Hindi News »Punjab »Nangal» प्लास्टिक नष्ट होने में लग जाते 1000 साल : प्रिं. किरण

प्लास्टिक नष्ट होने में लग जाते 1000 साल : प्रिं. किरण

वेटलैंड में सफाई करते स्टूडेंट्स और अन्य गणमान्य। (दाएं) बीट द प्लास्टिक पॉलिथीन मुहिम की जानकारी देते मास्टर...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 26, 2018, 03:00 AM IST

  • प्लास्टिक नष्ट होने में लग जाते 1000 साल : प्रिं. किरण
    +1और स्लाइड देखें
    वेटलैंड में सफाई करते स्टूडेंट्स और अन्य गणमान्य। (दाएं) बीट द प्लास्टिक पॉलिथीन मुहिम की जानकारी देते मास्टर सुधीर। -भास्कर

    स्टूडेंट्स ने नंगल वेटलैंड पर स्वच्छता अभियान के तहत की सफाई

    भास्कर संवाददाता| नंगल सिटी

    सरकारी स्कूल लड़के में प्लास्टिक हटाओ वातावरण बचाओ मुहिम के तहत प्रिं. किरण शर्मा की अध्यक्षता में कार्यक्रम करवाया। विद्यार्थियों ने नंगल वेटलैंड पर जाकर वहां बिखरे पॉलिथीन की साफ-सफाई की। स्कूल में आए हुए मेहमानों ने वातावरण को बचाने के लिए अपने विचार रखे। डॉ. जिंदल ने बताया कि इस बार भारत का वातावरण बचाओ थीम ‘बीट द प्लास्टिक पॉलिथीन’ है तथा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर वातावरण कॉन्फ्रेंस नई दिल्ली में हो रही है।

    उन्होंने कहा कि पॉलिथीन पेट्रोकेमिकल से बने होने के चलते इनके पूरी तरह से नष्ट होने में एक हजार वर्ष तक का समय लग जाता है। उन्होंने इस मौके पर लोगों को पॉलिथीन को कम से कम उपयोग करने की अपील की। उन्होंने कहा कि पालिथीन का इस्तेमाल यदि बिल्कुल बंद कर दिया जाए तो एक ओर तो स्वच्छता कायम होगी और दूसरी और सीवरेज जाम की समस्या से भी निजात मिलेगी। उन्होंने कहा कि पालिथीन रोड पर बिखरा होने के कारण पशु भी इसे खा लेते हैं जो उनकी जान के लिए गंभीर खतरा पैदा करते हैं। इसलिए सभी लोग संकल्प लें कि वे पालीथीन का इस्तेमाल नहीं करेंगे और स्वच्छ भारत मुहिम को सफल बनाने में अपना योगदान देंगे। उन्होंेने सभी स्टूडेंट्स को लोगों को जागरूक करने को कहा ताकि सभी मिलकर स्वच्छता अभियान को सफल बना सके और भारत एक स्वच्छ देश के रूप में दुिनया में अपनी पहचान बना सके। उन्होंने कहा कि यदि हम सभी मिलकर स्वच्छता अभियान को सफल बनाने का प्रयास करें तो तभी स्वच्छता कायम होगी।

    इस कार्यक्रम में विशेष रूप से डॉ. आरएन जिंदल, डॉ. एसके सक्सेना, डॉ. रूपाली, डॉ. हरदीप कौर, इंजीनियर निरंजन सिंह, बीडी वशिष्ठ, डॉ. जीएस चड्ढा, कंचन, मंगला, अमरजीत कौर, तेजिंदर सिंह, सुधीर कुमार और अन्य गणमान्य भी मौजूद थे।

  • प्लास्टिक नष्ट होने में लग जाते 1000 साल : प्रिं. किरण
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nangal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×