2020 रेफरेंडम / आतंकियों के ध्वस्त हुए नेटवर्क को गैंगस्टर्स की मदद से रिवाइव करने की तैयारी

Preparation to revive terrorists', destroyed network, with the help of gangsters
X
Preparation to revive terrorists', destroyed network, with the help of gangsters

  • खन्ना में पकड़े गैंगस्टर बाॅक्सर का खुलासा : आतंकियों ने हथियार लेने भेजा था
  • इंटेलिजेंस डिपार्टमेंट के पास भी पुख्ता इनपुट्स आतंकियों का साथ दे रहे हैं कई बड़े गैंगस्टर

दैनिक भास्कर

Oct 12, 2019, 06:44 AM IST

लुधियाना/खन्ना. पंजाब को खालिस्तान बनाने के लिए 2020 रेफरेंडम लहर के साथ जुड़े आतंकियों का खुद का नेटवर्क ध्वस्त हो चुका है, यही वजह है कि अब वे जेलों में बंद और बाहर आ चुके गैंगस्टरों की मदद से अपने मंसूबों को कामयाब करने में जुटे हैं। जबकि हर बार पुलिस उनके षड़यंत्र को फेल साबित कर रही है। इंटेलिजेंस डिपार्टमेंट के सूत्रों की मानें तो आतंकियों की एक्टिविटी काफी तेजी से पंजाब में बढ़ रही हैं, जिसमें हथियारों को इधर से उधर मूव करवाने के िलए गैंगस्टरों की मदद ली जा रही है, जिसके बदले में उन्हें दिया जा रहा है नशा और पैसा।


खन्ना में पकड़े गए गैंगस्टर सुखविंदर बाॅक्सर ने पुलिस के सामने कबूला कि नाभा जेल ब्रेक कांड का साजिशकर्ता कश्मीरा सिंह उसके संपर्क में था, जोकि उसे नाभा जेल ब्रेक कांड से पहले जेल में ही मिला था। वहीं वो गैंगस्टर हरिंदर सिंह रिंदा के संपर्क में भी आ गया। जोकि रूपिंदर गांधी के भाई मिंदी गांधी की हत्या करने के मामले में नामजद है। इस ट्रायएंगल को देखने और सुनने से ये साफ हो गया है कि पंजाब में खुलेआम आतंकी गैंगस्टरों से संपर्क साधकर 2020 रिफरेंडम को सिरे चढ़ाने की तैयारी में जुटे हैं। गौर हो कि शुक्रवार को खन्ना पुलिस ने गैंगस्टर बॉक्सर के साथ जसदीप सिंह निवासी पटियाला, विशाल कुमार बीड़ी निवासी खन्ना और इकबाल प्रीत सिंह निवासी फतेहगढ़ साहिब को भी काबू किया है। इनसे तीन पिस्टल, एक राइफल, चार मैगजीन, 20 कारतूस और 260 ग्राम हेरोइन भी बरामद हुई है।


जेलों के अंदर से आॅपरेट हो रहे नेटवर्क
जेल में बंद कश्मीरा सिंह आतंकी संगठन बब्बर खालसा का मेंबर है। जिसने बाॅक्सर को श्रीनगर से एके-47 लाने के लिए चुना था। क्योंकि बाॅक्सर 2012 में आरडीएक्स की खेप के साथ पकड़ा जा चुका था। लेकिन इन दिनों वो जेल से बाहर था। लिहाजा मैसेंजर काॅल के जरिए कश्मीरा ने बाॅक्सर से संपर्क साधा। इस काम के बदले उसे 8 लाख का लालच दिया गया था। विभागीय सूत्रों के मुताबिक कश्मीरा के पास जेल में कई फोन हैं, जिसमें से एक फोन से बाॅक्सर से बात होती थी तो दूसरे फोन से गैंगस्टर दिलप्रीत बाबा से। जिसने कुछ समय पहले पंजाबी सिंगर परमीश वर्मा को गोली मारी थी।

 

सोशल मीडिया पर वीडियो डाल युवाओं को उकसा रहे

हथियारों को इधर से उधर मूव करने के बदले गैंगस्टरों को आतंकी दे रहे हैं नशा और पैसा यूथ को अपने साथ जोड़ने का कोई और माध्यम आतंकियों और गैंगस्टर्स के पास नहीं बचा तो अब वो सोशल मीडिया(फेसबुक, ट्वीटर आदि) के जरिए यूथ को टारगेट कर रहे हैं। यहीं से ग्रुप तैयार कर उन्हें भड़काया जा रहा है। इसके अलावा सोशल साइट्स पर पुराने आतंकियों की तस्वीरें और उनके वीडियो डालकर 2020 रिफरेंडम का साथ देने के िलए उकसा रहे हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना