Hindi News »Punjab News »Nawanshahr News» डीसी के कर्मचारियों ने फिर की हड़ताल

डीसी के कर्मचारियों ने फिर की हड़ताल

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 02:55 AM IST

पेंशन बहाली और नई भर्ती सहित अन्य मांगों को लेकर डीसी आॅफिस के कर्मचारियों ने वीरवार को दोबारा कलम छोड़ हड़ताल...
पेंशन बहाली और नई भर्ती सहित अन्य मांगों को लेकर डीसी आॅफिस के कर्मचारियों ने वीरवार को दोबारा कलम छोड़ हड़ताल करके सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। तहसील, एसडीएम दफ्तर काम करवाने के लिए आए लोगों को हड़ताल की वजह से बेरंग लौटना पड़ा।

डीसी ऑफिस कर्मचारी यूनियन के अध्यक्ष बहादुर सिंह और चेयरमैन हरविंदर सिंह ने बताया कि सरकार उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दे रही है। इसको लेकर कर्मचारी दो दिन की हड़ताल पर चले गए। उन्होंने बताया कि ऑफिस में स्टाफ की कमी है, जिसे सरकार लंबे समय से नजरअंदाज कर रही है। उन्होंने साल 2004 से बंद पेंशन को दोबारा बहाल करने, खाली पोस्टें जल्द भरने, कर्मचारियों को प्रमोशन देने, एसीपी स्कीम तहत हायर पे स्केल देने, सुपरिटेंडेंट ग्रेड वन की उन्नति के लिए तुरंत डीपीएस की बैठक बुलाए जाने, सुपरिटेंडेंट तहसीलदार की पदोन्नति के लिए 5 वर्ष की शर्त घटा कर दो साल करने के लिए नोटिफिकेशन जारी करने की मांग लंबे समय से पड़ी, जिसको पूरा किया जाए। कर्मचारी नेताओं ने कहा कि डीसी ऑफिस में 213 में से 86 पोस्टें अभी भी खाली हैं। पांच पोस्टें सीनियर असिस्टेंट की हैं, जिन पर अभी तक किसी को नियुक्त नहीं किया गया। 127 पदों पर कार्यरत कर्मचारियों को दो से लेकर चार विभागों की अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंपी गई है। इस दौरान जनरल सेक्रेटरी संत राम, सतनाम सिंह, गुरिंदर कुमार, बहादुर सिंह, शाम सुंदर, अमनीश कुमार, मलकीत सिंह, जतिंदर पाल, अरुण कुमार, रोबिन शर्मा, तरसेम सिंह, निर्मल दास, आशा रानी, विजय कुमार, अमनदीप, तरलोचन सिंह, शिव कुमार, सुखविंदर सिंह मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Nawanshahr News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: डीसी के कर्मचारियों ने फिर की हड़ताल
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From Nawashahar

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×