--Advertisement--

फोन पर लालच देकर ठगे 33 लाख

भास्कर संवाददाता | बंगा सिटी फोन कॉलिंग के जरिए इंश्योरेंस कंपनियों में पैसे जमा करवाने के नाम पर धोखाधड़ी करने...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:50 AM IST
भास्कर संवाददाता | बंगा सिटी

फोन कॉलिंग के जरिए इंश्योरेंस कंपनियों में पैसे जमा करवाने के नाम पर धोखाधड़ी करने के मामले में बंगा सिटी पुलिस ने एक दंपति के खिलाफ केस दर्ज किया है। आरोपी पहले भी किसी मामले में नामजद बताए गए हैं।

गांव हकीमपुर के रहने वाले अमरजीत सिंह ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि उन्हें दिसंबर 2014 में एक फोन आया, जिसे करने वाले ने बताया कि उनकी एक इंश्योरेंस पॉलिसी का बोनस आया है और उस बोनस को प्राप्त करने के लिए उन्हें इनकम टैक्स जमा करवाना होगा। इस पर फोन करने वाले व्यक्ति ने उन्हें बातों में ले लिया और उनसे कुछ पैसे एक खाते में जमा करवा लिए। इसके बाद अलग अलग नंबरों से उन्हें फोन आते रहे और लालच देकर पॉलिसियों के नाम पर उनके पैसे जमा करवाए जाते रहे। आरोपियों ने उनसे करीब 33 लाख रुपए की ठगी कर ली। पुलिस ने इस मामले में अमरजीत सिंह के बयान पर दिल्ली के न्यू अशोक नगर निवासी सुनील कुमार व उसकी प|ी संध्या के खिलाफ आईपीसी की धारा 420, 120बी के तहत मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। बता दें कि कुछ समय पहले भी पुलिस ने इसी तरह का एक और मामला दर्ज किया था, जिसमें आरोपियों ने करीब 68 लाख रुपए की ठगी कर ली थी।

फोन पर लालच में न फंसें लोग : राणा

नवांशहर | अगर कोई फोन करके पैसे को किसी भी जरिए से दोगुना करने यौ इंश्योरेंस में पैसे लगाने का लालच दे तो लोगों को बचना चाहिए। फोन पर ठगी के केस आम हो गए है। साइबर एक्सपर्ट इंजीनियर रघुबीर राणा ने कहा कि फोन काॅल के बाद बैंक खातों में जब पैसे जमा करवाने की बात की जाती है तो उससे साफ हो जाता है कि काॅल धोखाधड़ी करने के लिए की गई है। कोई भी बैंक या कंपनी बिना अपने प्रतिनिधि भेजे पैसे जमा करवाने के लिए नहीं कहती। अगर फोन पर कोई बैंक खाते की जानकारी मांगता है तो उसे कुछ न बताएं।