अनबन होने पर बच्चे को लेकर मायके चली गई पत्नी, दुखी होकर फंदे से लटका पति

Moga News - एक शादीशुदा युवक ने ससुराल वालों से तंग आकर वीरवार की रात को फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। सुसाइड नोट में मृतक ने...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 08:35 AM IST
Moga News - wife went to child in case of mismatch husband hanging unhappily
एक शादीशुदा युवक ने ससुराल वालों से तंग आकर वीरवार की रात को फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। सुसाइड नोट में मृतक ने ससुराल वालों को अपनी मौत का जिम्मेदार बताया है। पुलिस ने मृतक युवक के पिता के बयान पर ससुराल परिवार के 6 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। थाना सिटी साथ के सब इंस्पेक्टर बलवीर सिंह ने बताया कि जवाहर नगर गली नंबर 6 निवासी पवन गोयल ने पुलिस को दिए बयान में आरोप लगाया कि उसका बेटा बलराज सिंह (30) की शादी ढाई साल पहले हनुमानगढ़ निवासी मनीषा के साथ हुई थी। शादी के बाद एक बेटा पैदा हुआ, करीब डेढ़ साल पहले उसका बेटा प|ी व पोते के साथ हनुमानगढ़ स्थित ससुराल में ही शहर में अलग से मकान लेकर रहने लगा था। वहां पर वह बैग व पर्स का काम करता था। इस दौरान बेटे व बहू के बीच अनबन के चलते पिछले 3 महीने से बहू मनीषा अपने बेटे जियान को साथ लेकर मायके घर जाकर रहने लगी थी। इस बात से मेरा बेटा बलराज काफी परेशान रहने लगा था। मंगलवार को उसने बेटे को फोन कर वापस मोगा बुलाया।

6 लोगों के खिलाफ केस दर्ज

पिता के अनुसार वीरवार को एक धार्मिक कार्यक्रम में माथा टेकने के बाद उसका बेटा घर आया। इसके बाद मेन दरवाजा बंद कर फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। वह और उसकी प|ी घर पहुंचे तो उन्होंने देखा कि बेटे का शव फंदे से लटक रहा है तो उसे तुरंत फंदे से उतारकर निजी अस्पताल में ले जाया गया, जहां डॉक्टर ने जांच के बाद बेटे को मृत घोषित कर दिया। बेटे की जेब से सुसाइड नोट मिला, जिसमें उसने अपनी मौत के लिए प|ी मनीषा, ससुर सुभाष, साला आशीष, सास राजरानी, साली प्रिया व ससुर का दोस्त सुशील को जिम्मेदार ठहराया है। परिवार द्वारा मामले की जानकारी पुलिस को देने पर उसके बयान पर पुलिस ने मृतक बेटे के ससुराल परिवार के 6 लोगों के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने व धमकाने के आरोप में केस दर्ज किया है।

कैंसर से मां की मौत से दुखी बेटे ने फंदा लगाकर की आत्महत्या

परिवार की एकलौता संतान था बलराम सिंह

भास्कर न्यूज|मोगा

6 महीने पहले मां की कैंसर की बीमारी से मौत होने से दुखी 18 साल के बेटे ने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने मृतक युवक के पिता के बयान पर कार्रवाई करते हुए शव को सरकारी अस्पताल में पहुंचा दिया है। थाना बाघापुराना के एएसआई परमजीत सिंह ने बताया कि गांव कालेके निवासी लाभ सिंह ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि उसका 18 साल का बेटा बलराम सिंह 12वीं कक्षा में पढ़ता था। उसकी प|ी की 6 महीने पहले कैंसर की बीमारी से मौत हो जाने के बाद से उसका बेटा मानसिक तौर पर परेशान रहने लगा था। इतना ही नहीं मां की मौत के बाद से बलराम सिंह अक्सर एक ही गाना गुनगुनाता रहता था मां हुंदी है मां औ दुनिया वालियो..। वह वीरवार की रात को खाना खाने के बाद वह अपने कमरे में सोने के लिए चला गया। शुक्रवार की सुबह बलराम का ताया उसे चाय देने के लिए गया तो दरवाजा अंदर से बंद था। दरवाजा नहीं खुलने पर धक्का देकर दरवाजा खोला गया तो अंदर बलराम फंदे पर लटक हुआ था। इस मामले की जानकारी पुलिस को देने पर उसके बयान पर 174 की कार्रवाई करते हुए शव का सरकारी अस्पताल में पोस्टमार्टम करवा कर परिजनों को सौंप दिया गया। मृतक अपने परिवार का इकलौता संतान था।

X
Moga News - wife went to child in case of mismatch husband hanging unhappily
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना