाया गया है। इस पर पीएफ डिपार्टमेंट ने जांच शुरू की। जांच में ये तथ्य सही पाए गए और कार्रवाई करते हुए पीएफ डिपार्टमेंट ने गगन वासू और अविनाश ढोडा को समन जारी कर दिए। इसके बावजूद मुलाजिमों का 1.22 करोड़ रुपए जमा नहीं करवाया गया। इसी के तहत पीएफ डिपार्टमेंट ने इन दोनों के अलावा प्रिंसिपल इंप्लायर के तौर पर स्टेट एक्साइज एंड टैक्सेशन कमिश्नर को भी समन जारी किए हैं। लेकिन पीएफ डिपार्टमेंट की तरफ से ये कहा गया है कि एक्साइज डिपार्टमेंट ने प्रिंसिपल इंप्लायर होने से मना कर दिया है।

हमने अभी एक और मौका दिया है कि जल्दी से जल्दी मुलाजिमों का कंपनियां पैसा जमा करवा दें। इसके बाद प्राॅपर्टी और बैंक अकाउंट अटैच किए जाएंगे। सबसे पहले गगन वासू, फिर अविनाश ढोडा पर कार्रवाई होगी, अगर इनकी तरफ से पैसा नहीं जमा करवाया गया तो प्रिंसिपल इंप्लायर से रिकवर किया जाएगा। जो कानून के अनुसार ही होगा।

-बृज मोहन, क्षेत्रीय पीएफ आयुक्त-2 लुधियाना।

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना