Hindi News »Punjab »Nawashahar» इंटर स्टेट 50 हजार रुपए से ज्यादा माल भेजने पर ई-वे बिल आज से जरूरी

इंटर स्टेट 50 हजार रुपए से ज्यादा माल भेजने पर ई-वे बिल आज से जरूरी

जीएसटी के तहत काम करने वाले डीलरों के लिए अब इंटर स्टेट व्यापार करने के लिए ई-वे बिल जरूरी हो गया है। एक फरवरी के बाद...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 02:55 AM IST

जीएसटी के तहत काम करने वाले डीलरों के लिए अब इंटर स्टेट व्यापार करने के लिए ई-वे बिल जरूरी हो गया है। एक फरवरी के बाद अब कोई भी व्यापारी 50 हजार से अधिक कीमत का माल बिना ई-वे बिल के प्रदेश से बाहर नहीं भेज सकेगा। यानि इंटर स्टेट व्यापार के लिए ई-वे बिल लागू हो गया गया है, जबकि इंट्रा स्टेट के लिए अभी दो महीने राहत रहेगी।

सहायक एक्साइज एंड टेक्सेशन कमिश्नर एएस कंग ने बताया कि व्यापारियों व कर सलाहकारों को सेमिनारों लगाकर जानकारी दी जा चुकी है। ई-वे बिल का ट्रायल 15 दिन पहले ही शुरू कर दिया गया था, जिसके तहत सरकार ने डीलरों को कहा था कि वे इसका इस्तेमाल शुरू कर दें ताकि एक फरवरी से दिक्कत न हो। एक फरवरी के बाद इस मामले में गलती पकड़े जाने पर पेनाल्टी व जुर्माने का प्रावधान भी रहेगा। उन्होंने बताया कि जिले में कुल 3000 हजार डीलर जीएसटी के अधीन रजिस्टर्ड हैं। क्यू आर कोड हर ई-वे बिल पर प्रिंट रहेगा।

ई-वे बिलिंग को लेकर शहर के अकाउंटेंट्स ने चर्चा की।

वेबसाइट पर व्यापारी करें ई-वे बिल जनरेट

व्यापारी ई-वे बिल लैपटाप, कंप्यूटर या फिर अपने फोन आदि के ब्राउजर का उपयोग करके निकाल सकते हैं। मोबाइल फोन पर एप का प्रयोग या रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एसएमएस के माध्यम से भी ई-वे बिल जनरेट किया जा सकता है। ई-वे बिल का टूल आधारित थोक जेनरेशन भी हो सकता है। लेकिन ई-वे बिल की साइट पर जाकर इसे जनरेट करना ही सबसे अधिक सुरक्षित है।

व्यापारी बिना हिचक लें जानकारी : अकाउंटेंट एसो.

नवांशहर अकाउंटेंट्स एसोसिएशन ने ई-वे बिल को लेकर एक बैठक की और सभी व्यापारियों से अपील की कि एक फरवरी से शुरू हो रहे ई-वे बिल को ध्यान में रखते हुए ही बिलिंग करें। 50 हजार या इससे अधिक की बिलिंग की सूरत में ई-वे-बिल को लेकर किए गए प्रावधानों को ध्यान में रखें। मौके पर मनोज कंडा, सुरेश शर्मा, मनोज जगपाल, हतिंदर खन्ना, मुकुल, हरीश सोबती, पवन भारद्वाज, अजय अरोड़ा आदि उपस्थित थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nawashahar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×