• Hindi News
  • Punjab
  • Moga
  • Dharamkot News attempt to occupy dera land paddy harvested three people injured in fighting

डेरे की जमीन पर कब्जे की कोशिश, धान की फसल काटी, मारपीट में तीन लोग घायल

Moga News - चोरी और मारपीट की घटना के बाद गांव में बैठक करते ग्रामीण। आइए जानते हैं क्या है गांव भिंडर खुर्द का यह पूरा...

Nov 11, 2019, 07:40 AM IST
चोरी और मारपीट की घटना के बाद गांव में बैठक करते ग्रामीण।

आइए जानते हैं क्या है गांव भिंडर खुर्द का यह पूरा मामला

यहां बता दें कि 3 अक्टूबर को गांव भिंडर खुर्द में बाबा टहल दास सदस्य पूर्व सरपंच अजमेर सिंह ने बताया था कि उनकी कमेटी 1994 से गांव में बने गुरुद्वारा साहिब की देखरेख कर रही है। पहले 7 सदस्य थे। पंजाब में साल 2017 में सत्ता परिवर्तन के बाद सत्ताधारी पक्ष के लोगों द्वारा जबरन गुरुद्वारा साहिब में कब्जा करने की कोशिश के चलते चार दिन पहले रात को कब्जा कर लिया तथा ग्रंथी वरयाम सिंह से गुरुद्वारे की चाबियां लेकर अंदर दाखिल हो गए अौर गोलक को उठाकर ले गए थे। आधे घंटे बाद वही लोग दोबारा गुलक को अंदर रख कर फरार हो गए थे। दूसरे दिन सुबह गुरुद्वारे में लगे सीसीटीवी कैमरे देखने पर उक्त लोगों की करतूत सामने आ गई। 1 अक्टूबर को पूरा गांव गुरुद्वारा साहिब में एकत्र हुआ तो वहां से वह खिसक गए। इसके बाद गुरुद्वारा कमेटी की ओर से थाना धर्मकोट में लिखित शिकायत दी गई थी। गांव के मौजूदा सरपंच जगसीर सिंह ने कहा कि वह गांव के लोगों के साथ हैं। उनकी सहमति जिस कमेटी के साथ होगी वह उसी का साथ देंगे।

सीसीटीवी फुटेज के बावजूद पुुलिस ने नहीं की कार्रवाई

दूसरी ओर सवा महीना पहले गुरुवारा साहिब पर कब्जा करने व अंदर से गुलक चोरी कर रुपये निकालने, बाद में गुलक को वापस गुरुद्वारा साहिब के अंदर रखने की करतूत सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी। इसके बावजूद इस मामले में पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की है। इस संबंधी थाना धर्मकोट के एसएचओ लक्ष्मण सिंह ने कहा कि उन्होंने दो दिन पहले ही थाना प्रभारी के तौर पर कामकाज संभाला है। उन्हें पिछले मामले की कोई जानकारी नही है। लेकिन वह मामले की जांच उपरांत ही कुछ बता सकते है।

विरोध जताया तो मारपीट के साथ हवाई फायरिंग की

बाबा टहल दास कमेटी के सदस्य पूर्व सरपंच अजमेर सिंह ने कहा कि जब फसल काटने का ग्रामीणों ने विरोध जताया तो आरोपियों ने केवल हवाई फायर किया बल्कि मारपीट में भी की जिसमें तीन लोग घायल हो गए। आरोपी यही नहीं रुके, इसके अलावा वह सात एकड़ जमीन में उनकी मेहनत से बीजी गई धान की फसल भी जबरन काटकर ले गए। ग्रामीणों के एकत्र होने पर भड़के आरोपियों ने मारपीट की। मारपीट में तीन लोग घायल हो गए थे जिन्हें बाद में अस्पताल में दाखिल करवाना पड़ा था। बाद में पुलिस ने उनके बयान लिए थे।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना