पंजाब / रात 12:30 बजे शराब की खेप पहुंची तो धरने पर बैठे दो उम्मीदवार, बोले-चुनाव में बांटने को महारानी ने मंगवाई



पटियाला के गांव फतेहपुर में पहुंचे सुरजीत रखड़ा और डॉ. धर्मवीर गांधी। पटियाला के गांव फतेहपुर में पहुंचे सुरजीत रखड़ा और डॉ. धर्मवीर गांधी।
मीडिया से बात करते पीडीए उम्मीदवार डॉ. गांधी। मीडिया से बात करते पीडीए उम्मीदवार डॉ. गांधी।
X
पटियाला के गांव फतेहपुर में पहुंचे सुरजीत रखड़ा और डॉ. धर्मवीर गांधी।पटियाला के गांव फतेहपुर में पहुंचे सुरजीत रखड़ा और डॉ. धर्मवीर गांधी।
मीडिया से बात करते पीडीए उम्मीदवार डॉ. गांधी।मीडिया से बात करते पीडीए उम्मीदवार डॉ. गांधी।

  • पटियाला के गांव फतेहपुर में आधी रात को शैलर में पहुंची शराब की खेप
  • किसी ने दरवाजा नहीं खोला तो डेढ़ घंटे तक एनडीए उम्मीदवार सुरजीत रखड़ा बजाते रहे पुलिस अफसरों की घंटियां
  • निवर्तमान सांसद डॉ. धर्मवीर गांधी भी रखड़ा के साथ बैठे धरने पर, सुबह 4 बजे खुलवाए पुलिस ने ताले

Dainik Bhaskar

May 18, 2019, 11:35 AM IST

पटियाला. पटियाला में चुनाव प्रचार खत्म होने के कुछ ही घंटों बाद पटियाला में हंगामा हो गया। शुक्रवार रात साढ़े 12 बजे यहां के गांव फतेहपुर में एक शैलर में शराब पहुंचने की सूचना मिली कि पंजाब डेमोक्रेटिक एलायंस के उम्मीदवार डॉ. धर्मवीर गांधी और आकली-भाजपा प्रत्याशी सुरजीत सिंह रखड़ा धरने पर बैठ गए। आरोप है कि यह शराब कांग्रेस उम्मीदवार महारानी परनीत कौर ने चुनाव में बांटने के लिए मंगवाई है।

 

रखड़ा का कहना है कि जब वह शैलर पहुंचे, दरवाजा खटखटाया तो कोई जवाब नहीं आया। इसके बाद उन्होंने पुलिस को सूचना दी। सुबह 4 बजे जब पुलिस ने आकर शैलर के ताले खुलवाए, तब जाकर धरना खत्म हुआ।

 

रात में पीडीए, एनडीए और आप तीनों के प्रत्याशियों ने आरोप लगाया कि कांग्रेस चुनाव में नशा बांटकर वोट बटोरने की गंदी राजनीति कर रही है। शैलर में करीबन 2 से 3 गाड़ियां शराब रखी गई थी, इसे चुनाव के दिन बांटा जाना था। उन्होंने प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि डेढ़ घंटे से वह सभी अफसरों और पुलिस को इसकी सूचना दे रहे थे, कोई गंभीरता नहीं दिखा रहा था। रखड़ा ने चेतावनी दी कि वह शैलर के बाहर ही धरना देंगे।

 

जानकारी मिलने के बाद पटियाला से निवर्तमान सांसद और पीडीए के उम्मीदवार डॉ. धर्मवीर गांधी भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने अकाली उम्मीदवार सुरजीत सिंह रखड़ा के साथ शैलर के बाहर धरना लगा कांग्रेस सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। डॉ. गांधी ने भी कहा कि कांग्रेस बौखलाहट में आकर नशा बांटकर वोट खरीदने की राजनीति पर उतर आई है। चुनाव आयोग के आपत्तिजनक नशीली सामग्री को नहीं पकड़ने तक वह यहां से नहीं हटेंगे।

 

एनडीए प्रत्याशी सुरजीत सिंह रखड़ा ने कहा कि उनकी सूचना बिल्कुल सही है, क्योंकि अगर इस शहर के अंदर कोई आपत्तिजनक सामान न होता तो शैलर का गेट खोल दिया जाता। लगभग डेढ़ घंटे से वह सभी अफसरों और पुलिस प्रशासन को इसकी सूचना दे रहे हैं, लेकिन किसी भी अफसर में यहां आकर कोई गंभीरता नहीं दिखाई। रखड़ा ने चेतावनी दी कि जब तक इस शैलर को खोल कर अंदर रखे हुए शराब व अन्य नशे को नहीं पकड़ा जाता तब तक वह इस शैलर के बाहर ही धरना देंगे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना