एसआईटी ने चौथे दिन भी नहीं सौंपी जांच रिपोर्ट, आरोपी अभी तक फरार

Ludhiana News - गुरमेल नगर में 11वीं के छात्र की ओर से आत्महत्या करने के मामले में सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के निर्देशों के बावजूद...

Dec 04, 2019, 08:31 AM IST
गुरमेल नगर में 11वीं के छात्र की ओर से आत्महत्या करने के मामले में सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के निर्देशों के बावजूद चौथे दिन भी एसआईटी के मेंबरों ने मामले की रिपोर्ट डीसी को नहीं सौंपी। अभी भी रिपोर्ट को कंपाइल करने में जुटे हैं, जबकि सबकुछ आईने की तरह साफ है। वहीं, आरोपियों के फोन बंद हंै, जोकि एक या दो मिनट के िलए आॅन हो रहा है। पुलिस को पता चला है कि आरोपी पंजाब से बाहर चले गए हैं। सूत्रों की माने तो आरोपी कुछ राजनीतिज्ञों की शरण में बैठे। इस वजह से गिरफ्तारी नहीं हो पा रही। मगर पुलिस का कहना है कि आरोपी फरार हैं और उनके मोबाइल भी बंद हैं। लोगों का आरोप है कि पुलिस-प्रशासन मामला ठंडा बस्ते में डाल रही है। सीपी राकेश अग्रवाल ने बताया कि आरोपियों की तलाश में रेड जारी है। उन्हें किसी का भी शेल्टर हो, गिरफ्तारी जल्द होगी।

वहीं, मंगलवार सुबह स्कूल के बाहर डेढ़ दर्जन से ज्यादा मुलाजिमों को तैनात किया गया, क्योंकि पुलिस को डर था कि अल्टीमेटम खत्म हो रहा है और लोग दोबारा प्रदर्शन करेंगे। इस दौरान कुछ लोग इकट्ठा होकर स्कूल के बाहर आए भी, लेकिन कोई हंगामा न कर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की। उन्हें आश्वासन देकर भेज दिया गया। दिनभर स्कूल के बाहर पुलिस डटी रही और रात को भी मुलाजिमों की ड्यूटी वहां लगाई गई। उधर, स्कूल मैनेजमेंट की तरफ से वाइस प्रिंसिपल वंदना भल्ला ने कहा कि स्कूल स्टाफ ने कभी भी धनंजय से मारपीट नहीं की। उन्होंने दावा किया कि प्रदर्शन करने वालों का मामले से कोई लेना-देना नहीं है। कुछ बाहरी लोग स्कूल की छवि को खराब करने के लिए साजिश कर रहे हैं।

एसडीएम बोले- मुझ पर है वर्क लोड

एसआईटी में एसडीएम अमरिंदर सिंह मल्ली और डीईओ स्वर्ण कौर शामिल हैं। उन्होंने सोमवार को सभी पहलुओं पर पूछताछ की और सभी के बयान जुटाए। जिसे मंगलवार को देना था, लेकिन एसडीएम मल्ली ने अपनी रिपोर्ट पेश नहीं की। उन्होंने कहा कि रिपोर्ट उनके पास है, बस उसे तैयार करना बाकी है, उनके पास काफी वर्कलोड होने की वजह से रिपोर्ट नहीं बन पाई। जब डीईओ से बात की गई तो उन्होंने तो सीधा यह कहकर पल्ला झाड़ दिया कि वो छुट्टी पर हैं और रिपोर्ट के बारे में उन्हें पता नहीं। इस मामले में एसडीएम से बात कर लें। लोगों का कहना है कि सीएम की मामले में इन्वॉल्वमेंट होने के बावजूद कार्रवाई का ये हाल है।

पेरेंट्स एसो. ने दिया मेमोरंडम

लुधियाना पेरेंट्स एसोसिएशन के सदस्य एडीसी इकबाल सिंह संधू और फिर पुलिस अधिकारियों से मिले। उन्होंने उन्हें मांगपत्र दिया। जिसमें उन्होंने उक्त पर्चे में जुवेनाइल एक्ट लगाने, स्कूल सरकार अपने कब्जे में लेने और आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की है। उधर, जसपाल सिंह ग्यासपुरा ने आरोप लगाया कि बिल्डिंग नियमों के मुताबिक नहीं है, एेसे में स्कूल की इमारत पर भी कार्रवाई होनी चाहिए।

गांव गया धनंजय का परिवार

उधर, धनंजय का पूरा परिवार यूपी अपने गांव उसका किरया कर्म करने के लिए चला गया। फोन पर जब उनसे संपर्क किया गया तो पिता बृजराज ने कहा कि दिल करता है कि अब वो वापिस न आएं, मगर बच्चों की पढ़ाई की वजह से उन्हें वापिस आना पड़ेगा और वो अपने बेटे की मौत का इंसाफ लेकर रहेंगे। वीरवार तक पीड़ित परिवार लुधियाना लौट आएगा।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना