पहल / अब ट्रेन के एसी डिब्बों की लाइटें ओवरहेड इलेक्ट्रिसिटी से जलेंगी; दूषित हो रहे वातावरण के मद्देनजर रेलवे ने उठाया कदम

प्रतीकात्मक फोटो। प्रतीकात्मक फोटो।
X
प्रतीकात्मक फोटो।प्रतीकात्मक फोटो।

  • रेल के इंजन के जरिए ही बाकी डिब्बों में दी जाएगी सप्लाई
  • अभी ट्रेंन में यह काम 250 केवी के 4 जेनरेटर करते हैं

दैनिक भास्कर

Jan 29, 2020, 04:25 AM IST

लुधियाना. लगातार दूषित हो रहे वातावरण के मद्देनजर रेलवे ने पहल की है। इसके तहत जल्द ही एसी कोच में लाइट और एयर कंडीशन चलाने के लिए अब ओएचई (ओवरहेड इलेक्ट्रिसिटी) कनेक्शन लगेंगे। रेल के इंजन के जरिए ही बाकी डिब्बों में सप्लाई दी जाएगी। अभी तक इसके लिए जेनरेटर का इस्तेमाल किया जाता है। 250 केवी के 4 जेनरेटर ट्रेन के साथ चलते हैं। इनमें 2 चालू और 2 स्टैंड बाय रखे जाते हैं।

वहीं, इसे लेकर स्टाफ की कपूरथला में ट्रेनिंग भी चल रही है। बताया जा रहा है कि पहले चरण में 2 गाड़ियों पर काम चल रहा है। इसमें अमृतसर-जालंधर ट्रेंन 14681-82 और अमृतसर-दिल्ली ट्रेंन 12459-60 में शामिल हैं। रेल सूत्रों के मुताबिक फिरोजपुर डिवीजन के साथ अन्य कई डिवीजनों में यह काम एक साथ चल रहा है।

इधर, जनरल कोचों में सोलर पैनल से होगी सप्लाई

रेल के जनरल कोच में बिजली सप्लाई देने के लिए सोलर सिस्टेम फिट करने का काम चल रहा है। जनरल ट्रेनों पर सोलर पैनल लगाने का काम ट्रायल के तौर पर किया जा रहा है। इससे पहले लुधियाना रेलवे स्टेशन पर भी सोलर सिस्टम लगाने की योजना थी।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना