लुधियाना / बम ब्लास्ट मामले में 22 को तिहाड़ जेल से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में होंगे आतंकी हवारा के बयान दर्ज



Ludhiana Additional Session Judge Decided to hear Blast case by Video Conferencing
X
Ludhiana Additional Session Judge Decided to hear Blast case by Video Conferencing

  • 6 दिसंबर 1995 में घंटाघर चौक के पास हुआ था बम विस्फोट
  • पुलिस ने 30 दिसंबर 1995 को स्थानीय घंटाघर के निकट एके 56 बरामदगी मामले में नामजद किया

Dainik Bhaskar

Aug 14, 2019, 01:56 PM IST

लुधियाना. लुधियाना की एडिशनल सेशन जज अतुल कसाना की अदालत में बम विस्फोट मामले की सुनवाई 22 अगस्त तक टल गई। अब से करीब 22 साल पहले 1995 में लुधियाना में घंटाघर चौक के पास बम धमाके के मामले में आतंकी जगतार सिंह हवारा भी आरोपी है। इस मामले में कोर्ट ने तय किया है कि 22 अगस्त को हवारा की पेशी तिहाड़ जेल से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये होगी, जिस दौरान हवारा के बयान दर्ज किए जाएंगे।

 

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह हत्याकांड के आरोपी जगतार सिंह हवारा को लुधियाना की थाना कोतवाली पुलिस ने 1995 में 30 दिसंबर को स्थानीय घंटाघर के निकट एके 56 बरामदगी मामले में नामजद किया था। पुलिस ने दावा किया था कि आतंकी हवारा ने एक अन्य मामले की जांच के दौरान हथियार बरामदगी का गुनाह कबूल किया था। इसके अलावा पुलिस ने हवारा को ही 6 दिसंबर, 1995 में घंटाघर चौक के पास हुए बम विस्फोट में नामजद किया था। इस मामले में पुलिस द्वारा अपनी सभी गवाहियां कलमबंद कराने के बाद हवारा की तरफ़ से गवाहियां भी बंद कर दी थीं।

 

अभियोजन पक्ष व बचाव पक्ष के वकील में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बयान दर्ज करवाने को लेकर काफी अरसे से खींचतान चली आ रही थी। अभियोजन पक्ष चाहता था कि वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए आतंकी हवारा के बयान दर्ज किए जाए, क्योंकि उनके अनुसार अगर हवारा को लुधियाना की अदालत में लाया जाता है तो गड़बड़ी होने का अंदेशा बना रहेगा, जबकि बचाव पक्ष के वकील इस बात का विरोध कर रहे थे। उनका कहना था कि हवारा को अदालत के सामने पेश कर उसका बयान दर्ज किया जाए पर अदालत ने कानून व्यवस्था की स्थिति का हवाला देते हुए अभियोजन पक्ष की अर्जी को मंजूर किया व वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बयान दर्ज करवाने के आदेश दिए हैं।

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना