--Advertisement--

भागवत महापुराण कथा का गीता मंदिर में समापन

भगवान श्री कृष्ण विवाह पर निकाली गई झांकी। भास्कर संवाददाता | नंगल गीता मंदिर नया नंगल में श्रीमद भगवत...

Dainik Bhaskar

May 16, 2018, 02:50 AM IST
भागवत महापुराण कथा का गीता मंदिर में समापन
भगवान श्री कृष्ण विवाह पर निकाली गई झांकी।

भास्कर संवाददाता | नंगल

गीता मंदिर नया नंगल में श्रीमद भगवत महापुराण कथा 6 से 13 मई तक चले समागम का रविवार को समापन हुआ। समागम के आखिरी दिन यहां श्री देव दत्त शास्त्री कथा वाचक ने कंस वध , कृष्ण विवाह, सुदामा-कृष्ण मिलाप समेत कृष्ण लीलाओं की अन्य कथाओं का व्याख्यान किया।

समागम के दौरान कृष्ण विवाह व सुदामा कृष्ण मिलाप की मनमोहक झांकियां प्रस्तुत की गई। संगत कृष्ण विवाह की झांकी पर श्री देव दत्त द्वारा गाए भजन पर खूब झूमें। इस दौरान उन्होंने बताया के कृष्ण सुदामा की दोस्ती की आज भी मिसाल दी जाती है। भगवान कृष्ण ने सुधामे की दो मुट्ठी चावल खाकर उसे बड़े सेठ के बराबर धन दौलत दी। भागवत महापुराण कथा सुनने से इंसान के सभी दुख दूर होते हैं। इससे प्रभू प्राप्ति के मार्ग का ज्ञान होता है। मन ते बुरे विचारों का अंत होता है। आयोजक कमेटी द्वारा समागम के आखिरी दिन भंडारा लगाया गया। इस दौरान अाचार्य सुधीर, पंडित दिनेश शर्मा व पंडित जीवन शर्मा ने बताया के बाबा जी का अगला कार्यक्रम 3 जून से 11 जून तक न्यू टैगोर नगर में होगा।

X
भागवत महापुराण कथा का गीता मंदिर में समापन
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..