• Hindi News
  • Punjab
  • Ludhiana
  • Khanna News three megawatts of electricity being prepared by collecting 50 thousand tons of straw from 2500 farmers of 25 villages of khanna and fatehgarh sahib

खन्ना अौर फतेहगढ़ साहिब के 25 गांवों के 2500 किसानों से 50 हजार टन पराली इकट्‌ठा करके तैयार की जा रही तीन मेगावाट बिजली

Ludhiana News - पराली के धुएं ने पंजाब, हरियाणा अौर दिल्ली राज्यों में पाल्यूशन का स्तर काफी बढ़ा दिया है। एनजीटी, केंद्र सरकार,...

Bhaskar News Network

Nov 11, 2019, 08:06 AM IST
Khanna News - three megawatts of electricity being prepared by collecting 50 thousand tons of straw from 2500 farmers of 25 villages of khanna and fatehgarh sahib
पराली के धुएं ने पंजाब, हरियाणा अौर दिल्ली राज्यों में पाल्यूशन का स्तर काफी बढ़ा दिया है। एनजीटी, केंद्र सरकार, राज्यों की सरकारें जागरूकता मुहिम तो चला रही हैं लेकिन पराली मैनेजमेंट को लेकर कोई ठोस हल नहीं निकल रहा। इन सब के बीच खन्ना के दो उद्योगपति पराली मैनेजमेंट के लिए आगे आए हैं। उद्योगपति वरिंदर गुड्डू अौर सुरिंदर कुमार ने खन्ना अौर फतेहगढ़ साहिब के करीब 25 गांवों के 2500 किसानों से 50 हजार टन पराली इकट्‌ठा कर 3 मेगावाट बिजली का उत्पादन कर रहे हैं। वह बिजली का उत्पादान 15 मेगावाट तक ले जाना चाहते हैं, जिसके लिए सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह से बैठक के बाद अंतिम रूप दिया जाना है। वरिंदर गुड्डू का कहना है कि अगर पंजाब में पराली से 15 मेगावाट बिजली उत्पादन के 30 प्रोजेक्ट लग जाएं तो राज्य में पराली को आग लगाने की समस्या पर पूर्ण तौर पर नियंत्रण लग जाएगा। जिससे हमारी आने वाली पीढ़िया पराली के पाल्यूशन से मुक्त हो जाएंगी।

पीपीसीबी के एक्सईएन विजय कुमार अौर एसडीअो गुलशन ने कहा कि खन्ना में 3 प्लांट करीब 95 हजार टन पराली उठा रहे हैं। इससे पाल्यूशन से काफी राहत मिलेगी।

मंजूरी मिले तो खन्ना-फतेहगढ़ साहिब होगा पराली मुक्त

उद्योगपति वरिंदर ने कहा कि वह खन्ना, फतेहगढ़ साहिब अौर पटियाला के 25 गांवों के दो हजार किसानों से 50 हजार टन पराली उठा रहे हैं। जिससे तीन मेगावेट बिजली पैदा की जा रही है। सरकार से बात हो गई है, जल्द ही सीएम से बैठक कर पीपीए (पावर परचेज एग्रीमेंट) पर डिटेल में बात होगी। पीपीए साइन हो जाता है तो फतेहगढ़ साहिब जिला अौर खन्ना ब्लाक पराली पाल्यूशन मुक्त हो जाएगा।

अब पराली न जलाने वाले किसानाें काे मिलेगा 100 रुपए क्विंटल बाेनस

भास्कर न्यूज | पटियाला

प्रदेश में लगातार बढ़ते जा रहे प्रदूषण के स्तर काे सही दिशा में लाने के लिए सरकार ने अच्छी पहल की है, जिसके तहत अब पराली काे अाग न लगाने वाले किसानाें काे 100 रुपए प्रति िक्वंटल बाेनस दिया जाएगा। सरकार के खेतीबाड़ी विभाग की तरफ से प्रदेश के सभी पंचायताें काे लिखत अादेश भेजकर पांच एकड़ तक की जम ीन वाले किसानाें काे फाॅर्म भरकर नजदीक की काे-अाॅपरेटिव साेसायटी में जमा करवाने की हिदायतें जारी की हैं। विभाग की तरफ से जारी किए पत्र में कहा गया है कि पराली काे अाग लगाकर जलाने पर राेक लगाई गई है अाैर इसकी अवहेलना करने वाले पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। किसान की तरफ से जाे फाॅर्म साेसायटी में जमा करवाना है उसमें लाभपात्री की पूरी डिटेल हाेनी जरूरी है, जिसमें किसान का नाम, पिता का नाम, अाधार कार्ड नंबर, माेबाइल नंबर, बैंक खाते की डिटेल (जिसमें बैंक का नाम, ब्रांच का नाम, खाता नंबर अाैर अाईएफएस काेड शामिल हाे), जमीन कितनी है, पंचायत द्वारा तस्दीक करवाने के बाद जमा करवाना है।

X
Khanna News - three megawatts of electricity being prepared by collecting 50 thousand tons of straw from 2500 farmers of 25 villages of khanna and fatehgarh sahib
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना