--Advertisement--

ऐसा चाहूं राज मैं, जहां मिले सबन को अन्न

श्री गुरु रविदास जयंती के उपलक्ष्य में शहर में निकाली गई भव्य शोभायात्रा से पूरे शहर का वातावरण भक्तिमय हो गया।...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:55 AM IST
ऐसा चाहूं राज मैं, जहां मिले सबन को अन्न
श्री गुरु रविदास जयंती के उपलक्ष्य में शहर में निकाली गई भव्य शोभायात्रा से पूरे शहर का वातावरण भक्तिमय हो गया। नगर कीर्तन में विभिन्न प्रकार की बैंड पार्टियां, ढोल ताशे, गतका पार्टियां, कीर्तनी जत्थे, डांडिया खेलती युवतियां, भंगड़ा डालते युवक, आरती उतारती कन्याएं तथा ट्रालियों पर डीजे की धुनों पर झूमते युवा चल रहे थे। श्री गुरु रविदास जी के जीवन पर निर्मित सुंदर झांकियां भी संगत के लिए श्रद्घा का केंद्र बनी रही। संगत के लिए विभिन्न प्रकार के लंगर रास्ते में लगाए गए थे।

शोभायात्रा श्री गुरु ग्रंथ साहिब की अगुवाई व माहिल गहिला के बाबा शाम दास जी देखरेख में निकाली गई जिसके अन्तर्गत रविदास नगर में झंडा लहराने की रस्म राजेश कुमार बाली ने की, नगर कीर्तन का शुभारंभ प्रिं. प्रवीन कौर ने जबकि रथ का शुभारंभ सतनाम गंगड ने किया। नगर कीर्तन रविदास नगर, वाल्मीकि नगर, गीता भवन रोड, कोठी रोड, मठारु रोड, बंगा रोड, गुरु तेग बहादुर नगर से गढ़शंकर रोड, टाहली साहिब, अंबेडकर चौंक, चंडीगढ़ चौक, नेहरू गेट, रेलवे रोड से होता हुआ वापिस श्री गुरु रविदास मंदिर में ही संपन्न हुआ। श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी की सुशोभित सुंदर पालकी के आगे श्री गुरु रविदास सेवादार क्लब सभा के सदस्य सफाई कर रहे थे।

संगत मेरे नैना विच्च गुरु रविदास बसेया.., गुरु रविदास दी बानी पढेया कर जीवन तर जाएगा..,सुना कर शहर में धार्मिक वातावरण बना दिया । मीराबाई, परी, कंगन देते गंगा जी का हाथ, अपने आप चलती चक्की की सुंदर झांकियां आकर्षण का केंद्र रही। श्री गुरु रविदास मंदिर में आरती उतारने के बाद शोभा यात्रा संपन्न हुई।

इस मौके पर विधायक अंगद सिंह, हरी पाल, सुदेश बाली, नरेश कुमार, सोम नाथ, ज्ञान चंद, हरी कृष्ण बाली, पूर्व पार्षद पिरथी चंद, सोहन लाल दीवाना, हरमेश लंगड़ोआ, हरे राम कैंथ, गोवर्धन पाली, मनीश कुमार बिल्ला, धार्मिक उत्सव कमेटी के प्रधान एडवोकेट जेके दत्ता, संजीव दुग्गल, अश्वनी बलग्गन, कर्ण दीवान, पूनम मानिक आदि उपस्थित थे।

प्रबंधक कमेटी के प्रधान हरी पाल ने बताया कि बुधवार देर रात को मास्टर सलीम व अन्य कलाकार गुरु की महिमा का गुणगान करेंगे। 1 फरवरी को सहज पाठों के भोग डाले जाएंगे तथा गुरु की महिमा का गुणगान विजय हंस, भाई ओंकार सिंह, पम्मी परदेसी करेंगे। संगत के लिए लंगर भी लगाया जाएगा। उन्होेने कहा कि सारी संगत सपरिवार इस धार्मिक आयोजन में शामिल होकर गुरु रविदास महाराज का आशीर्वाद हासिल करे और जीवन में सुख, समृद्धि और खुशहाली की अरदास करे व सरबत के भले की कामना करे।

नवांशहर में शोभायात्रा में बच्चों की ओर से तैयार की गई मीरा बाई, परियों व चलती चक्की की झांकी। (दाएं) शोभायात्रा में शामिल गणमान्य।

X
ऐसा चाहूं राज मैं, जहां मिले सबन को अन्न
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..