रेलवे के निजीकरण को लेकर यूनियनों में बढ़ा रोष, धरना-प्रदर्शन

Ludhiana News - रेलवे के निजीकरण करने के मामले में रेल कर्मचारियों का रोष लगातार बढ़ता ही जा रहा है। ऐसे में रेल कर्मचारी अपना रोष...

Bhaskar News Network

Oct 12, 2019, 08:25 AM IST
Ludhiana News - unions rage sit in protest over privatization of railways
रेलवे के निजीकरण करने के मामले में रेल कर्मचारियों का रोष लगातार बढ़ता ही जा रहा है। ऐसे में रेल कर्मचारी अपना रोष जताने के लिए मीटिंग कर रहे हैं तो स्टेशनों पर धरना प्रदर्शन भी किया जा रहा है। शुक्रवार को भी यूआरएमयू के सदस्यों ने लुधियाना रेलवे स्टेशन पर कैरिज एंड वैगन दफ्तर में धरना दिया। इस मौके पर यूनियन के मंडल अध्यक्ष एमएल पराशर ने रेलवे द्वारा निजीकरण करने के मामले को आड़े हाथों लिया। उन्होंने बताया कि रेलवे बोर्ड ने निजी करण के लिए 4 सदस्य की कमेटी का गठन किया है। जिनका उद्देश्य 150 और नई रेलगाड़ियों को निजी हाथों में सौंपना है। एमएल पराशर ने बताया कि इसके अलावा कुछ रेलवे स्टेशनों का भी निजीकरण करने का मामला भी सामने आया है। पराशर ने बताया कि अगर सरकार ने ऐसा कोई कदम उठाया तो वह रेलवे का चक्का जाम करने के साथ-साथ अपने हकों व मांगों को मनवाने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं। इस मौके पर उनके साथ दलजीत सिंह, सुखमिंदर सिंह सोढ़ी, जागृति कुमार, विक्रम शर्मा, कमलप्रीत कौर, वीना रानी, कालीचरण शर्मा, जगदीश कुमार, अश्वनी कुमार, परवार सिंह, फिरोज आलम इत्यादि सैकड़ों लोग मौजूद थे। बता दें कि रेलवे ने ट्रेनों को निजीकरण करने की शुरुआत तेजस जैसी गाड़ी चलाकर की है, जिसमें ड्राइवर व गार्ड के अलावा बाकी सारे कर्मचारी निजी कंपनियों के हैं। सरकार के इस फैसले के बाद पूरे देश भर में यूनियन के लोग विरोध कर रहे हैं जिसके चलते धरना प्रदर्शन भी किए जा रहे हैं।

रेलवे के निजीकरण के खिलाफ धरना देते हुए यूनियन के सदस्य।

X
Ludhiana News - unions rage sit in protest over privatization of railways
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना