Hindi News »Punjab News »Nawanshahr News» आया जन्म दिहाड़ा श्री गुरु रविदास दा-आपां हर साल एदां ही मनाणा

आया जन्म दिहाड़ा श्री गुरु रविदास दा-आपां हर साल एदां ही मनाणा

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 02:55 AM IST

नवांशहर | तोही मोही मोही तोही अंतरु कैसा।। कनक कटिक जल तरंग जैसा...शबद की गूंज में श्री गुरु रविदास महाराज के 641 वें...
नवांशहर | तोही मोही मोही तोही अंतरु कैसा।। कनक कटिक जल तरंग जैसा...शबद की गूंज में श्री गुरु रविदास महाराज के 641 वें प्रकाश पर्व की खुशी मनाने के लिए नवांशहर, राहों, बहराम, कटारियां और बलाचौर में विशाल शोभायात्रा निकाली गई। गुरु रविदास जी के जीवन पर आधारित झांकियां संगत के लिए श्रद्घा का केंद्र रहीं। संगत ने मेरे नैना विच्च गुरु रविदास बसेया.., गुरु रविदास दी बानी पढ़ेया कर जीवन तर जाएगा...आदि भजन गाकर धार्मिक वातावरण बना दिया। बुधवार देर रात को मास्टर सलीम व अन्य कलाकार गुरु की महिमा का गुणगान करेंगे। 1 फरवरी को सहज पाठों के भोग डाले जाएंगे तथा गुरु की महिमा का गुणगान विजय हंस, भाई ओंकार सिंह, पम्मी परदेसी करेंगे। संगत के लिए लंगर भी लगाया जाएगा। खबर पेज 4 पर

श्री खुरालगढ़ साहिब

यहीं गुरु रविदास महाराज ने निकाली थी ‘चरण गंगा’

पड़ोसी जिला होशियारपुर के गढ़शंकर स्थित गुरुद्वारा खुरालगढ़ में 15वीं ई में उदासी दौरान श्री गुरु रविदास महाराज जी यहीं आए थे। उस समय वहां राजा बैन की रियासत थी। गुरु जी उस जगह पर बाबा धन्ना और बाबा बेबीयन के घर ठहरे। राजा बैन ने उन्हें धर्म का प्रचार करने के कारण चक्की पीसने की सजा दी, लेकिन एक साल तक चक्की अपने आप ही चली। राजा यह सब देखकर उनके अनुयायी हो गए। उस स्थान पर उस समय एक कच्चा मंदिर था, जिसे राजा ने पक्का करवाया। गुरु जी इस स्थान पर चार साल दो महीने, 11 दिन तक ठहरे। इस स्थान पर गुरुद्वारा खुरालगढ़ बनाया गया। राजा ने उनसे कहा कि उनके राज्य में पानी की बहुत कमी है। गुरु जी ने उस स्थान से थोड़ी दूर रेत से पत्थर हटाया तो वहां से पानी का चश्मा फूट पड़ा। उस स्थान पर गुरुद्वारा चरण गंगा का निर्माण किया गया और जहां आज उस पानी का सरोवर बनाया गया है। उसे चरण गंगा सरोवर कहा जाता है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Nawanshahr News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: आया जन्म दिहाड़ा श्री गुरु रविदास दा-आपां हर साल एदां ही मनाणा
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      More From Nawashahar

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×