Hindi News »Punjab »Nangal» बच्चों को व्हाट्सएप से दूर रखकर भारतीय संस्कारों की दें प्रेरणा : स्वामी कृपालानंद

बच्चों को व्हाट्सएप से दूर रखकर भारतीय संस्कारों की दें प्रेरणा : स्वामी कृपालानंद

परमलोक आश्रम दड़ौली में हुए संत सम्मेलन में उपस्थित संत-महापुरुष। (दाएं) उपस्थित संगत। -भास्कर भास्कर संवाददाता|...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 19, 2018, 03:00 AM IST

  • बच्चों को व्हाट्सएप से दूर रखकर भारतीय संस्कारों की दें प्रेरणा : स्वामी कृपालानंद
    +3और स्लाइड देखें
    परमलोक आश्रम दड़ौली में हुए संत सम्मेलन में उपस्थित संत-महापुरुष। (दाएं) उपस्थित संगत। -भास्कर

    भास्कर संवाददाता| नंगल

    परमलोक आश्रम दड़ौली में स्वामी कृपालानंद महाराज की अध्यक्षता में आयोजक श्री मद्भागवत कथा का समापन बड़ी धूमधाम से किया गया। समागम के आखिरी दिन संत सम्मेलन हुआ। जिसमें पंजाब, हिमाचल व हरियाणा से आए संतो ने भाग लिया और अपने प्रवचनों से संगत का मार्गदर्शन किया। इस दौरान जीवन की मुख्य जरूरतों व आज के मौजूदा स्थिति पर संतो ने अपने विचार पेश किए। जिसमें स्वामी कृपालानंद महाराज ने कहा के भोजन व निद्रा जीवन का श्रंगार हैं। अगर प्राणी को सारा दिन भोजन व नींद न मिले तो उसका सारा दिन व्यर्थ जाता है। पर्याप्त मात्रा में इन दोनों का सेवन जरूरी है। भोजन शरीर की खुराक है और िनद्रा मन की खुराक है। इनकी कमी से जहां शरीर बेजान हो जाता है वहीं मन में शुद्घ विचार नहीं आते। कभी कभी तो भोजन से प्यारी हमें निद्रा होती है। हम निद्रा के लिए भोजन छोड़ देते है। आज के समय में प्राणी जीवन के साथ संबंध रखने की बजाए भोग के साथ संबंध रखता है। नई पीढ़ी गलत रास्ते पर जा रही है। हमारी संस्कृति आलोप हो रही है और पश्चिमी सभ्यता का बोलबाला है। व्हाट्सएप व फेसबुक ने हमारे बच्चों की सोच प्रभावित की है। हमें अपने बच्चों को अच्छे संस्कार देने होंगे। हमारी सोच है के बच्चे जब समझने के काबिल हो जाए तो उन्हें अच्छी बातें बताए। जब बच्चा गर्भ में हो उस समय माता धार्मिक व अच्छे आचरण वाली किताबें पड़े। परिवार में धार्मिक व अच्छा माहौल बना कर रखा जाए। ऐसा बच्चा अपने आप अच्छे संस्कार ग्रहण करेगा।उन्होेने कहा कि आज के समय में बच्चों को मोबाइल से दूर करके अच्छे संस्कारों की ओर लाएं ताकि बच्चे अच्छे नागरिक बनें। इस मौके पर गुरू सेवा नंद पुरी पंचकुला आश्रम वाले, संत वाई नीज नंद पुरी लुधियाना वाले, बड़भागी बाबा ऊना वाले, स्वामी गिरिशा नंद ऊना वाले, संत वाई समता नंद पुरी प्रबंधक परलोक आश्रम वाले उपस्थित थे।

    शीतला माता मंदिर में वार्षिक समागम करवाया

    भास्कर संवाददाता| आनंदपुर सािहब

    गांव मजारा में स्थित प्राचीन शीतला मंदिर में महंत बचनदास जी की अगुवाई में वार्षिक समागम करवाया गया। जिसमें नवग्रह पूजा, आरती के बाद कंजक पूजन किया गया। इस मौके ब्लॉक समिति मेंबर कमलदेव शर्मा, गुरमिंदर सिंह, परविंदर सिंह र|, विजय गरचा, प्रीतम सिंह, बलविंदर सिंह, डॉ. आत्मा सिंह राणा, अवतार सिंह सरपंच, जगदीश चंद्र सियाल, नंबरदार प्रमोद कुमार, महंत लक्ष्मण दास, प्रेम सिंह सिद्दू, डॉ. सुनीता नड्डा, प्रिंसिपल निरंजण सिंह राणा, हरजीत सिंह अचिंत, डॉ. प्रदीप कौशल, गुरदीप सिंह कुनर, बलवीर धरमाणी, निरंजण दास, जगत राम मजारा, लाल चंद, गुरमीत सिंह लोधीपुर व अन्य गांव वासी उपस्थित थे। सारी संगत ने मां शीतला से सुख, समृद्धि और खुशहाली की कामना की और उनसे जीवन में दुखों और मुश्किलों को हमेशा के लिए खत्म करने के लिए प्रार्थना की। इस मौके पर उपस्थित गणमान्यों ने कहा कि मां शीतला सभी को सुख और शांति देने वाली हैं और इनकी सच्चे दिल से पूजा और आराधना करने से जीवन से दुखों का अंत होता है।

    शीतला मंदिर में माता का गुणगान करते भजन मंडली।

    पीर लखदाता की याद में करवाया छिंज मेला

    झंडी वाली कुश्ती विजय कुमार ने जीती, विक्रमजीत सिंह उप विजेता रहे

    भास्कर संवाददाता| आनंदपुर सािहब

    गांव सहोटा में लखदाता पीर की याद में छिंज मेला करवाया गया। जिसमें पंजाब, हिमाचल व अन्य व अन्य निकट क्षेत्रों में से बड़ी मात्रा में पहलवानों ने शिरकत की और पहलवानी के जौहर दिखाए। झंडी वाली कुश्ती विजय कुमार ने जीती। जबकि विक्रमजीत सिंह उप विजेता रहे। दोनों पहलवानों को ईनाम के रूप में अंगुठी दी गई। इस मौके सरपंच अमरीक सिंह, नंबरदार प्यारे लाल, कुलदीप परमार, संजीव शर्मा, धर्मिंदर सिंह, सोहन सिंह, राम लाल, सतदेव फौजी, जिंदरपाल व अन्य क्षेत्रवासी उपस्थित थे। छिंज मेले के प्रबंधकोे ने कहा कि युवाओं को खेलोंे के प्रति उत्साहित करने के लिए एेसे छिंज मेले करवाए जाने बहुत जरूरी है ताकि समाज को नशा मुक्त बनाया जा सके और युवाओं को खेलों के प्रति उत्साहित और प्रेरित करके उनका विकास किया जा सके।

    बेरोजगार लाइनमेनों को रोजगार दे प्रदेश सरकार : जरनैल जैली

    बेरोजगार लाइनमैन यूनियन ने बैठक में बनाई रणनीति

    भास्कर संवाददाता| रोपड़

    बेरोजगार लाइनमैन यूनियन रोपड़ की मीटिंग राज्य सलाहकार जरनैल सिंह जैली की अध्यक्षता में हुई। जैली ने कहा कि बेरोजगार लाइनमैन रोजगार प्राप्ति के लिए लंबे समय से संघर्ष कर रहे हैं। पिछली अकाली-भाजपा सरकार ने लाइनमैन के संघर्ष के बाद जनवरी 2011 में 5 हजार लाइनमैन भर्ती का विज्ञापन जारी कर काउंसिलिंग के बाद सिर्फ एक हजार लाइनमैन को नियुक्ति पत्र जारी किए। इसके बाद यूनियन को तोड़ने के मकसद से एक हजार अन्य पोस्टें निकालकर भर्ती कर ली गई, जबकि बाकी रहते 4 हजार लाइनमैन आज भी सड़कों पर संघर्ष कर रहे हैं। यूनियन के 2 साथी निराश होकर अपनी जीवन लीला भी खत्म कर चुके हैं।

    जैली ने कहा कि विधानसभा चुनाव से पहले जब बेरोजगार लाइनमैन ने रोजगार के लिए पटियाला में पक्का मोर्चा में लगाया था, तो कांग्रेस की ओर से महारानी परणीत कौर, रजिंदर कौर भट्‌ठल, साधू सिंह बर्मसोत, राजा बडिंग और चरनजीत सिंह चन्नी ने लाइनमैनों की हिमायत करते हुए भूख हड़ताल रखी और भरोसा दिया था कि कांग्रेस की सरकार बनने पर सभी लाइनमैन को पक्का रोजगार मुहैया करवाया जाए। उन्हाेंने कहा कि अब जब कांग्रेस की अगुवाई में सरकार बन गई है, तो लाइनमैन से धोखा करते हुए 1500 सहायक लाइनमैन भर्ती का विज्ञापन जारी कर दिया था। इसका यूनियन ने विरोध किया तो पावरकाॅम मैनेजमेंट जत्थेबंदी के साथ समझौते के मुताबिक उम्र 37 से 42 वर्ष व पोस्टों की संख्या में बढ़ोतरी कर 2800 की गई, लेकिन पुराने साथी मेरिट सूची में फिर शामिल नहीं हुए। इससे उनमें पावरकाॅम व पंजाब सरकार के प्रति रोष है और इसी कारण वे रोष प्रदर्शन का रास्ता अपनाने को मजबूर हो रहे हैं।

    उन्हाेंने कहा कि इसके विरोध में बेरोजगार लाइनमैन यूनियन परिवारों समेत 22 मई को धरना देंगे और सरकार की मुलाजिम विरोधी नीतियों का जमकर विरोध करेंगे। उन्होेंने कहा कि सरकार तुरंत बेरोजगार लाइनमैनों की मांगें मानकर उन्हें राहत दे। इस मौके पर दविंदर लोंगिया, कर्म सिंह, बलजिंदर सिंह, रामपाल आदि मौजूद रहे।

    गांव सहोटा में विजेता पहलवानों को सम्मानित करते कमेटी मेंबर।

  • बच्चों को व्हाट्सएप से दूर रखकर भारतीय संस्कारों की दें प्रेरणा : स्वामी कृपालानंद
    +3और स्लाइड देखें
  • बच्चों को व्हाट्सएप से दूर रखकर भारतीय संस्कारों की दें प्रेरणा : स्वामी कृपालानंद
    +3और स्लाइड देखें
  • बच्चों को व्हाट्सएप से दूर रखकर भारतीय संस्कारों की दें प्रेरणा : स्वामी कृपालानंद
    +3और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nangal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×