Hindi News »Punjab »Nangal» आठ महीने से निर्माण मजदूरों की कॉपियां ऑनलाइन नहीं हो रहीं

आठ महीने से निर्माण मजदूरों की कॉपियां ऑनलाइन नहीं हो रहीं

पंजाब एटक के प्रदेश सचिव व भवन उसारी वर्कर्स यूनियन के जिला रोपड़ के महासचिव कामरेड महंगा राम एमए ने बताया कि...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 02:45 AM IST

पंजाब एटक के प्रदेश सचिव व भवन उसारी वर्कर्स यूनियन के जिला रोपड़ के महासचिव कामरेड महंगा राम एमए ने बताया कि निर्माण मजदूरों की कॉपियों को आॅनलाइन करने की प्रक्रिया आठ महीने से ठप्प पड़ी है। इस कारण मजदूरों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि जत्थेबंदी ने कई बार लिखित पत्र के द्वारा लेबर कमिश्नर पंजाब चेयरमैन, लेबर वर्कर वेलफेयर बोर्ड चंडीगढ़, सहायक लेबर कमिश्नर मोहाली, लेबर इंस्पेक्टर रोपड़ को अपील की गई कि आठ महीने से मजदूरों के रजिस्ट्रेशन, रिन्यू, लाभ पात्री स्कीमों के निवेदन पत्रों को आॅनलाइन करने का काम सेवा केंद्रो में ठप्प पड़ा है। पहले इन सब कामों को आॅनलाइन करने का काम बिना किसी तैयारी के शुरू किया गया। फिर कहा गया कि सेवा केंद्र बंद कर दिए और फिर सेवा केंद्रों को प्राइवेट हाथों में दे दिया। बाद में सेवा केंद्रों के बिजली का बिल न दिए जाने के कारण बिजली के कनेक्शन काट दिए। इस कारण मजदूरों के लंबे समय तक काम नहीं हो सके। अब सरकार का फरमान है कि पंजाब के 2500 सेवा केंद्रों में से सिर्फ 500 ही चलाए जाएंगे। अब जिला रोपड़ में कुछ सेवा केंद्र सेवाएं दे रहे हैं। इनमें उसारी मजदूरों की रजिस्ट्रेशन का थोड़ा-सा काम हुआ पर रिन्यू व लाभ प्राप्त निवेदन पत्रों का काम बिलकुल ठप्प पड़ा है।

महंगा राम बोले- प्रशासन के कारण मजदूरों को हो रही परेशानी

मांगें हल न हुई तो प्रदेश स्तर पर संघर्ष करेंगे

कामरेड महंगा राम ने बताया कि सेवा केंद्रो में निर्माण मजदूरों से रजिस्ट्रेशन, रिन्यू व अन्य कामों के निवेदन पत्र कभी-कभी ही लिए जाते हैं। इसलिए उनकी मांग है कि जब तक ऑनलाइन प्रक्रिया सही ठंग से शुरू नहीं होती, तब तक मैनुअल प्रक्रिया शुरू की जाए। लेबर विभाग की कार्यकारिणी की निंदा करते कहा कि 3-11-2017 तक पास हुई स्कीमों के लाभ अभी तक मजदूरों के खातों में नहीं डाले गए। न ही किसी मजदूर को कोई साइकिल, न मुआवजा और न ही उपचार के पास किए केसों के लाभ दिए गए। कामरेड महंगा राम ने कहा कि अगर मसलों का कोई हल न किया तो अन्य मजदूर जत्थेबंदियों के साथ लेकर प्रदेश स्तर पर जोरदार संघर्ष शुरू किया जाएगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nangal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×